• हम इतने स्वीट नहीं कि मधुमेह (Diabetic) हो जाए;<br />
ना इतने नमकीन हैं कि ब्लड प्रेसर बढ़ जाए;<br />
और ना इतने स्वादी हैं कि मज़ा आ जाए;<br />
पर इतने कड़वे भी नहीं कि याद ना आयें।
    हम इतने स्वीट नहीं कि मधुमेह (Diabetic) हो जाए;
    ना इतने नमकीन हैं कि ब्लड प्रेसर बढ़ जाए;
    और ना इतने स्वादी हैं कि मज़ा आ जाए;
    पर इतने कड़वे भी नहीं कि याद ना आयें।
  • ना  जाने कैसे जीते हैं लोग प्यार में;<br />
मैं तो कई बार मरता हूँ, तेरी एक याद आने पे।
    ना जाने कैसे जीते हैं लोग प्यार में;
    मैं तो कई बार मरता हूँ, तेरी एक याद आने पे।
  • कल रात चाँद बिलकुल आप जैसा था।<br />
बिलकुल:<br />
वही खूबसूरती<br />
वही नूर<br />
वही गुरूर<br />
और वही, आपकी तरह दूर।<br />
तड़प रहें हैं तेरी याद में।
    कल रात चाँद बिलकुल आप जैसा था।
    बिलकुल:
    वही खूबसूरती
    वही नूर
    वही गुरूर
    और वही, आपकी तरह दूर।
    तड़प रहें हैं तेरी याद में।
  • सागर में गहराई होती है;<br />
यादों में तन्हाई होती है;<br />
इस व्यस्त जिंदगी में कौन किसको याद करता है;<br />
और अगर कोई करता है तो उसकी यादों में सच्चाई होती है।
    सागर में गहराई होती है;
    यादों में तन्हाई होती है;
    इस व्यस्त जिंदगी में कौन किसको याद करता है;
    और अगर कोई करता है तो उसकी यादों में सच्चाई होती है।
  • महक होती तो तितलियाँ बहुत आती;<br />
कोई रोता तो सिसकियाँ ज़रूर आती;<br />
कहने को तो लोग मुझे बहुत याद करते हैं;<br />
मगर याद करते तो हिचकियां जरूर आती।
    महक होती तो तितलियाँ बहुत आती;
    कोई रोता तो सिसकियाँ ज़रूर आती;
    कहने को तो लोग मुझे बहुत याद करते हैं;
    मगर याद करते तो हिचकियां जरूर आती।
  • ज़ुबा पर जब किसी के दर्द का अफ़साना आता है;<br />
हमें रह-रह के याद अपना दिल-ए-दीवाना आता है।
    ज़ुबा पर जब किसी के दर्द का अफ़साना आता है;
    हमें रह-रह के याद अपना दिल-ए-दीवाना आता है।
    ~ Sadiq Jaisi
  • महक होती तो तितलियाँ जरूर आती;<br />
कोई रोता तो सिसकियाँ जरूर आती;<br />
कहने को तो लोग मुझे बहुत याद करते हैं;<br />
मगर याद करते तो हिचकियाँ जरूर आती।
    महक होती तो तितलियाँ जरूर आती;
    कोई रोता तो सिसकियाँ जरूर आती;
    कहने को तो लोग मुझे बहुत याद करते हैं;
    मगर याद करते तो हिचकियाँ जरूर आती।
  • लम्हों का हिसाब रखते हो;<br />
जिंदगी की हसीं किताब रखते हो;<br />
फुर्सत मिले तो लिखना कभी;<br />
क्या मुझे दिल से याद करते हो।
    लम्हों का हिसाब रखते हो;
    जिंदगी की हसीं किताब रखते हो;
    फुर्सत मिले तो लिखना कभी;
    क्या मुझे दिल से याद करते हो।
  • हँसना और हँसाना कोशिश है मेरी;<br />
हर कोई खुश रहे, यह चाहत है मेरी;<br />
भले ही मुझे कोई याद करे या ना करे;<br />
लेकिन हर अपने को याद करना आदत है मेरी!
    हँसना और हँसाना कोशिश है मेरी;
    हर कोई खुश रहे, यह चाहत है मेरी;
    भले ही मुझे कोई याद करे या ना करे;
    लेकिन हर अपने को याद करना आदत है मेरी!
  • आप भुलाकर देखो, हम फिर भी याद आएंगे;<br />
आपके चाहने वालों में;<br />
आपको हम ही नज़र आएंगे;<br />
आप पानी पी-पी के थक जाओगे;<br />
पर हम हिचकी बनकर याद आएंगे!
    आप भुलाकर देखो, हम फिर भी याद आएंगे;
    आपके चाहने वालों में;
    आपको हम ही नज़र आएंगे;
    आप पानी पी-पी के थक जाओगे;
    पर हम हिचकी बनकर याद आएंगे!