• पत्नी नयी पारदर्शी ब्रा और पेंटी पहनकर पति के सामने खड़ी हो गयी।
    पति: यार बड़ी सेक्सी लग रही हो... लंड खड़ा कर दिया।
    पत्नी: दुकानदार भी यही बोल रहा था।
  • एक अनपढ़ लड़की की सुहागरात के अगले दिन उसकी पढ़ी-लिखी बहन उसे छेड़ने के लिए फोन करती है...
    बहन: और दीदी कैसी रही आपकी सुहागरात? मज़ा आया कि नहीं?
    दीदी: हाँ, बहुत मजा आया।
    बहन: और जीजा जी का नेचर कैसा है?
    दीदी (शरमाते हुए): बहुत मोटा है।
  • यार ये Condom बनाने वालों ने मस्त मस्त खुशबू वाले फ्लेवर निकाल दिए हैं।
    बाजू से कोई औरत निकल जाए तो पता ही नहीं चलता कि नहा के आई है या मरवा के?
  • आदमी की सैलेरी, औरत की पीरियड जैसी होती है। जो 30 दिन में एक बार आती है और चार दिन में ख़त्म।
    किसी महीने नहीं आये तो समझो की लौड़े लग गये।
  • चुदाई का नाम सुनते ही बचपन में कान खड़े हो जाते हैं, जवानी में लंड खड़ा हो जाता है और बुढ़ापे मे रोंगटे
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    मर्द आखिर मर्द है, कुछ ना कुछ खड़ा कर ही लेता है।
  • अभी रिलीज हुआ है:
    चंदू के चाचा ने चंदू की चाची को चांदनी रात में चद्दर के नीचे चार बार चोदा।
  • छोरा: तेरे याद सै मैं कदे थारी गली मै कैंची मार साइकिल चलाकै भी ड्रिफ्ट मार्या करता?
    छोरी: हाँ वो दिन तो जमा याद सै जब म्हारे चौतरे पै तेरे चूतड़ जाकै लागे थे।
  • बस में 1 छोरी के 1 बुढे न ऊँगली लगा दी।
    छोरी: ताऊ आंदा होरया स के?
    ताऊ: क्यों ऊँगली ठीक नी लागी के?
  • हरियाणा में बालक तो बालक उनते पढाण आले मास्टर भी कसुत्ते पड़े हैं। एक बर क्लास में मास्टर बालकां ते पढाण लगया।
    मास्टर: चलो बालकों पढ़ना शुरू करो।
    एक छोरा: मास्टर जी हाजरी ते ले ल्यो।
    मास्टर पड़ते ही बोल्या, "धी के लवड़ो हाजरी ने आड़े मनरेगा की दिहाड़ी पे आ रे हो?"
  • लडकी कितनी भी गोरी क्यो न हो उसकी एक चीज हमेशा काली रहती है...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    परछाई भोंसड़ी वालों, परछाई!