Join our FaceBook Group
वक़्त मिले तो कभी रखना कदम दिल के आँगन में;<br/>
हैरान रह जाओगे मेरे दिल में अपना मुकाम देख कर।
वक़्त मिले तो कभी रखना कदम दिल के आँगन में;
हैरान रह जाओगे मेरे दिल में अपना मुकाम देख कर।
एक लड़की क्लास में गाना गा रही थी:<br/>
ओ ज़रा Touch Me, Touch Me, Touch Me.. तभी पप्पू उठा और लड़की को छू लिया, और बोला हिम्मत है तो आगे गा।
एक लड़की क्लास में गाना गा रही थी:
ओ ज़रा Touch Me, Touch Me, Touch Me.. तभी पप्पू उठा और लड़की को छू लिया, और बोला हिम्मत है तो आगे गा।
कोई तो दिल का भी सहारा होता है; 
ज़रूरी नहीं ज़िन्दगी अपने लिए ही प्यारी हो; 
ज़िन्दगी में कोई तो ज़िन्दगी से भी प्यारा होता है।
कोई तो दिल का भी सहारा होता है;
ज़रूरी नहीं ज़िन्दगी अपने लिए ही प्यारी हो;
ज़िन्दगी में कोई तो ज़िन्दगी से भी प्यारा होता है।
तेरी खुशबू को ज़रा महसूस करूँगा; 
तेरी बात को ज़रा गौर से सुनुँगा; 
अगर तू हसरत को पूरा करे; 
तो देखना ज़िन्दगी भर तेरी पूजा करूँगा।
तेरी खुशबू को ज़रा महसूस करूँगा;
तेरी बात को ज़रा गौर से सुनुँगा;
अगर तू हसरत को पूरा करे;
तो देखना ज़िन्दगी भर तेरी पूजा करूँगा।
इतना कुछ हो रहा है दुनिया में; 
क्या तुम मेरे नहीं हो सकते।
इतना कुछ हो रहा है दुनिया में;
क्या तुम मेरे नहीं हो सकते।
प्यार ना दिल से होता है ना दिमाग से होता है, 
प्यार तो इत्तेफ़ाक़ से होता है, 
मगर प्यार करके प्यार ही मिले ये इत्तेफ़ाक़ भी किसी किसी के साथ होता है।
प्यार ना दिल से होता है ना दिमाग से होता है,
प्यार तो इत्तेफ़ाक़ से होता है,
मगर प्यार करके प्यार ही मिले ये इत्तेफ़ाक़ भी किसी किसी के साथ होता है।
नज़रें मिल जाएं तो प्यार हो जाता है; 
पलकें उठ जाएं तो इज़हार हो जाता है; 
ना जाने क्या कशिश है आपकी चाहत में; 
कि कोई अनजान भी हमारी ज़िन्दगी का हक़दार हो जाता है।
नज़रें मिल जाएं तो प्यार हो जाता है;
पलकें उठ जाएं तो इज़हार हो जाता है;
ना जाने क्या कशिश है आपकी चाहत में;
कि कोई अनजान भी हमारी ज़िन्दगी का हक़दार हो जाता है।
चाहने से प्यार नहीं मिलता; 
हवा से फूल नहीं खिलता; 
प्यार नाम होता है विश्वास का; 
बिना विश्वास सच्चा प्यार नहीं मिलता।
चाहने से प्यार नहीं मिलता;
हवा से फूल नहीं खिलता;
प्यार नाम होता है विश्वास का;
बिना विश्वास सच्चा प्यार नहीं मिलता।
इत्तेफ़ाक़ से ही सही मगर मुलाकात हो गयी; 
ढूंढ रहे थे हम जिन्हें उन से बात हो गयी; 
देखते ही उन को जाने कहाँ खो गए हम; 
बस यूँ समझो वहीं से हमारे प्यार की शुरुआत हो गयी।
इत्तेफ़ाक़ से ही सही मगर मुलाकात हो गयी;
ढूंढ रहे थे हम जिन्हें उन से बात हो गयी;
देखते ही उन को जाने कहाँ खो गए हम;
बस यूँ समझो वहीं से हमारे प्यार की शुरुआत हो गयी।
होती नहीं है मोहब्बत सूरत से; 
मोहब्बत तो दिल से होती है; 
सूरत उनकी खुद-ब-खुद लगती है प्यारी; 
कदर जिनकी दिल में होती है।
होती नहीं है मोहब्बत सूरत से;
मोहब्बत तो दिल से होती है;
सूरत उनकी खुद-ब-खुद लगती है प्यारी;
कदर जिनकी दिल में होती है।