आपकी दोस्ती पे नाज़ है हमें; 
कल था जितना भरोसा उतना ही आज है हमें; 
दोस्त वो नहीं जो ख़ुशी में साथ दे; 
दोस्त वही जो हर पल अपनेपन का एहसास दे।
आपकी दोस्ती पे नाज़ है हमें;
कल था जितना भरोसा उतना ही आज है हमें;
दोस्त वो नहीं जो ख़ुशी में साथ दे;
दोस्त वही जो हर पल अपनेपन का एहसास दे।
अपनी तो ज़िन्दगी है अजीब कहानी है; 
जिस चीज़ को चाहा वो चीज़ ही बेगानी है; 
हँसते भी है तो दुनिया को हँसाने के लिए; 
वरना दुनिया डूब जाये इन आखों में इतना पानी है।
अपनी तो ज़िन्दगी है अजीब कहानी है;
जिस चीज़ को चाहा वो चीज़ ही बेगानी है;
हँसते भी है तो दुनिया को हँसाने के लिए;
वरना दुनिया डूब जाये इन आखों में इतना पानी है।
आसमान में न देखो अपने सपनों को; 
सपनों के लिए ज़मीन की जरूरत होती है; 
सब कुछ मिले ज़िन्दगी में तो जीने का क्या मज़ा; 
जीने के लिए एक कमी की जरूरत भी जरूरी होती है।
आसमान में न देखो अपने सपनों को;
सपनों के लिए ज़मीन की जरूरत होती है;
सब कुछ मिले ज़िन्दगी में तो जीने का क्या मज़ा;
जीने के लिए एक कमी की जरूरत भी जरूरी होती है।
दूसरों को उतनी जल्दी क्षमा करें जितनी जल्दी आप ऊपर वाले से अपने लिए चाहते हैं।
दूसरों को उतनी जल्दी क्षमा करें जितनी जल्दी आप ऊपर वाले से अपने लिए चाहते हैं।
हम भारतीय क्वाटर फाइनल हार ही नहीं सकते। क्योंकि...
.
.
.
.
.
.
.
हमें जहाँ "क्वाटर" मिल जाये फाइनल करके ही आते हैं।
एक बार पठान डॉक्टर के पास गया और बोला, 
'डॉक्टर साहब सुना है आप मरीज लाने वाले को कमीशन देते हैं।' 
डॉक्टर: कहाँ है मरीज? 
पठान: जी मैं ही हूँ।
एक बार पठान डॉक्टर के पास गया और बोला,
"डॉक्टर साहब सुना है आप मरीज लाने वाले को कमीशन देते हैं।"
डॉक्टर: कहाँ है मरीज?
पठान: जी मैं ही हूँ।
पत्नी: मैं जो भी काम करती हूँ उसमे पूरी तरह डूब जाती हूँ। 
पति: तुम किसी दिन कुआँ क्यों नहीं खोदती?
पत्नी: मैं जो भी काम करती हूँ उसमे पूरी तरह डूब जाती हूँ।
पति: तुम किसी दिन कुआँ क्यों नहीं खोदती?
दुनिया का सबसे अमीर आदमी कौन?
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
जिसको दारु चढ़ गयी हो!
होंठों पे उल्फत के फ़साने नहीं आते; 
जो बीत गए फिर वो ज़माने नहीं आते; 
दोस्त ही होते हैं दोस्तों के हमदर्द; 
कोई फ़रिश्ते यहाँ साथ निभाने नहीं आते।
होंठों पे उल्फत के फ़साने नहीं आते;
जो बीत गए फिर वो ज़माने नहीं आते;
दोस्त ही होते हैं दोस्तों के हमदर्द;
कोई फ़रिश्ते यहाँ साथ निभाने नहीं आते।
हर मुश्किल में से आसानी से गुज़र जायें; 
हँसते-हँसते जिंदगी सवारें; 
दुआओं में याद रखते हैं हम आपको हरदम; 
इसी तरह खुश रहना हमेशा बस यही चाहते हैं हम। 
जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनायें!
हर मुश्किल में से आसानी से गुज़र जायें;
हँसते-हँसते जिंदगी सवारें;
दुआओं में याद रखते हैं हम आपको हरदम;
इसी तरह खुश रहना हमेशा बस यही चाहते हैं हम।
जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनायें!