Hindi SMS (Page 8)

Page: 8
एक बार रजनीकांत भी इंजीनियरिंग की परीक्षा देने पहुंचे।
पता है क्या हुआ?
.
.
.
.
.
फेल
.
.
.
.
.
क्योंकि बेटा ये इंजीनियरिंग है। रजनी हो या गजनी, सबकी है बजनी।
मछली जल की रानी है का मॉडर्न वर्जिन:
पत्नी घर की रानी है;
करती अपनी मनमानी है;
काम बताओ चिढ़ जाएगी;
शॉपिंग कराओ खिल जाएगी।
वो यारों की महफ़िल वो मुस्कुराते पल;<br/>
दिल से जुदा है अपना बीता हुआ कल;<br/>
कभी गुज़रती थी ज़िंदगी वक़्त बिताने में;<br/>
अब वक़्त गुज़रता है चाँद कागज़ के नोट कमाने में।
वो यारों की महफ़िल वो मुस्कुराते पल;
दिल से जुदा है अपना बीता हुआ कल;
कभी गुज़रती थी ज़िंदगी वक़्त बिताने में;
अब वक़्त गुज़रता है चाँद कागज़ के नोट कमाने में।
सभी खाली स्थान में एक ही शब्द भरो:<br/>
एक गली में ____ बच्चे खेल रहे थे। उस गली में से एक ____ औरत गुज़री। उस औरत ने हाथ में ___ पकड़ी थी। ___ बच्चों ने उस ____ औरत की ____ गिरा दी।
सभी खाली स्थान में एक ही शब्द भरो:
एक गली में ____ बच्चे खेल रहे थे। उस गली में से एक ____ औरत गुज़री। उस औरत ने हाथ में ___ पकड़ी थी। ___ बच्चों ने उस ____ औरत की ____ गिरा दी।

ऐ खुदा तू भी अपना जलवा दिखा दे;<br/>
हर किसी की ज़िंदगी तू अपने नूर से सज़ा दे;<br/>
जो हैं बैठे खामोश से इस समय;<br/>
उनकी ज़िंदगी भी तू अपने कर्म से रौशन कर दे।
ऐ खुदा तू भी अपना जलवा दिखा दे;
हर किसी की ज़िंदगी तू अपने नूर से सज़ा दे;
जो हैं बैठे खामोश से इस समय;
उनकी ज़िंदगी भी तू अपने कर्म से रौशन कर दे।
तुझसे दूर अब हम जा नहीं सकते;<br/>
तुझसे प्यार कितना है यह हम बता नहीं सकते;<br/>
हमें मालूम है ये ज़िन्दगी है चार दिन की लेकिन;<br/>
तेरे बिन ये चार दिन तो क्या दो पल भी हम बिता नहीं सकते।
तुझसे दूर अब हम जा नहीं सकते;
तुझसे प्यार कितना है यह हम बता नहीं सकते;
हमें मालूम है ये ज़िन्दगी है चार दिन की लेकिन;
तेरे बिन ये चार दिन तो क्या दो पल भी हम बिता नहीं सकते।
मेरी मंज़िल मेरे करीब है;<br/>
इसका मुझे एहसास है;<br/>
गुमान नहीं मुझे इरादों प अपने;<br/>
ये मेरी सोच और हौंसलों का विश्वास है।
मेरी मंज़िल मेरे करीब है;
इसका मुझे एहसास है;
गुमान नहीं मुझे इरादों प अपने;
ये मेरी सोच और हौंसलों का विश्वास है।
अगर आपका मित्र आपकी सफलता से ईर्ष्या करता है तो यह बात स्पष्ट है कि वो आपका कभी मित्र था ही नहीं।
अगर आपका मित्र आपकी सफलता से ईर्ष्या करता है तो यह बात स्पष्ट है कि वो आपका कभी मित्र था ही नहीं।
जब शाम के बाद आ जाती है रात;<br/>
हर बात में फिर समा जाती है तेरी याद;<br/>
बहुत तनहा हो जाती ये जिंदगी मेरी;<br/>
अगर नहीं मिलता कभी जो आपका साथ।<br/>
शुभ रात्रि!
जब शाम के बाद आ जाती है रात;
हर बात में फिर समा जाती है तेरी याद;
बहुत तनहा हो जाती ये जिंदगी मेरी;
अगर नहीं मिलता कभी जो आपका साथ।
शुभ रात्रि!
किसी के पैग़ाम को ज़रा प्यार से पढ़ा कीजिये;<br/>
किसी की चाहत का कुछ तो एहसास किया कीजिये;<br/>
कोई दिल से कर रहा है याद आपको;<br/>
और आप कहते हैं कि परेशान मत किया कीजिये।<br/>
सुप्रभात!
किसी के पैग़ाम को ज़रा प्यार से पढ़ा कीजिये;
किसी की चाहत का कुछ तो एहसास किया कीजिये;
कोई दिल से कर रहा है याद आपको;
और आप कहते हैं कि परेशान मत किया कीजिये।
सुप्रभात!

Quotes

हम भगवान को खोजने कहाँ जा सकते हैं, अगर हम उसे अपने इस दिल में नहीं ढूंढ सकते।

Trivia

Salman Khan likes to collect soaps. In his bathroom, there is a collection of all kinds of handmade and herbal soaps. His favorites are soaps made from natural fruit and vegetable extracts.

Graffiti

A student who changes the course of 'History' is probably taking an exam!