• टीचर (पप्पू से): कॉपी छुपा लो पीछे वाला देख रहा है।<br/>
पप्पू: देखने दो, सर - मैं अकेला क्लास मे फ़ेल नहीं होना चाहता।Upload to Facebook
    टीचर (पप्पू से): कॉपी छुपा लो पीछे वाला देख रहा है।
    पप्पू: देखने दो, सर - मैं अकेला क्लास मे फ़ेल नहीं होना चाहता।
  • ट्रेन में जूते उतारकर सो गया था। पीछे से किसी ने "स्वच्छ भारत अभियान" में ऐसा योगदान दिया है कि अब प्लेटफार्म पर जुराबों में ही घूम रहा हूँ।
  • सबसे ज्यादा प्रेरणादायक शब्द:
    भाई गाड़ी तेज़ चला, ठेका बंद हो जायेगा।
  • "बेटी बचाओ" का तो पता नहीं - लेकिन भारत में बढ़ते अपराध के कारण बेटियां जरूर "बचाओ-बचाओ" चिल्लाती हैं।
  • देश भक्तों के बलिदान से, स्वतंत्र हुए हैं हम;<br/>
कोई पूछे कौन हो, तो गर्व से कहेंगे, भारतीय हैं हम।<br/>
गणतंत्र दिवस मुबारक!Upload to Facebook
    देश भक्तों के बलिदान से, स्वतंत्र हुए हैं हम;
    कोई पूछे कौन हो, तो गर्व से कहेंगे, भारतीय हैं हम।
    गणतंत्र दिवस मुबारक!
  • रिश्ते काँच की तरह होते हैं;<br/>
टूटे जाए तो चुभते हैं;<br/>
इन्हे संभालकर हथेली पर सजाना;<br/>
क्योंकि इन्हें टूटने मे एक पल;<br/>
और बनाने मे बरसो लग जाते हैं।Upload to Facebook
    रिश्ते काँच की तरह होते हैं;
    टूटे जाए तो चुभते हैं;
    इन्हे संभालकर हथेली पर सजाना;
    क्योंकि इन्हें टूटने मे एक पल;
    और बनाने मे बरसो लग जाते हैं।
  • करे कोशिश अगर इंसान तो क्या-क्या नहीं मिलता;<br/>
वो सिर उठा के तो देखे जिसे रास्ता नहीं मिलता;<br/>
भले ही धूप हो, काँटे हों राहों में मगर चलना तो पड़ता है;<br/>
क्योंकि किसी प्यासे को घर बैठे कभी दरिया नहीं मिलता।Upload to Facebook
    करे कोशिश अगर इंसान तो क्या-क्या नहीं मिलता;
    वो सिर उठा के तो देखे जिसे रास्ता नहीं मिलता;
    भले ही धूप हो, काँटे हों राहों में मगर चलना तो पड़ता है;
    क्योंकि किसी प्यासे को घर बैठे कभी दरिया नहीं मिलता।
  • जब से पैसों का निर्माण हुआ है, तब से विश्वास और रिश्तों की कीमत घट गयी है।Upload to Facebook
    जब से पैसों का निर्माण हुआ है, तब से विश्वास और रिश्तों की कीमत घट गयी है।
  • दो ही टाइम आपको किसी की बुरी बात भी अच्छी लगती है:
    एक तो जब तुम्हें प्यार हो गया हो।
    और दूसरा...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    जब तुम्हें जलील होने की आदत हो गयी हो।
  • भक्त: बाबा काला धन वापस कब आएगा?<br/>
बाबा: कपालभाति करते हो?<br/>
भक्त: नहीं।<br/>
बाबा: किया करो, ऐसे फ़ालतू ख्याल मन में नहीं आएंगे।Upload to Facebook
    भक्त: बाबा काला धन वापस कब आएगा?
    बाबा: कपालभाति करते हो?
    भक्त: नहीं।
    बाबा: किया करो, ऐसे फ़ालतू ख्याल मन में नहीं आएंगे।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT