जीवन में पहली बार महीना खत्म हो गया, पर Salary खत्म नहीं हुई।<br/>
धन्यवाद मोदी जी।
जीवन में पहली बार महीना खत्म हो गया, पर Salary खत्म नहीं हुई।
धन्यवाद मोदी जी।
सुझाव:<br/>
बैंक के बाहर चीयरलीडर्स को रखा जाए।<br/>
जैसे ही किसी को पैसे मिले, चीयर्स लीडर डांस करेगी, लोग ख़ुशी-ख़ुशी 24 घण्टे बैंक के बाहर लाइन में खड़े रहेंगे, और कोई शिकायत भी नहीं करेंगे।
सुझाव:
बैंक के बाहर चीयरलीडर्स को रखा जाए।
जैसे ही किसी को पैसे मिले, चीयर्स लीडर डांस करेगी, लोग ख़ुशी-ख़ुशी 24 घण्टे बैंक के बाहर लाइन में खड़े रहेंगे, और कोई शिकायत भी नहीं करेंगे।
गर्लफ्रेंड: बाबू मेरी ज़्यादा याद कब आती है?<br/>
पप्पू: जब मम्मी बोलती है, 'आने दे तेरी बीवी को, घर के सारे काम उसी से करवाउंगी'।
गर्लफ्रेंड: बाबू मेरी ज़्यादा याद कब आती है?
पप्पू: जब मम्मी बोलती है, "आने दे तेरी बीवी को, घर के सारे काम उसी से करवाउंगी"।
लड़की: मेरा दिल मोबाइल और तुम उसका सिम हो।<br/>
लड़का: जानू एक बात पूछुं?<br/>
लड़की: हाँ पूछो।<br/>
लड़का: तुम्हारा मोबाइल Dual-Sim वाला तो नहीं।
लड़की: मेरा दिल मोबाइल और तुम उसका सिम हो।
लड़का: जानू एक बात पूछुं?
लड़की: हाँ पूछो।
लड़का: तुम्हारा मोबाइल Dual-Sim वाला तो नहीं।
गोल्ड तक तो ठीक है अगर किसी ने 'गोल्ड फ्लैक' पर लिमिट लगायी तो तलवारें चल जाएँगी तलवारें।<br/>
'समस्त होस्टलर और इंजीनियर संघ'!
गोल्ड तक तो ठीक है अगर किसी ने 'गोल्ड फ्लैक' पर लिमिट लगायी तो तलवारें चल जाएँगी तलवारें।
"समस्त होस्टलर और इंजीनियर संघ"!
लड़कियां भी अजीब होती हैं,<br/>
गली में कोई Like करे तो घबरा जाती हैं, FB पर कोई Like न करे तो बौखला जाती हैं।
लड़कियां भी अजीब होती हैं,
गली में कोई Like करे तो घबरा जाती हैं, FB पर कोई Like न करे तो बौखला जाती हैं।
पूजा करते वक़्त चिल्ला-चिल्ला कर भगवान को क्यों बोला था?<br/>
तन मन धन सब कुछ है तेरा, तेरा तुझको अर्पण क्या लागे मेरा,<br/>
फिर क्या? सुन ली सबकी भगवान ने।
पूजा करते वक़्त चिल्ला-चिल्ला कर भगवान को क्यों बोला था?
तन मन धन सब कुछ है तेरा, तेरा तुझको अर्पण क्या लागे मेरा,
फिर क्या? सुन ली सबकी भगवान ने।
जो कहते थे कि हमारी सात पुशतें बैठे-बैठे खा सकती हैं,<br/>
उनकी तीन पुशतें बैंक की लइन में खड़ी हैं।
जो कहते थे कि हमारी सात पुशतें बैठे-बैठे खा सकती हैं,
उनकी तीन पुशतें बैंक की लइन में खड़ी हैं।
लड़की: HDFC गये बाबा,<br/>
Axis गई माँ;<br/>
अकेली हूँ घर मा,<br/>
तू आजा बाल्मा।<br/>
लड़का: हम खुद भी लगा हूँ SBI की लाइन मा, कैसे आयें गोरी हम तोहरे घर मा।
लड़की: HDFC गये बाबा,
Axis गई माँ;
अकेली हूँ घर मा,
तू आजा बाल्मा।
लड़का: हम खुद भी लगा हूँ SBI की लाइन मा, कैसे आयें गोरी हम तोहरे घर मा।
मेरे पिता जी का तो कोई ऐसा दोस्त भी नहीं जो अमरीश पुरी की तरह ये कह दे,<br/>
'चल इस दोस्ती को रिश्तेदारी में बदल दें।'
मेरे पिता जी का तो कोई ऐसा दोस्त भी नहीं जो अमरीश पुरी की तरह ये कह दे,
"चल इस दोस्ती को रिश्तेदारी में बदल दें।"