• नवरात्रि के इस पावन पर्व पर माँ नैना देवी आपके नैनो की रक्षा करे, <br />
माँ चिंतपूर्णी आपकी सभी चिंता दूर करे, माँ कामना देवी आपकी सभी मनोकामना पूरी करे।<br />
शुभ नवरात्रि!Upload to Facebook
    नवरात्रि के इस पावन पर्व पर माँ नैना देवी आपके नैनो की रक्षा करे,
    माँ चिंतपूर्णी आपकी सभी चिंता दूर करे, माँ कामना देवी आपकी सभी मनोकामना पूरी करे।
    शुभ नवरात्रि!
  • खामोश चेहरे पर हज़ारों पहरे होते हैं;<br />
हँसती आँखों में भी ज़ख़्म गहरे होते हैं;<br />
जिनसे अक्सर रूठ जाते हैं हम;<br />
असल में उनसे ही तो रिश्ते और गहरे होते हैं।Upload to Facebook
    खामोश चेहरे पर हज़ारों पहरे होते हैं;
    हँसती आँखों में भी ज़ख़्म गहरे होते हैं;
    जिनसे अक्सर रूठ जाते हैं हम;
    असल में उनसे ही तो रिश्ते और गहरे होते हैं।
  • एक बात हमेशा याद रखना दोस्तों,<br />
ढूंढने पर वही मिलेंगे जो खो गए थे,<br />
वो कभी नहीं मिलेंगे जो बदल गए हैं।Upload to Facebook
    एक बात हमेशा याद रखना दोस्तों,
    ढूंढने पर वही मिलेंगे जो खो गए थे,
    वो कभी नहीं मिलेंगे जो बदल गए हैं।
  • जो बिगड़ी गाड़ियाँ सुधारे, वो मैकेनिक;<br />
जो बिगड़ी मशीनें संवारे, वो इंजीनियर;<br />
जो बिगड़े शरीरों को सुधारे, वो डॉक्टर;<br />
जो बिगड़े मुक़द्दर संवारे, वो परमात्मा।Upload to Facebook
    जो बिगड़ी गाड़ियाँ सुधारे, वो मैकेनिक;
    जो बिगड़ी मशीनें संवारे, वो इंजीनियर;
    जो बिगड़े शरीरों को सुधारे, वो डॉक्टर;
    जो बिगड़े मुक़द्दर संवारे, वो परमात्मा।
  • पापी चाहे कितनी भी चतुराई से पाप करे लेकिन अंत में पापी को दण्ड भुगतना ही पड़ता है।Upload to Facebook
    पापी चाहे कितनी भी चतुराई से पाप करे लेकिन अंत में पापी को दण्ड भुगतना ही पड़ता है।
  • सितारों को भेजा है आपको सुलाने के लिए;
    चाँद आया है आपको लोरी सुनाने के लिए;
    सो जाओ मीठे ख़्वाबों में आप;
    सुबह सूरज को भेजेंगे आपको जगाने के लिए।
    शुभ रात्रि!
  • मीठे बोल बोलिए क्योंकि<br />
अल्फाजों में जान होती है,<br />
इन्हीं से आरती, अरदास और अजान होती है,<br />
ये दिल के समंदर के वो मोती हैं, जिनसे इंसान की पहचान होती है।<br />
सुप्रभात!Upload to Facebook
    मीठे बोल बोलिए क्योंकि
    अल्फाजों में जान होती है,
    इन्हीं से आरती, अरदास और अजान होती है,
    ये दिल के समंदर के वो मोती हैं, जिनसे इंसान की पहचान होती है।
    सुप्रभात!
  • बुजुर्ग कहते है गर्मियों में प्याज खाने से "लू" नहीं लगती।
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    पर उन्हें कौन समझाए कि प्याज खाने के बाद गर्लफ्रेंड भी मुँह नहीं लगती!
  • व्रत के नाम पर 2 किलो अंगूर, 2 दर्जन केले, 1 किलो चीकू, 1 किलो पपीता निपटाने वालो....
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    माता रानी माफ नहीं करेंगी।
  • मुझे "अंग्रेजी" पसंद है।
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    पर क्या करूँ महंगी बहुत है।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT