मेहनत उसकी लाठी है मजबूती उसकी काठी है;  
बुलंदी नहीं पर नीव है यही मजदूरी जीव है। 
मज़दूर दिवस की शुभ कामनायें!
मेहनत उसकी लाठी है मजबूती उसकी काठी है;
बुलंदी नहीं पर नीव है यही मजदूरी जीव है।
मज़दूर दिवस की शुभ कामनायें!
हर कोई यहाँ मजदूर है चाहे पहने सूट बूट या कुर्ता मैला; 
मेहनत करके कमाता है कोई सैकड़ा कोई  देहला; 
हर कोई मजदूर ही कहलाता है चाहे अनपढ़ या हो पढ़ा लिखा; 
मज़दूर दिवस की शुभ कामनायें!
हर कोई यहाँ मजदूर है चाहे पहने सूट बूट या कुर्ता मैला;
मेहनत करके कमाता है कोई सैकड़ा कोई देहला;
हर कोई मजदूर ही कहलाता है चाहे अनपढ़ या हो पढ़ा लिखा;
मज़दूर दिवस की शुभ कामनायें!
एक बुज़ुर्ग दम्पति अदालत में तलाक के लिए गया। 
जज ने बुजुर्ग महिला से पूछा, 'इस उम्र में तलाक क्यों लेना चाहती हैं आप?' 
महिला: जज साहब, मेरे पति मुझ पर मानसिक अत्याचार कर रहे हैं। 
जज: वो कैसे? 
महिला: इनकी जब मर्ज़ी होती है, मुझे खरी-खोटी सुना देते हैं... और जब मैं बोलना शुरू करती हूँ तो अपने कान की मशीन निकाल देते हैं।
एक बुज़ुर्ग दम्पति अदालत में तलाक के लिए गया।
जज ने बुजुर्ग महिला से पूछा, "इस उम्र में तलाक क्यों लेना चाहती हैं आप?"
महिला: जज साहब, मेरे पति मुझ पर मानसिक अत्याचार कर रहे हैं।
जज: वो कैसे?
महिला: इनकी जब मर्ज़ी होती है, मुझे खरी-खोटी सुना देते हैं... और जब मैं बोलना शुरू करती हूँ तो अपने कान की मशीन निकाल देते हैं।
पठान: कल एक पहलवान ने मेरे भाई को पीटा। मुझे पता लगा तो मैं तो सीधा उसके घर घुस गया। 
सिंधी: तो फिर क्या हुआ? 
पठान: वही, जो मेरे भाई के साथ हुआ। पहलवान ने मुझे भी खूब पीटा।
पठान: कल एक पहलवान ने मेरे भाई को पीटा। मुझे पता लगा तो मैं तो सीधा उसके घर घुस गया।
सिंधी: तो फिर क्या हुआ?
पठान: वही, जो मेरे भाई के साथ हुआ। पहलवान ने मुझे भी खूब पीटा।
टीचर: 900 चूहे खा कर बिल्ली हज को चली। उदाहरण के साथ समझाओ। 
पप्पू: राहुल गाँधी 56 दिन की थाईलैंड यात्रा के बाद केदारनाथ में पूजा करने गए।
टीचर: 900 चूहे खा कर बिल्ली हज को चली। उदाहरण के साथ समझाओ।
पप्पू: राहुल गाँधी 56 दिन की थाईलैंड यात्रा के बाद केदारनाथ में पूजा करने गए।
दहेज किसे कहते हैं?
अद्वितीय जवाब:
जब कोई लड़का किसी लड़की को जीवन भर झेलने के लिए तैयार हो जाता हो तो इसके बदले उसे दी जाने वाली प्रोत्साहन राशि को दहेज कहते हैं।
मुझे बनाने का शौक था और भईया को गिराने का! 
आज बीस साल बाद मैं पैग बना रहा हूँ और भईया इसमें बर्फ गिरा रहे हैं।
मुझे बनाने का शौक था और भईया को गिराने का!
आज बीस साल बाद मैं पैग बना रहा हूँ और भईया इसमें बर्फ गिरा रहे हैं।
कड़वा भी इसलिए लगता हूँ लोगों को क्योंकि सच बोलता हूँ; 
तुम कहो तो मीठा हो जाऊं फिर यह ना कहना बहुत झूठ बोलते हो यार।
कड़वा भी इसलिए लगता हूँ लोगों को क्योंकि सच बोलता हूँ;
तुम कहो तो मीठा हो जाऊं फिर यह ना कहना बहुत झूठ बोलते हो यार।
ਕੱਚ ਤੇ ਸੱਚ ਹਮੇਸ਼ਾ ਚੁੱਭਦਾ ਹੈ।
ਕੱਚ ਤੇ ਸੱਚ ਹਮੇਸ਼ਾ ਚੁੱਭਦਾ ਹੈ।
पानी से तस्वीर कहाँ बनती है; 
ख्वाबों से तकदीर कहाँ बनती है; 
किसी भी रिश्ते को सच्चे दिल से निभाओ; 
क्योंकि ये ज़िन्दगी फिर वापस कहाँ मिलती है।
पानी से तस्वीर कहाँ बनती है;
ख्वाबों से तकदीर कहाँ बनती है;
किसी भी रिश्ते को सच्चे दिल से निभाओ;
क्योंकि ये ज़िन्दगी फिर वापस कहाँ मिलती है।