• पठान: मैंने कल एक सपना देखा।<br/>
सिंधी: अच्छा क्या देखा सपने में?<br/>
पठान: यार कुछ दिखाई ही नहीं दिया।<br/>
सिंधी: क्यों?<br/>
पठान: वो मेरी आँखें बंद थी न, इसलिए।
    पठान: मैंने कल एक सपना देखा।
    सिंधी: अच्छा क्या देखा सपने में?
    पठान: यार कुछ दिखाई ही नहीं दिया।
    सिंधी: क्यों?
    पठान: वो मेरी आँखें बंद थी न, इसलिए।
  • धर्मेन्द्र ने जब हेमा मालिनी से शादी करने के लिए अपना धर्म बदला तो उनकी पहली पत्नी ने कहा:
    "अब धरम बदल गया है।"
  • आज लोग मंदिर में चप्पल भी ऐसी जगह उतारते हैं,
    जहाँ से भगवान भी दिखे और चप्पल भी।
  • तेरी मोहब्बत में एक अजब सा नशा है;<br/>
तभी तो सारी दुनिया हमसे ख़फ़ा है;<br/>
ना करो तुम हमसे इतनी मोहब्बत;<br/>
कि दिल ही हमसे पूछे बता तेरी धड़कन कहाँ है।
    तेरी मोहब्बत में एक अजब सा नशा है;
    तभी तो सारी दुनिया हमसे ख़फ़ा है;
    ना करो तुम हमसे इतनी मोहब्बत;
    कि दिल ही हमसे पूछे बता तेरी धड़कन कहाँ है।
  • फूल बनकर मुस्कुराना है ज़िंदगी;<br/>
मुस्कुराते हुए सब ग़म भुलाना है ज़िंदगी;<br/>
जीत का जश्न तो हर कोई मना लेता है;<br/>
हार कर खुशियां मनाना भी है ज़िंदगी।
    फूल बनकर मुस्कुराना है ज़िंदगी;
    मुस्कुराते हुए सब ग़म भुलाना है ज़िंदगी;
    जीत का जश्न तो हर कोई मना लेता है;
    हार कर खुशियां मनाना भी है ज़िंदगी।
  • तजुर्बे ने शेरों को खामोश रहना सिखाया;
    क्योंकि दहाड़ कर शिकार नहीं किया जाता;
    कुत्ते भौंकते हैं अपने जिंदा होने का एहसास दिलाने के लिए;
    मगऱ जंगल का सन्नाटा शेर की मौजूदगी बयाँ करता है।
  • यह सच बात है कि भूल करके इंसान सीखता है,
    पर इसका ये मतलब नहीं कि वह जीवन भर भूल करता ही जाए और कहे कि हम सीख रहे हैं।
  • दूर रहते हैं मगर हम दिल से दुआ करते हैं;<br/>
प्यार का फ़र्ज़ हम घर बैठे अदा करते हैं;<br/>
आपकी याद को हम सदा साथ रखते हैं;<br/>
दिन हो या रात बस आपको ही याद करते हैं।<br/>
शुभ रात्रि!
    दूर रहते हैं मगर हम दिल से दुआ करते हैं;
    प्यार का फ़र्ज़ हम घर बैठे अदा करते हैं;
    आपकी याद को हम सदा साथ रखते हैं;
    दिन हो या रात बस आपको ही याद करते हैं।
    शुभ रात्रि!
  • ये सुबह जितनी खूबसूरत है,<br/>
उतना ही खूबसूरत आपका हर एक पल हो;<br/>
जितनी भी खुशियाँ आपके पास आज हैं,<br/>
उससे भी ज्यादा वो आपके पास कल हों।<br/>
सुप्रभात!
    ये सुबह जितनी खूबसूरत है,
    उतना ही खूबसूरत आपका हर एक पल हो;
    जितनी भी खुशियाँ आपके पास आज हैं,
    उससे भी ज्यादा वो आपके पास कल हों।
    सुप्रभात!
  • अगर कोई लड़का परीक्षा में फेल हो जाये तो माँ तीन शब्द कहती है, "और जा घूमने"।
    गर्लफ्रेंड भी तीन शब्द कहती है, "शर्म नहीं आती"।
    और दोस्त भी तीन शब्द ही कहते हैं लेकिन दिल जीत लेते हैं,
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    "अबे तू भी"।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT