• हम अपना दर्द किसी को कहते नही;<br/>
वो सोचते हैं कि हम तन्हाई सहते नहीं;<br/>
आँखों से आँसू निकले भी तो कैसे;<br/>
क्योंकि सूखे हुए दरिया कभी बहते नहीं।Upload to Facebook
    हम अपना दर्द किसी को कहते नही;
    वो सोचते हैं कि हम तन्हाई सहते नहीं;
    आँखों से आँसू निकले भी तो कैसे;
    क्योंकि सूखे हुए दरिया कभी बहते नहीं।
  • ये प्यार की बातें किताबों में ही अच्छी लगती हैं;<br/>
तन्हाई भरी महफ़िल दर्दे दिल से ही सजती है;<br/>
तुम तो कर गए एक पल में पराया;<br/>
तेरी यादें ही हैं जो हमें अपनी लगती हैं।Upload to Facebook
    ये प्यार की बातें किताबों में ही अच्छी लगती हैं;
    तन्हाई भरी महफ़िल दर्दे दिल से ही सजती है;
    तुम तो कर गए एक पल में पराया;
    तेरी यादें ही हैं जो हमें अपनी लगती हैं।
  • वो देता है दर्द बस हमी को;<br/>
क्या समझेगा वो इन आँखों की नमी को;<br/>
लाखों दीवाने हों जिस के;<br/>
वो क्या महसूस करेगा एक हमारी कमी को।Upload to Facebook
    वो देता है दर्द बस हमी को;
    क्या समझेगा वो इन आँखों की नमी को;
    लाखों दीवाने हों जिस के;
    वो क्या महसूस करेगा एक हमारी कमी को।
  • हर चेहरे पर गुमान उसका था;<br/>
बसा ना सका खाली मकान उसका था;<br/>
लाखों दर्द मिट गए दिल से लेकिन;<br/>
जो मिट ना सका वो एक नाम उसका था।Upload to Facebook
    हर चेहरे पर गुमान उसका था;
    बसा ना सका खाली मकान उसका था;
    लाखों दर्द मिट गए दिल से लेकिन;
    जो मिट ना सका वो एक नाम उसका था।
  • दिल नहीं लगता आपको देखे बिना;<br/>
दिल नहीं लगता आपके बारे में सोचे बिना;<br/>
आँखें भर आती हैं यह सोच कर;<br/>
कि किस हाल में होंगे आप हमारे बिना।Upload to Facebook
    दिल नहीं लगता आपको देखे बिना;
    दिल नहीं लगता आपके बारे में सोचे बिना;
    आँखें भर आती हैं यह सोच कर;
    कि किस हाल में होंगे आप हमारे बिना।
  • बहुत चाहा पर उन्हें भुला ना सके;<br/>
ख्यालों में किसी और को ला ना सके;<br/>
किसी को देख कर आंसू तो पोंछ लिए;<br/>
पर किसी को देख कर हम मुस्कुरा ना सके।Upload to Facebook
    बहुत चाहा पर उन्हें भुला ना सके;
    ख्यालों में किसी और को ला ना सके;
    किसी को देख कर आंसू तो पोंछ लिए;
    पर किसी को देख कर हम मुस्कुरा ना सके।
  • थक गए हम उनका इंतज़ार करते-करते;<br/>
रोए हज़ार बार खुद से तकरार करते-करते;<br/>
दो शब्द उनकी ज़ुबान से निकल जाते कभी;<br/>
और टूट गए हम एक तरफ़ा प्यार करते-करते।Upload to Facebook
    थक गए हम उनका इंतज़ार करते-करते;
    रोए हज़ार बार खुद से तकरार करते-करते;
    दो शब्द उनकी ज़ुबान से निकल जाते कभी;
    और टूट गए हम एक तरफ़ा प्यार करते-करते।
  • रात इतनी हसीन थी कि सारे सो रहे थे;<br/>

हम ही ऐसे बदनसीब थे, जो आपकी याद में रो रहे थे।Upload to Facebook
    रात इतनी हसीन थी कि सारे सो रहे थे;
    हम ही ऐसे बदनसीब थे, जो आपकी याद में रो रहे थे।
  • ग़म में हँसने वालों को कभी रुलाया नहीं जाता;<br/>
लहरों से पानी को हटाया नहीं जाता;<br/>
होने वाले हो जाते हैं खुद ही दिल से जुदा;<br/>
किसी को जबर्दस्ती दिल में बसाया नहीं जाता।Upload to Facebook
    ग़म में हँसने वालों को कभी रुलाया नहीं जाता;
    लहरों से पानी को हटाया नहीं जाता;
    होने वाले हो जाते हैं खुद ही दिल से जुदा;
    किसी को जबर्दस्ती दिल में बसाया नहीं जाता।
  • बिताए हुए कल में आज को ढूँढता हूँ;<br/>
सपनों में सिर्फ आपको देखता हूँ;<br/>
क्यों हो गए आप मुझसे दूर, यह सोचता हूँ;<br/>
तन्हा, यारों से छुपकर रोता हूँ।Upload to Facebook
    बिताए हुए कल में आज को ढूँढता हूँ;
    सपनों में सिर्फ आपको देखता हूँ;
    क्यों हो गए आप मुझसे दूर, यह सोचता हूँ;
    तन्हा, यारों से छुपकर रोता हूँ।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT