• `लक्ष्मण रेखा` दुष्ट के दिमाग में होती है, लड़की के चरित्र में नहीं।
    "लक्ष्मण रेखा" दुष्ट के दिमाग में होती है, लड़की के चरित्र में नहीं।
    ~ MP Singh
  • दुनिया की सभी प्यारी पुत्रियों को समर्पित:<br /><br />
बेटा वारिस है तो बेटी पारस है;<br />
बेटा वंश है तो बेटी अंश है;<br />
बेटा आन है तो बेटी शान है;<br />
बेटा तन है तो बेटी मन है;<br />
बेटा मान है तो बेटी गुमान है;<br />
बेटा संस्कार है तो बेटी संस्कृति है;<br />
बेटा दवा है तो बेटी दुआ है;<br />
बेटा भाग्य है तो बेटी विधाता है;<br />
बेटा शब्द है तो बेटी अर्थ है;<br />
बेटा गीत है तो बेटी संगीत है;<br />
बेटा प्रेम है तो बेटी पूजा है।
    दुनिया की सभी प्यारी पुत्रियों को समर्पित:

    बेटा वारिस है तो बेटी पारस है;
    बेटा वंश है तो बेटी अंश है;
    बेटा आन है तो बेटी शान है;
    बेटा तन है तो बेटी मन है;
    बेटा मान है तो बेटी गुमान है;
    बेटा संस्कार है तो बेटी संस्कृति है;
    बेटा दवा है तो बेटी दुआ है;
    बेटा भाग्य है तो बेटी विधाता है;
    बेटा शब्द है तो बेटी अर्थ है;
    बेटा गीत है तो बेटी संगीत है;
    बेटा प्रेम है तो बेटी पूजा है।
  • तारो में अकेला चाँद जगमगाता है;<br />
मुश्किलो में अकेला इंसान डगमगाता है;<br />
कांटों से मत घबराना कभी, ऐ दोस्त;<br />
क्योंकि कांटों में अकेला गुलाब मुस्कुराता है!
    तारो में अकेला चाँद जगमगाता है;
    मुश्किलो में अकेला इंसान डगमगाता है;
    कांटों से मत घबराना कभी, ऐ दोस्त;
    क्योंकि कांटों में अकेला गुलाब मुस्कुराता है!
  • किसी की बुराई तलाश करने वाले इंसान की मिसाल उस 'मक्खी' जैसी है जो सारे खूबसूरत बदन को छोड़कर, केवल 'जख्मों' पर ही बैठती है!
    किसी की बुराई तलाश करने वाले इंसान की मिसाल उस 'मक्खी' जैसी है जो सारे खूबसूरत बदन को छोड़कर, केवल 'जख्मों' पर ही बैठती है!
  • ख्वाहिश ऐसी करो कि आसमान तक जा सको;<br />
दुआ ऐसी करो कि खुदा को पा सको;<br />
यूं तो जीने के लिए पल बहुत कम हैं;<br />
जियो ऐसे कि हर पल में ज़िन्दगी पा सको!
    ख्वाहिश ऐसी करो कि आसमान तक जा सको;
    दुआ ऐसी करो कि खुदा को पा सको;
    यूं तो जीने के लिए पल बहुत कम हैं;
    जियो ऐसे कि हर पल में ज़िन्दगी पा सको!
  • जवानी को जिंदगी की निखार कहते हैं;<br />
पतझड़ को चमन का मजधार कहते हैं;<br />
अजीब चलन है, दुनियां का यारों;<br />
एक धोखा है, जिसे हम सब 'प्यार' कहते हैं!
    जवानी को जिंदगी की निखार कहते हैं;
    पतझड़ को चमन का मजधार कहते हैं;
    अजीब चलन है, दुनियां का यारों;
    एक धोखा है, जिसे हम सब 'प्यार' कहते हैं!
  • अश्कों को आँखों की दहलीज पर लाया न करो;<br />
अपने दिल का हाल किसी को बताया न करो;<br />
लोग मुट्ठी भर नमक लिए घूमा करते हैं;<br />
अपने ज़ख़्म किसी को दिखाया न करो!
    अश्कों को आँखों की दहलीज पर लाया न करो;
    अपने दिल का हाल किसी को बताया न करो;
    लोग मुट्ठी भर नमक लिए घूमा करते हैं;
    अपने ज़ख़्म किसी को दिखाया न करो!
  • इंसान ने एक बार खुदा से पूछा, `रिश्तों का असली मतलब क्या होता है?`<br />
खुदा ने हंसकर कहा, `जो मतलब के लिए बनाया जाये वो रिश्ता नहीं होता है!
    इंसान ने एक बार खुदा से पूछा, "रिश्तों का असली मतलब क्या होता है?"
    खुदा ने हंसकर कहा, "जो मतलब के लिए बनाया जाये वो रिश्ता नहीं होता है!
  • जो जिंदगी को कोसते हैं, जिंदगी उनसे कोसों दूर भागती है!
    जो जिंदगी को कोसते हैं, जिंदगी उनसे कोसों दूर भागती है!
  • डाली पर बैठे हुए परिंदे को मालूम है कि डाली कमज़ोर है;<br />
फिर भी वो उस डाली पर बैठता है;<br />
क्योंकि उसको डाली से ज्यादा अपने 'पंख' पर भरोसा है!
    डाली पर बैठे हुए परिंदे को मालूम है कि डाली कमज़ोर है;
    फिर भी वो उस डाली पर बैठता है;
    क्योंकि उसको डाली से ज्यादा अपने 'पंख' पर भरोसा है!