यादें Hindi SMS

Page: 1
कौन कहता है हम आपको याद नहीं करते;<br/>
करते तो हैं मगर इज़हार नहीं करते;<br/>
सोचते हैं कहीं यादें बिखर न जायें;<br/>
इसलिए हर बार दीदार नहीं करते।
कौन कहता है हम आपको याद नहीं करते;
करते तो हैं मगर इज़हार नहीं करते;
सोचते हैं कहीं यादें बिखर न जायें;
इसलिए हर बार दीदार नहीं करते।
दिल की ख्वाहिश को नाम क्या दूँ;<br/>
प्यार का उसे पैगाम क्या दूँ;<br/>
इस दिल में दर्द नहीं यादें हैं उसकी;<br/>
अब यादें ही मुझे दर्द दें तो इल्ज़ाम क्या दूँ।
दिल की ख्वाहिश को नाम क्या दूँ;
प्यार का उसे पैगाम क्या दूँ;
इस दिल में दर्द नहीं यादें हैं उसकी;
अब यादें ही मुझे दर्द दें तो इल्ज़ाम क्या दूँ।
यादों की भीड़ में आप की परछाई सी लगती है;
कानों में कोई आवाज़ एक शहनाई सी लगती है;
जब आप करीब हैं तो अपना सा लगता है;
वर्ना सीने में सांस भी पराई सी लगती है।
बिखरे अश्कों के मोती हम पिरो न सके;<br/>
तेरी याद में सारी रात सो न सके;<br/>
मिट न जाये आँसुओं से याद;<br/>
यही सोच कर हम रो न सके।
बिखरे अश्कों के मोती हम पिरो न सके;
तेरी याद में सारी रात सो न सके;
मिट न जाये आँसुओं से याद;
यही सोच कर हम रो न सके।
अजीब लगती है शाम कभी-कभी;<br/>
ज़िंदगी लगती है बेजान कभी-कभी;<br/>
समझ आये तो हमें भी बताना;<br/>
कि क्यों करती हैं यादें परेशान कभी-कभी।
अजीब लगती है शाम कभी-कभी;
ज़िंदगी लगती है बेजान कभी-कभी;
समझ आये तो हमें भी बताना;
कि क्यों करती हैं यादें परेशान कभी-कभी।
एक आरज़ू सी है कि उन्हें भूल जाएँ हम;<br/>
मगर उनकी यादों के आगे तो यह हसरत भी हार जाती है।
एक आरज़ू सी है कि उन्हें भूल जाएँ हम;
मगर उनकी यादों के आगे तो यह हसरत भी हार जाती है।
मेरी आँखें तेरे दीदार को तरसती हैं;<br/>
मेरी नस-नस तेरे प्यार  तरसती है;<br/>
तू ही बता कि तुझे बताऊँ कैसे;<br/>
कि मेरी रूह तक तेरी याद में तड़पती है।
मेरी आँखें तेरे दीदार को तरसती हैं;
मेरी नस-नस तेरे प्यार तरसती है;
तू ही बता कि तुझे बताऊँ कैसे;
कि मेरी रूह तक तेरी याद में तड़पती है।
अजीब लगती है शाम कभी-कभी;<br/>
ज़िंदगी लगती है बेजान कभी-कभी;<br/>
समझ आये तो मुझे भी बताना कि;<br/>
क्यों करती हैं यादें परेशान कभी-कभी।
अजीब लगती है शाम कभी-कभी;
ज़िंदगी लगती है बेजान कभी-कभी;
समझ आये तो मुझे भी बताना कि;
क्यों करती हैं यादें परेशान कभी-कभी।
साँस लेने से उसकी याद आती है;<br/>
और ना लेने पे जान जाती है;<br/>
कैसे कह दूँ की सिर्फ़ साँसों क सहारे जिंदा हूँ;<br/>
कमब्खत साँस भी तो उसकी याद के बाद आती है।
साँस लेने से उसकी याद आती है;
और ना लेने पे जान जाती है;
कैसे कह दूँ की सिर्फ़ साँसों क सहारे जिंदा हूँ;
कमब्खत साँस भी तो उसकी याद के बाद आती है।
दिल की ख्वाहिश को नाम क्या दूँ;<br/>
प्यार का उसे पैगाम क्या दूँ;<br/>
इस दिल में दर्द नहीं यादें हैं उसकी;<br/>
अब यादें ही मुझे दर्द दें तो उसे इलज़ाम क्या दूँ।
दिल की ख्वाहिश को नाम क्या दूँ;
प्यार का उसे पैगाम क्या दूँ;
इस दिल में दर्द नहीं यादें हैं उसकी;
अब यादें ही मुझे दर्द दें तो उसे इलज़ाम क्या दूँ।

Quotes

क्रोध में जो भी शुरू होता है वो शर्म में ख़त्म होता है।

Trivia

Taking pictures of other people without permission is illegal in Japan. Though it is legal to take pictures of people in public places in the US.

Graffiti

When she saw her 1st strand of grey hair... she thought she would 'Dye'!