• वो दिल ही क्या जो वफ़ा ना करे;<br />
तुझे भूल कर जिएं कभी खुदा ना करे;<br />
रहेगी तेरी दोस्ती मेरी जिंदगी बन कर;<br />
वो बात और है, अगर जिंदगी वफ़ा ना करे!
    वो दिल ही क्या जो वफ़ा ना करे;
    तुझे भूल कर जिएं कभी खुदा ना करे;
    रहेगी तेरी दोस्ती मेरी जिंदगी बन कर;
    वो बात और है, अगर जिंदगी वफ़ा ना करे!
  • समुन्दर की ख़ामोशी, उसकी गहराई बताती है;<br />
दोस्तों की कमी, अपनी तन्हाई बताती है;<br />
वैसे तो दोस्त हमेशा प्यारे होते हैं;<br />
पर उनकी कीमत उनकी जुदाई बताती है!
    समुन्दर की ख़ामोशी, उसकी गहराई बताती है;
    दोस्तों की कमी, अपनी तन्हाई बताती है;
    वैसे तो दोस्त हमेशा प्यारे होते हैं;
    पर उनकी कीमत उनकी जुदाई बताती है!
  • जिसका वजूद नहीं, वह हस्ती किस काम की;<br />
जो मजा न दे, वह मस्ती किस काम की;<br />
जहा दिल न लगे, वो बस्ती किस काम की;<br />
हम आपको याद न करें, तो फिर हमारी दोस्ती किस काम की!
    जिसका वजूद नहीं, वह हस्ती किस काम की;
    जो मजा न दे, वह मस्ती किस काम की;
    जहा दिल न लगे, वो बस्ती किस काम की;
    हम आपको याद न करें, तो फिर हमारी दोस्ती किस काम की!
  • खुदा ने कहा दोस्ती न कर, दोस्ती में तु खो जायेगा;<br />
मैंने कहा, `ए खुदा जमीन पर आकर मेरे दोस्त से तो मिल, तु भी उस पर फ़ना हो जाएगा`!
    खुदा ने कहा दोस्ती न कर, दोस्ती में तु खो जायेगा;
    मैंने कहा, "ए खुदा जमीन पर आकर मेरे दोस्त से तो मिल, तु भी उस पर फ़ना हो जाएगा"!
  • दोस्ती गुनाह है, तो होने मत देना;<br />
दोस्ती खुदा है, तो खोने मत देना;<br />
जब करना दोस्ती किसी से कभी;<br />
तो उस दोस्त को, रोने मत देना!
    दोस्ती गुनाह है, तो होने मत देना;
    दोस्ती खुदा है, तो खोने मत देना;
    जब करना दोस्ती किसी से कभी;
    तो उस दोस्त को, रोने मत देना!
  • जिंदगी नहीं हमें दोस्तों से प्यारी!<br />
दोस्तों पर हाजिर है, जान हमारी!<br />
आँखों में हमारी आंसू हैं तो क्या;<br />
जान से भी प्यारी है मुस्कान तुम्हारी!
    जिंदगी नहीं हमें दोस्तों से प्यारी!
    दोस्तों पर हाजिर है, जान हमारी!
    आँखों में हमारी आंसू हैं तो क्या;
    जान से भी प्यारी है मुस्कान तुम्हारी!
  • कौन कहता है दोस्त, तुमसे हमारी जुदाई होगी;<br />
ये खबर किसी और ने उड़ाई होगी;<br />
शान से रहेंगे हम आपके दिल में;<br />
दोस्ती के इस खेल में हमने;<br />
कुछ तो जगह बनाई होगी!
    कौन कहता है दोस्त, तुमसे हमारी जुदाई होगी;
    ये खबर किसी और ने उड़ाई होगी;
    शान से रहेंगे हम आपके दिल में;
    दोस्ती के इस खेल में हमने;
    कुछ तो जगह बनाई होगी!
  • लोग कहते हैं कि इतनी दोस्ती मत करो की दोस्ती दिल पर सवार हो जाए!<br />
हम कहते हैं कि दोस्ती इतनी करो की दुश्मन को भी तुमसे प्यार हो जाए!
    लोग कहते हैं कि इतनी दोस्ती मत करो की दोस्ती दिल पर सवार हो जाए!
    हम कहते हैं कि दोस्ती इतनी करो की दुश्मन को भी तुमसे प्यार हो जाए!
  • मत ढूढ़ ऍय दोस्त, कमजोरियां मुझमें;<br />
तु भी तो शामिल है, मेरी कमजोरियों में!
    मत ढूढ़ ऍय दोस्त, कमजोरियां मुझमें;
    तु भी तो शामिल है, मेरी कमजोरियों में!
  • बहुत खूबसुरत है, यह साथ तुम्हारा;<br />
बना दीजिये इससे किस्मत हमारी;<br />
उसे और क्या चाहिए दुनिया में;<br />
जिसे मिल गयी हो, दोस्ती तुम्हारी!
    बहुत खूबसुरत है, यह साथ तुम्हारा;
    बना दीजिये इससे किस्मत हमारी;
    उसे और क्या चाहिए दुनिया में;
    जिसे मिल गयी हो, दोस्ती तुम्हारी!