मुस्कराकर, दर्द भुलाकर,<br/>
रिश्तों में बंद थी दुनिया सारी,<br/>
हर पग को रोशन करने वाली,<br/>
वो शक्ति हैं एक नारी।<br/>
महिला दिवस की शुभ कामनायें!
मुस्कराकर, दर्द भुलाकर,
रिश्तों में बंद थी दुनिया सारी,
हर पग को रोशन करने वाली,
वो शक्ति हैं एक नारी।
महिला दिवस की शुभ कामनायें!
दुनिया की पहचान है औरत;<br/>
दुनिया पर एहसान है औरत;<br/>
हर घर की जान है औरत;<br/>
बेटी, माँ, बहन, भाभी बनकर,<br/>
घर-घर की शान है औरत;<br/>
ना समझो इसको तुम कमज़ोर कभी, ये है रिश्तों की डोर;<br/>
मर्यादा और सम्मान है औरत।<br/>
महिला दिवस की शुभ कामनायें!
दुनिया की पहचान है औरत;
दुनिया पर एहसान है औरत;
हर घर की जान है औरत;
बेटी, माँ, बहन, भाभी बनकर,
घर-घर की शान है औरत;
ना समझो इसको तुम कमज़ोर कभी, ये है रिश्तों की डोर;
मर्यादा और सम्मान है औरत।
महिला दिवस की शुभ कामनायें!
ऐ औरत तुझे क्या कहूँ तेरी हर बात निराली है;<br/>
तू एक ऐसा पौधा है जिस घर रहे, वहाँ हरियाली ही हरियाली है;<br/>
तेरी शान में सिर्फ इतना कह सकते हैं कि तेरी ऊंचाइयों के सामने आसमान भी नहीं रह सकता है;<br/>
मेरा सिर्फ इतना सा एक पैगाम है, ऐ औरत तुझे मेरा सिर झुका कर सलाम है।<br/>
सभी महिलाओं को महिला दिवस की शुभ कामनायें!
ऐ औरत तुझे क्या कहूँ तेरी हर बात निराली है;
तू एक ऐसा पौधा है जिस घर रहे, वहाँ हरियाली ही हरियाली है;
तेरी शान में सिर्फ इतना कह सकते हैं कि तेरी ऊंचाइयों के सामने आसमान भी नहीं रह सकता है;
मेरा सिर्फ इतना सा एक पैगाम है, ऐ औरत तुझे मेरा सिर झुका कर सलाम है।
सभी महिलाओं को महिला दिवस की शुभ कामनायें!
आज का ज्ञान:<br/>
अगर चैन से और अच्छे से जीना चाहते हो तो सबसे पहले अपने रिश्तेदारों को Block मारो।
आज का ज्ञान:
अगर चैन से और अच्छे से जीना चाहते हो तो सबसे पहले अपने रिश्तेदारों को Block मारो।
सच्चा दोस्त ही आपको सिर्फ दो बातें बताता है।<br/>
1. अंडा नॉन-वेज नहीं होता<br/>
2. बीयर दारू नहीं होती
सच्चा दोस्त ही आपको सिर्फ दो बातें बताता है।
1. अंडा नॉन-वेज नहीं होता
2. बीयर दारू नहीं होती
सास (बहु से): बहु तुम्हें रसोई में क्या आता है?<br/>
बहु: चक्कर!
सास (बहु से): बहु तुम्हें रसोई में क्या आता है?
बहु: चक्कर!
कल रात मुझे 'बैंक जाने का सपना आया'।<br/>
सुबह उठ के देखा तो मेरे खाते में से 15 रूपये कट गये थे।
कल रात मुझे "बैंक जाने का सपना आया"।
सुबह उठ के देखा तो मेरे खाते में से 15 रूपये कट गये थे।
आई मुसीबत देख के, गँजे तू क्यों रोये?<br/>
आये मुसीबत कोई भी, तेरा बाल ना बाँका होये।
आई मुसीबत देख के, गँजे तू क्यों रोये?
आये मुसीबत कोई भी, तेरा बाल ना बाँका होये।
एक आदमी किसी कॉलेज की टॉयलेट में गया। अंदर टॉयलेट सीट पर बैठा तो देखा सामने दीवार पर लिखा हुआ था...<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
इतना जोर अगर पढ़ाई में लगाता तो आज किसी अच्छी सीट पर बैठा होता।
एक आदमी किसी कॉलेज की टॉयलेट में गया। अंदर टॉयलेट सीट पर बैठा तो देखा सामने दीवार पर लिखा हुआ था...
.
.
.
.
.
.
.
.
इतना जोर अगर पढ़ाई में लगाता तो आज किसी अच्छी सीट पर बैठा होता।
पहले लड़कियाँ अपने नाम में Devi लगाती थीं तो उन्हें पति भी देवता मिलते थे।<br/>
अब लड़कियाँ Angel लगाती हैं तो उन्हें पति राक्षस ही मिलेंगे।
पहले लड़कियाँ अपने नाम में Devi लगाती थीं तो उन्हें पति भी देवता मिलते थे।
अब लड़कियाँ Angel लगाती हैं तो उन्हें पति राक्षस ही मिलेंगे।