दौलत भी क्या चीज़ है, जब आती है तो इंसान खुद को भूल जाता है और जब जाती है तो ज़माना उसको भूल जाता है।
दौलत भी क्या चीज़ है, जब आती है तो इंसान खुद को भूल जाता है और जब जाती है तो ज़माना उसको भूल जाता है।
पलकों में कैद कुछ सपने हैं;<br/>
कुछ बैगाने और कुछ अपने हैं;<br/>
ना जाने क्या कशिश है इन ख्यालों में;<br/>
कुछ लोग हमसे दूर होकर भी कितने अपने हैं।<br/>
शुभ रात्रि!
पलकों में कैद कुछ सपने हैं;
कुछ बैगाने और कुछ अपने हैं;
ना जाने क्या कशिश है इन ख्यालों में;
कुछ लोग हमसे दूर होकर भी कितने अपने हैं।
शुभ रात्रि!
अमेरिका से चलते वक़्त डॉक्टरों ने दोबारा अच्छी तरह चेकअप किया और सुनिश्चित किया कि ओबामा को आगरा जाने की कोई ज़रुरत नहीं है।
गर्मियों में ठंडी हवा के लिये माँगी हुई दुआ अब सर्दियों में कबूल होते हुए देखकर यकीन हो गया है कि...
.
.
.
.
.
.
.
ऊपर वाले के घर देर है अंधेर नही।
क्या ख़ाक अमीर देश है अमेरिका? 

ओबामा सुबह से एक ही ड्रेस में घूम रहा था। जबकि हमारे महाप्रभु, दिन में चार-चार ड्रेस बदलते थे। 

इसे कहते है रईसी, समझे?
क्या ख़ाक अमीर देश है अमेरिका?
ओबामा सुबह से एक ही ड्रेस में घूम रहा था। जबकि हमारे महाप्रभु, दिन में चार-चार ड्रेस बदलते थे।
इसे कहते है रईसी, समझे?
आदमी (अपनी सास से): आपकी बेटी में तो हज़ारों कमियां हैं। 
 
सास: हाँ बेटा, इसी वजह से तो उसे कोई अच्छा लड़का नहीं मिला।
आदमी (अपनी सास से): आपकी बेटी में तो हज़ारों कमियां हैं।
सास: हाँ बेटा, इसी वजह से तो उसे कोई अच्छा लड़का नहीं मिला।
क्या आपको यह जानकर डर नहीं लगता कि डॉक्टर अपने काम को 'PRACTICE' कहते हैं?
क्या आपको यह जानकर डर नहीं लगता कि डॉक्टर अपने काम को "PRACTICE" कहते हैं?
प्यार क्या है? 
अगर समझो तो ये भावना है; 
इससे खेलो तो ये एक खेल है; 
अगर साँसों में हो तो श्वास है; 
और दिल में हो तो विश्वास है; 
अगर निभाओ तो पूरी ज़िन्दगी है; 
और बना लो तो ये पूरा संसार है।
प्यार क्या है?
अगर समझो तो ये भावना है;
इससे खेलो तो ये एक खेल है;
अगर साँसों में हो तो श्वास है;
और दिल में हो तो विश्वास है;
अगर निभाओ तो पूरी ज़िन्दगी है;
और बना लो तो ये पूरा संसार है।
हर दर्द की एक पहचान होती है; 
ख़ुशी चंद लम्हों की मेहमान होती है; 
वही बदलते हैं रुख हवाओं का; 
जिनके इरादों में जान होती है।
हर दर्द की एक पहचान होती है;
ख़ुशी चंद लम्हों की मेहमान होती है;
वही बदलते हैं रुख हवाओं का;
जिनके इरादों में जान होती है।
भूखा पेट, खाली जेब और झूठा प्रेम इंसान को बहुत कुछ सिखा जाता है।