कुछ कर गुजरने के लिए, मौसम नहीं मन चाहिए; 
साधन सभी जुट जायेंगे, बस संकल्प का धन चाहिए।
कुछ कर गुजरने के लिए, मौसम नहीं मन चाहिए;
साधन सभी जुट जायेंगे, बस संकल्प का धन चाहिए।
इंसान तो हर घर मे जन्म लेता है,बस इंसानियत कही-कही ही जन्म लेती है।
इंसान तो हर घर मे जन्म लेता है,बस इंसानियत कही-कही ही जन्म लेती है।
जो परमात्मा को दिल देते हैं, 
परमात्मा उन्हें दिल से देते हैं। 
सुप्रभात!
जो परमात्मा को दिल देते हैं,
परमात्मा उन्हें दिल से देते हैं।
सुप्रभात!
टीचर पप्पू से : नालायक क्लास में दिनभर लड़कियों के साथ इतनी बातें क्यों करते हो? 
पप्पू टीचर से: मैं गरीब हूं! मेरे मोबाइल में व्हाटसप नहीं है।
टीचर पप्पू से : नालायक क्लास में दिनभर लड़कियों के साथ इतनी बातें क्यों करते हो?
पप्पू टीचर से: मैं गरीब हूं! मेरे मोबाइल में व्हाटसप नहीं है।
एक पुलिस वाले की तपस्या से खुश होकर भगवान ने उसे दर्शन दिये और बोले, "मांगो वत्स क्या चाहिये?"
पुलिस वाले के कुछ बोलने से पहले ही भगवान टोकते हुए बोले, "वत्स, 3 चीज़ें छोड़कर ही माँगना -
1. Home District में पोस्टिंग के बारे में कुछ नहीं पूछना
2. Salary बढेगी या नहीं इस के बारे में कुछ नहीं पूछना
3. छुट्टी जाने के बारे में तो सपने में भी नहीं सोचना
अब मांगो क्या चाहिये?"
पुलिस वाला: प्रभु, आपने दर्शन दिए, उसके लिए धन्यवाद, मुझे ड्यूटी पर जाना है। लेट हो गया आपके चक्कर में।
बीवी अगर मायके गयी हो तो आदमी तब तक बरतन नहीं धोता जब तक
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
चाय कढ़ाई में बनाने की नौबत ना आ जाये।
सिर दर्द होने पर कुछ देर बीवी से ज़रूर बात करें, क्योंकि...

.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
ज़हर ही ज़हर को काटता है।
शक्कर के दाम डायबिटीज कंट्रोल रखने के लिए बढ़ाये है और पैट्रोल के दाम ताकि आप वाकिंग ज्यादा करे समझे? 
मोदी जी का दिमाग चाचा चौधरी से भी तेज है। 
परेशान न हो रसोई गैस के दाम बढ़ा कर डाइटिंग भी करवा देंगे, 
क्योंकि पहला सुख निरोगी काया।
शक्कर के दाम डायबिटीज कंट्रोल रखने के लिए बढ़ाये है और पैट्रोल के दाम ताकि आप वाकिंग ज्यादा करे समझे?
मोदी जी का दिमाग चाचा चौधरी से भी तेज है।
परेशान न हो रसोई गैस के दाम बढ़ा कर डाइटिंग भी करवा देंगे,
क्योंकि पहला सुख निरोगी काया।
सोनिया (जम्मू में): हमारे बंगाल में जो खड्डे हैं, ये गुलाम नहीं, आजाद हैं। 
दूसरा नेता: अरे मैडम, मरवा दिया, कबाड़ा कर दिया, हमने तो लिख कर दिया था, 
'हमारे बगल में जो खडे हैं, वो गुलाम नबी आजाद हैं।'
सोनिया (जम्मू में): हमारे बंगाल में जो खड्डे हैं, ये गुलाम नहीं, आजाद हैं।
दूसरा नेता: अरे मैडम, मरवा दिया, कबाड़ा कर दिया, हमने तो लिख कर दिया था,
"हमारे बगल में जो खडे हैं, वो गुलाम नबी आजाद हैं।"
गलतियों से जुदा तु भी नहीं, मैं भी नहीं; 
दोनों इंसान हैं, ख़ुदा तु भी नहीं, मैं भी नहीं; 
गलतफहमियों ने कर दी दोनों में पैदा दूरियां; 
वरना फितरत का बुरा तु भी नहीं था, मैं भी नहीं।
गलतियों से जुदा तु भी नहीं, मैं भी नहीं;
दोनों इंसान हैं, ख़ुदा तु भी नहीं, मैं भी नहीं;
गलतफहमियों ने कर दी दोनों में पैदा दूरियां;
वरना फितरत का बुरा तु भी नहीं था, मैं भी नहीं।