• बंता: फिल्मी ज़िंदगी और असल ज़िंदगी में क्या अंतर है?<br/>
संता: फ़िल्म में बहुत मुश्किलों के बाद शादी होती है और असल ज़िंदगी में शादी के बाद बहुत मुश्किल होती है।
    बंता: फिल्मी ज़िंदगी और असल ज़िंदगी में क्या अंतर है?
    संता: फ़िल्म में बहुत मुश्किलों के बाद शादी होती है और असल ज़िंदगी में शादी के बाद बहुत मुश्किल होती है।
  • बंता संता से: ये लडकियां शराब से इतनी नफरत क्यों करती हैं?<br/>
संता: क्योंकि शराब पीने के बाद उनके चूहे जैसे पति शेरों जैसा बर्ताव करने लगते हैं!
    बंता संता से: ये लडकियां शराब से इतनी नफरत क्यों करती हैं?
    संता: क्योंकि शराब पीने के बाद उनके चूहे जैसे पति शेरों जैसा बर्ताव करने लगते हैं!
  • संता: आज मैंने एक जान बचाई।<br/>
बंता: वो कैसे?<br/>
संता: मैंने एक भिखारी को पूछा, अगर मैं तुम्हें 1000 का नोट दूँ तो क्या करोगे? उसने कहा ख़ुशी के मारे मर जाउंगा, तो मैंने उसे नोट नहीं दिया और उसे बचा लिया!
    संता: आज मैंने एक जान बचाई।
    बंता: वो कैसे?
    संता: मैंने एक भिखारी को पूछा, अगर मैं तुम्हें 1000 का नोट दूँ तो क्या करोगे? उसने कहा ख़ुशी के मारे मर जाउंगा, तो मैंने उसे नोट नहीं दिया और उसे बचा लिया!
  • संता रास्ते में लड़की को छेड़ते हुए।<br/>
संता: ओये आइटम क्या हाल है तेरा?<br/>
लड़की: जो तेरी बहन का है।<br/>
संता: अच्छा मतलब कि तू भी प्रेंगनेंट है!
    संता रास्ते में लड़की को छेड़ते हुए।
    संता: ओये आइटम क्या हाल है तेरा?
    लड़की: जो तेरी बहन का है।
    संता: अच्छा मतलब कि तू भी प्रेंगनेंट है!
  • संता और बंता साथ में कहीं जा रहे थे। एक लड़की पास से निकली।<br/>

बंता: वाह यार! क्या माल है।<br/>
संता: अरे यार माल से याद आया, भाभी कैसी है?
    संता और बंता साथ में कहीं जा रहे थे। एक लड़की पास से निकली।
    बंता: वाह यार! क्या माल है।
    संता: अरे यार माल से याद आया, भाभी कैसी है?
  • संता शराब पीकर साधू से टकरा गया।<br/>
साधू गुस्से में: ऐ मुर्ख, मैं तुझे शराप दे दूंगा!<br/>
संता: रुकिए महाराज, मैं गिलास लेकर आता हूँ!
    संता शराब पीकर साधू से टकरा गया।
    साधू गुस्से में: ऐ मुर्ख, मैं तुझे शराप दे दूंगा!
    संता: रुकिए महाराज, मैं गिलास लेकर आता हूँ!
  • संता: यार शादी के जोड़े कौन बनाता है?<br/>
बंता: आसमान में भगवान बनाता है।<br/>
संता: ओये तेरी! मैं तो दर्ज़ी को दे आया।
    संता: यार शादी के जोड़े कौन बनाता है?
    बंता: आसमान में भगवान बनाता है।
    संता: ओये तेरी! मैं तो दर्ज़ी को दे आया।
  • पप्पू अपने बाप संता से: पापा मुझे 180 सीसी पल्सर बाइक चाहिए।<br/>
संता: बेटा तू 180 सीसी पल्सर ले या 350 सीसी बुल्ट, पीछा तो तुम ने 100 सी सी स्कूटी का ही करना है!
    पप्पू अपने बाप संता से: पापा मुझे 180 सीसी पल्सर बाइक चाहिए।
    संता: बेटा तू 180 सीसी पल्सर ले या 350 सीसी बुल्ट, पीछा तो तुम ने 100 सी सी स्कूटी का ही करना है!
  • संता: यार बंता ये मैसेज किस काम आते हैं?<br/>
बंता: हम जैसे लोगों के लिखने के काम आते हैं और कंजूसों के पढ़ने के काम आते हैं।
    संता: यार बंता ये मैसेज किस काम आते हैं?
    बंता: हम जैसे लोगों के लिखने के काम आते हैं और कंजूसों के पढ़ने के काम आते हैं।
  • पप्पू अपने पिता जी से कार के लिए ज़िद्द कर रहा था।<br/>
संता गुस्से से, `कार का क्या करेगा, भगवान ने दो टाँगे किस लिए दी हैं?`<br/>


पप्पू: ब्रेक और रेस दबाने के लिए।
    पप्पू अपने पिता जी से कार के लिए ज़िद्द कर रहा था।
    संता गुस्से से, "कार का क्या करेगा, भगवान ने दो टाँगे किस लिए दी हैं?"
    पप्पू: ब्रेक और रेस दबाने के लिए।