• स्वयं को पहचान, तुझ में शक्ति अपार है;<br/>
स्वयं को नमन कर और आगे बढ़ चल;<br/>
ठोकर मार उसे जो तेरा सम्मान करना न जाने;<br/>
बढ़ चल, बढ़ चल, नई राहें तेरा रस्ता तके हैं;<br/>
तेरे आंचल में हैं अपार खुशियां, क्योंकि सिर्फ आज नहीं हर रोज़ तेरा दिन है।<br/>
महिला दिवस की शुभ कामनायें!Upload to Facebook
    स्वयं को पहचान, तुझ में शक्ति अपार है;
    स्वयं को नमन कर और आगे बढ़ चल;
    ठोकर मार उसे जो तेरा सम्मान करना न जाने;
    बढ़ चल, बढ़ चल, नई राहें तेरा रस्ता तके हैं;
    तेरे आंचल में हैं अपार खुशियां, क्योंकि सिर्फ आज नहीं हर रोज़ तेरा दिन है।
    महिला दिवस की शुभ कामनायें!
  • मुस्कराकर, दर्द भुलाकर,<br/>
रिश्तों में बंद थी दुनिया सारी,<br/>
हर पग को रोशन करने वाली,<br/>
वो शक्ति हैं एक नारी।<br/>
महिला दिवस की शुभ कामनायें!Upload to Facebook
    मुस्कराकर, दर्द भुलाकर,
    रिश्तों में बंद थी दुनिया सारी,
    हर पग को रोशन करने वाली,
    वो शक्ति हैं एक नारी।
    महिला दिवस की शुभ कामनायें!
  • दुनिया की पहचान है औरत;<br/>
दुनिया पर एहसान है औरत;<br/>
हर घर की जान है औरत;<br/>
बेटी, माँ, बहन, भाभी बनकर,<br/>
घर-घर की शान है औरत;<br/>
ना समझो इसको तुम कमज़ोर कभी, ये है रिश्तों की डोर;<br/>
मर्यादा और सम्मान है औरत।<br/>
महिला दिवस की शुभ कामनायें!Upload to Facebook
    दुनिया की पहचान है औरत;
    दुनिया पर एहसान है औरत;
    हर घर की जान है औरत;
    बेटी, माँ, बहन, भाभी बनकर,
    घर-घर की शान है औरत;
    ना समझो इसको तुम कमज़ोर कभी, ये है रिश्तों की डोर;
    मर्यादा और सम्मान है औरत।
    महिला दिवस की शुभ कामनायें!
  • ऐ औरत तुझे क्या कहूँ तेरी हर बात निराली है;<br/>
तू एक ऐसा पौधा है जिस घर रहे, वहाँ हरियाली ही हरियाली है;<br/>
तेरी शान में सिर्फ इतना कह सकते हैं कि तेरी ऊंचाइयों के सामने आसमान भी नहीं रह सकता है;<br/>
मेरा सिर्फ इतना सा एक पैगाम है, ऐ औरत तुझे मेरा सिर झुका कर सलाम है।<br/>
सभी महिलाओं को महिला दिवस की शुभ कामनायें!Upload to Facebook
    ऐ औरत तुझे क्या कहूँ तेरी हर बात निराली है;
    तू एक ऐसा पौधा है जिस घर रहे, वहाँ हरियाली ही हरियाली है;
    तेरी शान में सिर्फ इतना कह सकते हैं कि तेरी ऊंचाइयों के सामने आसमान भी नहीं रह सकता है;
    मेरा सिर्फ इतना सा एक पैगाम है, ऐ औरत तुझे मेरा सिर झुका कर सलाम है।
    सभी महिलाओं को महिला दिवस की शुभ कामनायें!
  • हेलमेट और पत्नी दोनों का स्वभाव एक जैसा है... सिर पर बिठा कर रखो तो जान बची रहेगी।<br/>
पतियों को समर्पित<br/>
#महिला दिवसUpload to Facebook
    हेलमेट और पत्नी दोनों का स्वभाव एक जैसा है... सिर पर बिठा कर रखो तो जान बची रहेगी।
    पतियों को समर्पित
    #महिला दिवस
  • On a lighter side...<br/>
आज अंतर्राष्ट्रीय पुरुष मौन दिवस है।<br/>
चुप रहें... खुश रहें!Upload to Facebook
    On a lighter side...
    आज अंतर्राष्ट्रीय पुरुष मौन दिवस है।
    चुप रहें... खुश रहें!
  • नारी तुम प्रेम हो, आस्था हो, विश्वास हो;<br/>
टूटी हुई उम्मीदों की एक मात्र आस हो;<br/>
हर जान का तुम ही तो आधार हो;<br/>
नफरत की दुनिया में तुम ही तो प्यार हो;<br/>
उठो अपने अस्तित्व को संभालो;<br/>
केवल एक दिन ही नहीं हर दिन के लिए तुम खास हो।<br/>
महिला दिवस मुबारक हो!Upload to Facebook
    नारी तुम प्रेम हो, आस्था हो, विश्वास हो;
    टूटी हुई उम्मीदों की एक मात्र आस हो;
    हर जान का तुम ही तो आधार हो;
    नफरत की दुनिया में तुम ही तो प्यार हो;
    उठो अपने अस्तित्व को संभालो;
    केवल एक दिन ही नहीं हर दिन के लिए तुम खास हो।
    महिला दिवस मुबारक हो!
  • हे नारी तू सीता के मन में समाई;<br/>
तू राधा के मन में समाई;<br/>
साधू संत जिसे स्वर्ग कहते;<br/>
तू धरती पर वही मुक्ति है।<br/>
महिला दिवस मुबारक हो!Upload to Facebook
    हे नारी तू सीता के मन में समाई;
    तू राधा के मन में समाई;
    साधू संत जिसे स्वर्ग कहते;
    तू धरती पर वही मुक्ति है।
    महिला दिवस मुबारक हो!
  • शक्ति जो दुनिया को आप में दिखाई देती है, <br />
मेरी नजर से देखें तो मुझे आप में दिखाई देता है समर्पण, <br />
समर्पण प्यार का, समर्पण दुलार का, समर्पण सेवा का, <br />
करुणा, दया, संरक्षण, परवाह, सादगी दूसरे नाम हैं आपके।<br />
सभी महिलाओं को महिला दिवस की हार्दिक बधाई!Upload to Facebook
    शक्ति जो दुनिया को आप में दिखाई देती है,
    मेरी नजर से देखें तो मुझे आप में दिखाई देता है समर्पण,
    समर्पण प्यार का, समर्पण दुलार का, समर्पण सेवा का,
    करुणा, दया, संरक्षण, परवाह, सादगी दूसरे नाम हैं आपके।
    सभी महिलाओं को महिला दिवस की हार्दिक बधाई!
  • माँ है वो, बेटी है वो, बहन है वो तो कभी पत्नी है वो;<br />
जीवन के हर सुख दुःख में शामिल है वो;<br />
शक्ति है वो, प्रेरणा है वो!<br />

नमन है उन सब नारियों को जीवन के हर मोड़ पे हमारा साथ देती हैं।<br />
महिला दिवस की बधाई! Upload to Facebook
    माँ है वो, बेटी है वो, बहन है वो तो कभी पत्नी है वो;
    जीवन के हर सुख दुःख में शामिल है वो;
    शक्ति है वो, प्रेरणा है वो!
    नमन है उन सब नारियों को जीवन के हर मोड़ पे हमारा साथ देती हैं।
    महिला दिवस की बधाई!
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT