बिजली, पानी, पेट्रोल के दाम तो कोई भी सरकार कम करवा सकती है, कोई सरकार बीवियों के नखरे कम करवाये तो बात बने।
बिजली, पानी, पेट्रोल के दाम तो कोई भी सरकार कम करवा सकती है, कोई सरकार बीवियों के नखरे कम करवाये तो बात बने।
हम इस तरह होली के रंग फैलाएंगे; 
कि सबके संग हम भी रंगों में धुल जायेंगे; 
इस बार होली का रंग और भी गहरा होगा; 
क्योंकि दोस्तों के साथ दुश्मन का भी रंग होगा। 
हैप्पी होली!
हम इस तरह होली के रंग फैलाएंगे;
कि सबके संग हम भी रंगों में धुल जायेंगे;
इस बार होली का रंग और भी गहरा होगा;
क्योंकि दोस्तों के साथ दुश्मन का भी रंग होगा।
हैप्पी होली!
एक ज़रूरी सूचना: 
गाड़ी चलाना और सौन्दर्य दर्शन एक साथ ना करें... देवदर्शन की प्राप्ति हो सकती है। 
~ जनहित में जारी
एक ज़रूरी सूचना:
गाड़ी चलाना और सौन्दर्य दर्शन एक साथ ना करें... देवदर्शन की प्राप्ति हो सकती है।
~ जनहित में जारी
ना छुपाना कोई बात दिल में हो अगर; 
रखना थोड़ा भरोसा हम पर; 
हम निभाएंगे प्यार का यह रिश्ता इस कदर; 
कि भुलाने पर भी ना भुला पाओगे हमें ज़िंदगी भर।
ना छुपाना कोई बात दिल में हो अगर;
रखना थोड़ा भरोसा हम पर;
हम निभाएंगे प्यार का यह रिश्ता इस कदर;
कि भुलाने पर भी ना भुला पाओगे हमें ज़िंदगी भर।
ऐसा कौन सा काम है जो एक आदमी पूरे जीवन मे एक ही बार करता है और वही काम औरत हर रोज करती है?
ऐसा कौन सा काम है जो एक आदमी पूरे जीवन मे एक ही बार करता है और वही काम औरत हर रोज करती है?

ज़िंदगी में मुश्किलें तमाम हैं; 
फिर भी लबों पे एक मुस्कान है; 
क्योंकि जब जीना हर हाल में है; 
तो मुस्कुरा कर जीने में क्या नुक्सान है।
ज़िंदगी में मुश्किलें तमाम हैं;
फिर भी लबों पे एक मुस्कान है;
क्योंकि जब जीना हर हाल में है;
तो मुस्कुरा कर जीने में क्या नुक्सान है।
इस तरह ना कमाओ कि पाप हो जाये, 
इस तरह ना खर्च करो कि क़र्ज़ हो जाये, 
इस तरह ना खाओ कि मर्ज़ हो जाये, 
इस तरह ना बोलो कि क्लेश हो जाये, 
इस तरह ना चलो कि देर हो जाये, 
इस तरह ना सोचो कि चिंता हो जाये।
इस तरह ना कमाओ कि पाप हो जाये,
इस तरह ना खर्च करो कि क़र्ज़ हो जाये,
इस तरह ना खाओ कि मर्ज़ हो जाये,
इस तरह ना बोलो कि क्लेश हो जाये,
इस तरह ना चलो कि देर हो जाये,
इस तरह ना सोचो कि चिंता हो जाये।
मोदी जी का सूट खरीदने वाला अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहा है। 
क्योंकि केजरीवाल जी ने कहा था कि इसकी एक जेब में अदानी और एक जेब में अंबानी है मगर उसे तो कोई नहीं मिला।
मोदी जी का सूट खरीदने वाला अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहा है।
क्योंकि केजरीवाल जी ने कहा था कि इसकी एक जेब में अदानी और एक जेब में अंबानी है मगर उसे तो कोई नहीं मिला।
ख़ास उम्मीदें तो नहीं थी मेरी रेल बजट को लेकर लेकिन एक ख्वाहिश थी,
"शौचालय में गलत नंबर लिखने वालों को 2 साल सश्रम कारावास की सजा का प्रावधान हो।"
जिस देश में लोगों को रात दस बजे तक ये नहीं पता रहता कि उनका बॉस कल की छुट्टी अप्रूव करेगा या नहीं, वहाँ चार महीने पहले टिकट रिज़र्व करवाने की छूट देना उनकी भावनाओँ के साथ बहुत बड़ा खिलवाड़ है।