Join our FaceBook Group
पठान ने अपनी बीवी को गोली मार दी। हालाँकि उसकी बेगम ने सिर्फ इतना कहा था कि -<br/>
'मैं अपनी जिंदगी शान और शौकत के साथ गुजारना चाहती हूँ।'<br/>
अब पठान भाई शान और शौक़त को ढूँढ रहा है।
पठान ने अपनी बीवी को गोली मार दी। हालाँकि उसकी बेगम ने सिर्फ इतना कहा था कि -
"मैं अपनी जिंदगी शान और शौकत के साथ गुजारना चाहती हूँ।"
अब पठान भाई शान और शौक़त को ढूँढ रहा है।
पठान दुकान पर नया टीवी लेने गया।<br/>
पठान: यह टीवी कितने का है?<br/>
दुकानदार: 50,000/-<br/>
पठान: इतना महंगा क्यों?<br/>
दुकानदार: यह लाइट चले जाने के बाद अपने आप बंद हो जाता है।<br/>
पठान: ओह तेरी, फिर तो यही दे दो।
पठान दुकान पर नया टीवी लेने गया।
पठान: यह टीवी कितने का है?
दुकानदार: 50,000/-
पठान: इतना महंगा क्यों?
दुकानदार: यह लाइट चले जाने के बाद अपने आप बंद हो जाता है।
पठान: ओह तेरी, फिर तो यही दे दो।
रात के दो बजे पठान की बेगम का मोबाईल बजा। पठान चौंक कर उठा तो देखा मोबाईल पर एक मैसेज था,
'ब्युटीफुल'
पठान ने तुरंत बेगम को उठाया और गुस्से से पूछा, "यह क्या है, तुम्हें 'ब्युटीफुल' का मैसेज किसने भेजा है?"
बेगम ने भी घबराकर मोबाईल देखा और गुस्से से बोली, "अंधे हो गए हो क्या? 'ब्युटीफुल' नही 'बैटरी फुल' लिखा है।
पठान ने लस्सी की दूकान लगाई।
ग्राहक: अरे इस लस्सी में मक्खी गिरी हुई है।
पठान: ओये, दिल बड़ा रख ये छोटी सी जान, तेरी कितनी लस्सी पी जायेगी।
पठान रात को सो रहा था कि अचानक उसका फ़ोन बजा, दूसरी तरफ से लड़की की आवाज़ थी,
"मैं तैनू समझावा की, ना तेरे बिना लगदा जी।"
पठान: तो तुम मुझ से शादी कर लो।
दूसरी तरफ से आवाज़ आई,
"इस गाने को अपनी कॉलर ट्यून बनाने के लिए 2 दबायें।"
पठान एक दुकान में गया।
पठान: 2 BHK का क्या भाव है?
दुकानदार: ये रेडीमेड कपड़ों की दुकान है।
पठान: लेकिन बाहर तो लिखा है "Flat 70% Off"!
सिंधी: पठान भाई तुम बाजार जा रहे हो तो मेरे लिए एक शीशा लेकर आना, जिसमे मैं अपना चेहरा देख सकूँ। 
पठान: ठीक है। 
पठान के बाजार से वापस आने के बाद: 
सिंधी: भाई, ले आये शीशा? 

पठान: नहीं भाई मिला ही नहीं, जो भी शीशा मैं उठाता था उसमे मेरा ही चेहरा दिखाई दे रहा था, आपका नहीं।
सिंधी: पठान भाई तुम बाजार जा रहे हो तो मेरे लिए एक शीशा लेकर आना, जिसमे मैं अपना चेहरा देख सकूँ।
पठान: ठीक है।
पठान के बाजार से वापस आने के बाद:
सिंधी: भाई, ले आये शीशा?
पठान: नहीं भाई मिला ही नहीं, जो भी शीशा मैं उठाता था उसमे मेरा ही चेहरा दिखाई दे रहा था, आपका नहीं।
पठान: कल एक पहलवान ने मेरे भाई को पीटा। मुझे पता लगा तो मैं तो सीधा उसके घर घुस गया। 
सिंधी: तो फिर क्या हुआ? 
पठान: वही, जो मेरे भाई के साथ हुआ। पहलवान ने मुझे भी खूब पीटा।
पठान: कल एक पहलवान ने मेरे भाई को पीटा। मुझे पता लगा तो मैं तो सीधा उसके घर घुस गया।
सिंधी: तो फिर क्या हुआ?
पठान: वही, जो मेरे भाई के साथ हुआ। पहलवान ने मुझे भी खूब पीटा।
पठान की बेगम ने नमाज़ पढ़ कर दुआ के लिए हाथ उठाये पर कुछ नहीं माँगा और हाथ नीचे कर लिए। 
पठान: यह क्या, तुमने दुआ क्यों नहीं माँगी? 
बेगम: माँगने ही लगी थी कि अल्लाह आपकी तमाम मुश्किलें खत्म कर दे, फिर सोचा कहीं मैं ही ना खत्म हो जाऊं।
पठान की बेगम ने नमाज़ पढ़ कर दुआ के लिए हाथ उठाये पर कुछ नहीं माँगा और हाथ नीचे कर लिए।
पठान: यह क्या, तुमने दुआ क्यों नहीं माँगी?
बेगम: माँगने ही लगी थी कि अल्लाह आपकी तमाम मुश्किलें खत्म कर दे, फिर सोचा कहीं मैं ही ना खत्म हो जाऊं।
पठान: मेरी बीवी बिजली है बिजली। 
सिंधी: तो ज़रा उससे पूछ कि हर दो घंटे बाद कहाँ चली जाती है?
पठान: मेरी बीवी बिजली है बिजली।
सिंधी: तो ज़रा उससे पूछ कि हर दो घंटे बाद कहाँ चली जाती है?