Join our FaceBook Group
टीचर: बेटा अगर सच्चे दिल से प्रार्थना की जाए तो वो जरूर सफल होती है।<br/>
पप्पू: रहने दो सर, अगर ऐसा होता तो आप मेरे सर नहीं ससुर होते।
टीचर: बेटा अगर सच्चे दिल से प्रार्थना की जाए तो वो जरूर सफल होती है।
पप्पू: रहने दो सर, अगर ऐसा होता तो आप मेरे सर नहीं ससुर होते।
टीचर: क्लास में लड़ाई क्यों नही करनी चाहिए?<br/>
पप्पू: क्योंकि पता नही एग्जाम में किसके पीछे बैठना पड़ जाये।
टीचर: क्लास में लड़ाई क्यों नही करनी चाहिए?
पप्पू: क्योंकि पता नही एग्जाम में किसके पीछे बैठना पड़ जाये।
टीचर: माता-पिता के बाद सबसे ज्यादा प्रेरणा कौन देता है?<br/>
पप्पू: बस कंडक्टर, क्योंकि वो हमेशा बोलता रहता है, 'चलिए चलिए आगे बढ़िए'।
टीचर: माता-पिता के बाद सबसे ज्यादा प्रेरणा कौन देता है?
पप्पू: बस कंडक्टर, क्योंकि वो हमेशा बोलता रहता है, 'चलिए चलिए आगे बढ़िए'।
पप्पू का एक्सीडेंट हो गया। बंटी उसकी खबर लेने गया और बोला,<br/>
'भाई जब कार लड़की चला रही थी, तो तुम्हें सड़क से दूर चलना चाहिए था।'<br/>
पप्पू: कौन सी सड़क यार, मैं तो पार्क में बैठा हुआ था।
पप्पू का एक्सीडेंट हो गया। बंटी उसकी खबर लेने गया और बोला,
"भाई जब कार लड़की चला रही थी, तो तुम्हें सड़क से दूर चलना चाहिए था।"
पप्पू: कौन सी सड़क यार, मैं तो पार्क में बैठा हुआ था।
पप्पू: प्लीज़ मुझे अपने दिमाग में रख लो, दिल में नहीं।<br/>
मिनी: दिल में क्यों नहीं?<br/>
पप्पू: तुम्हारे दिल में जगह कहाँ, दिमाग तो पूरा खाली है, आराम से रहूँगा।
पप्पू: प्लीज़ मुझे अपने दिमाग में रख लो, दिल में नहीं।
मिनी: दिल में क्यों नहीं?
पप्पू: तुम्हारे दिल में जगह कहाँ, दिमाग तो पूरा खाली है, आराम से रहूँगा।
टीचर: 'ज्यों-ज्यों इलाज़ किया, मर्ज़ बढ़ता ही गया', इसमें कवि का आशय क्या है?<br/>
पप्पू: सर लगता है कि कवि का इलाज़ किसी सरकारी अस्पताल में चल रहा है।
टीचर: 'ज्यों-ज्यों इलाज़ किया, मर्ज़ बढ़ता ही गया', इसमें कवि का आशय क्या है?
पप्पू: सर लगता है कि कवि का इलाज़ किसी सरकारी अस्पताल में चल रहा है।
टीचर: पप्पू एक कहानी सुनाओ, शिक्षा के साथ।<br/>
पप्पू: मैने अपनी गर्लफ्रेंड फोन किया वो सो रही थी फिर उसने मुझे फोन किया मैं सो रहा था।<br/>
शिक्षा: जैसी करनी वैसी भरनी
टीचर: पप्पू एक कहानी सुनाओ, शिक्षा के साथ।
पप्पू: मैने अपनी गर्लफ्रेंड फोन किया वो सो रही थी फिर उसने मुझे फोन किया मैं सो रहा था।
शिक्षा: जैसी करनी वैसी भरनी
टीचर: पप्पू,  A B C सुनाओ।<br/>
पप्पू: A B C<br/>
टीचर: शाबाश, और सुनाओ।<br/>
पप्पू: और सब बढिया, आप बताओ।
टीचर: पप्पू, A B C सुनाओ।
पप्पू: A B C
टीचर: शाबाश, और सुनाओ।
पप्पू: और सब बढिया, आप बताओ।
बंटी: आज इतनी ठंड क्यों है?<br/>
पप्पू: सूरज नही निकला ना<br/>
बंटी: क्यों नही निकला?<br/>
पप्पू: उसकी मम्मी ने नही निकलने दिया। बोली कि ठंड में कहाँ जायेगा, पड़ा रह कम्बल में, फालतू की आवारागर्दी करेगा।
बंटी: आज इतनी ठंड क्यों है?
पप्पू: सूरज नही निकला ना
बंटी: क्यों नही निकला?
पप्पू: उसकी मम्मी ने नही निकलने दिया। बोली कि ठंड में कहाँ जायेगा, पड़ा रह कम्बल में, फालतू की आवारागर्दी करेगा।
टीचर: बताओ रोज बादाम खाने से क्या होगा?<br/>

पप्पू: जी, बादाम खतम हो जाएंगे।
टीचर: बताओ रोज बादाम खाने से क्या होगा?
पप्पू: जी, बादाम खतम हो जाएंगे।