Join our FaceBook Group
आज बंता को प्याज़ और तुअर की दाल ले जाते हुए देखा!<br/>
आँख भर आई जब उसने कहा FD तुड़वाई है यार!
आज बंता को प्याज़ और तुअर की दाल ले जाते हुए देखा!
आँख भर आई जब उसने कहा FD तुड़वाई है यार!
संता ट्रेन में सफर कर रहा था तो टिकट चैकर आ गया।
टिकट चैकर: टिकट दिखाओ।
संता: यह लीजिए।
टिकट चैकर: अरे यह तो पुरानी टिकट है।
संता: आप तो ऐसे कह रहे हैं जैसे ट्रेन आप अभी-अभी शोरूम से लेकर आये हो।
बैंक मैनेजर: यह क्या अजीब सिग्नेचर हैं?<br/>
संता: ये साइन मेरी दादी का है सर!<br/>
बैंक मैनेजर: ऐसा क्या अजीब नाम है उनका??<br/>
संता: जलेबी बाई!
बैंक मैनेजर: यह क्या अजीब सिग्नेचर हैं?
संता: ये साइन मेरी दादी का है सर!
बैंक मैनेजर: ऐसा क्या अजीब नाम है उनका??
संता: जलेबी बाई!
गर्लफ्रेंड की शादी का कार्ड मिला आज, बहुत बुरा लगा....<br/>
फिर सोचा कि हम जायेंगे ज़रूर,<br/>
प्यार अपनी जगह, बटर चिकन अपनी जगह!
गर्लफ्रेंड की शादी का कार्ड मिला आज, बहुत बुरा लगा....
फिर सोचा कि हम जायेंगे ज़रूर,
प्यार अपनी जगह, बटर चिकन अपनी जगह!
बंता: कार्डियोलोजिस्ट और गब्बर सिंह में क्या समानता है?
संता: दोनो यही सलाह देते है कि तूने नमक खाया है अब गोली खा।
संता (टैक्सी ड्राईवर से): सिद्धिविनायक मंदिर जाओगे क्या?<br/>
टैक्सी ड्राईवर: हाँ साहब जाऊँगा।<br/>
संता: ठीक है, वापसी में मेरे लिए प्रसाद लेते आना।
संता (टैक्सी ड्राईवर से): सिद्धिविनायक मंदिर जाओगे क्या?
टैक्सी ड्राईवर: हाँ साहब जाऊँगा।
संता: ठीक है, वापसी में मेरे लिए प्रसाद लेते आना।
आर्मी ट्रेनिंग अफसर: ये हाथ में क्या है?<br/>
बंता: सर, बंदूक है....!<br/>
अफसर: ये बंदूक नहीं! तुम्हारी इज़्ज़त है, शान है, ये तुम्हारी माँ है माँ!!<br/>
अफसर: संता, ये हाथ में क्या है?<br/>
संता: सर, ये बंता की माँ है, उसकी इज़्ज़त है, उसकी शान है और हमारी मौसी है मौसी...!<br/>
सर बेहोश
आर्मी ट्रेनिंग अफसर: ये हाथ में क्या है?
बंता: सर, बंदूक है....!
अफसर: ये बंदूक नहीं! तुम्हारी इज़्ज़त है, शान है, ये तुम्हारी माँ है माँ!!
अफसर: संता, ये हाथ में क्या है?
संता: सर, ये बंता की माँ है, उसकी इज़्ज़त है, उसकी शान है और हमारी मौसी है मौसी...!
सर बेहोश
रिपोर्टर: क्या आपके टूथपेस्ट में 'नमक' है?<br/>
संता: नहीं जी मैं ऊपर से डाल लेता हूँ, अपने स्वाद अनुसार।
रिपोर्टर: क्या आपके टूथपेस्ट में 'नमक' है?
संता: नहीं जी मैं ऊपर से डाल लेता हूँ, अपने स्वाद अनुसार।
जीतो: मैंने गधों पर रिसर्च की है। गधा अपनी गधी के सिवा किसी और गधी को नही देखता।<br/>
संता: इसीलिए तो उसे गधा कहते हैं।
जीतो: मैंने गधों पर रिसर्च की है। गधा अपनी गधी के सिवा किसी और गधी को नही देखता।
संता: इसीलिए तो उसे गधा कहते हैं।
प्रीतो: मैं घर छोड़कर जा रही हूँ।<br/>
बंता (गुस्से में): हाँ, 'जान' छोड़ो अब बस। <br/>
प्रीतो: यही आपकी 'जान' कहने की आदत न, हमेशा मुझे रोक लेती है।
प्रीतो: मैं घर छोड़कर जा रही हूँ।
बंता (गुस्से में): हाँ, 'जान' छोड़ो अब बस।
प्रीतो: यही आपकी 'जान' कहने की आदत न, हमेशा मुझे रोक लेती है।