Join our FaceBook Group
ससुर: तुम दारू पीते हो कभी बताया नहीं! <br/>
दामाद: तुम्हारी बेटी खून पीती है तुम ने बताया क्या?
ससुर: तुम दारू पीते हो कभी बताया नहीं!
दामाद: तुम्हारी बेटी खून पीती है तुम ने बताया क्या?
आज का ज्ञान:  <br/>
सुखी होने के लिए अंदर की आवाज़ सुनें।  <br/>
अंदर की मतलब किचन में से आने वाली आवाज़।
आज का ज्ञान:
सुखी होने के लिए अंदर की आवाज़ सुनें।
अंदर की मतलब किचन में से आने वाली आवाज़।

अभी-अभी बीवी के हाथ से घर की मेज पर रखा फूलदान गिर कर टूट गया,  <br/> 
फिर मुझे पता चला कि फूलदान फिछले तीन सालों से मैंने ही गलत जगह पर रखा था।
अभी-अभी बीवी के हाथ से घर की मेज पर रखा फूलदान गिर कर टूट गया,
फिर मुझे पता चला कि फूलदान फिछले तीन सालों से मैंने ही गलत जगह पर रखा था।
कभी आपने सोचा है कि,  <br/>
शादी के 15 साल बाद आदमी 50 साल का लगता है, और महिलाए 30 साल की क्यों लगती है?  <br/>
क्योंकि साल में अनेकों बार, पूजा में पत्नी कहती है, 'हे भगवान मेरी उम्र भी मेरे पति को लग जाये।'  <br/>
कृपा वहीं से आ रही है।
कभी आपने सोचा है कि,
शादी के 15 साल बाद आदमी 50 साल का लगता है, और महिलाए 30 साल की क्यों लगती है?
क्योंकि साल में अनेकों बार, पूजा में पत्नी कहती है, "हे भगवान मेरी उम्र भी मेरे पति को लग जाये।"
कृपा वहीं से आ रही है।

पुरुष का आखिरी गुरु उसकी पत्नी होती है, क्योंकि<br/>
उसके बाद उसे न तो कोई ज्ञान की आवश्यकता होती है और न ही कोई ज्ञान काम आता है।
पुरुष का आखिरी गुरु उसकी पत्नी होती है, क्योंकि
उसके बाद उसे न तो कोई ज्ञान की आवश्यकता होती है और न ही कोई ज्ञान काम आता है।
हर महिला चाहती है कि जब तक जियूँ मैं सुहागन जियूँ।<br/>
अब सवाल यह है कि सुहागन जीने के लिए अपने पति को सिर्फ़ ज़िन्दा ही रखना है या उसे जीने भी देना है।
हर महिला चाहती है कि जब तक जियूँ मैं सुहागन जियूँ।
अब सवाल यह है कि सुहागन जीने के लिए अपने पति को सिर्फ़ ज़िन्दा ही रखना है या उसे जीने भी देना है।
हर महिला चाहती है कि जब तक जियूँ मैं सुहागन जियूँ।
अब सवाल यह है कि सुहागन जीने के लिए अपने पति को सिर्फ़ ज़िन्दा ही रखना है या उसे जीने भी देना है।
हर महिला चाहती है कि जब तक जियूँ मैं सुहागन जियूँ। अब सवाल यह है कि सुहागन जीने के लिए अपने पति को सिर्फ़ ज़िन्दा ही रखना है या उसे जीने भी देना है।
पुरुष का आखिरी गुरु उसकी पत्नी होती है, क्योंकि
उसके बाद उसे न तो कोई ज्ञान की आवश्यकता होती है और न ही कोई ज्ञान काम आता है।
पुरुष का आखिरी गुरु उसकी पत्नी होती है, क्योंकि उसके बाद उसे न तो कोई ज्ञान की आवश्यकता होती है और न ही कोई ज्ञान काम आता है।
इल्ज़ाम की हद:
पत्नी: अरे सुनते हो, ये न जाने कैसा आटा उठा लाये हो सारी की सारी रोटियां ही जल गई।
इल्ज़ाम की हद: पत्नी: अरे सुनते हो, ये न जाने कैसा आटा उठा लाये हो सारी की सारी रोटियां ही जल गई।
वो कौन सी चीज है जो हमेशा पति की ही रहेगी, पत्नी की नहीं हो सकती? <br/>
गलती।
वो कौन सी चीज है जो हमेशा पति की ही रहेगी, पत्नी की नहीं हो सकती?
गलती।