• माननीय वित्त मंत्री जी,<br/>
अनुरोध है कि अगले वित्त वर्ष से महिलाओं द्वारा की गयी शॉपिंग के बिल को 'Investment Proof' समझा जाये।<br/>
~ पीड़ित पतिUpload to Facebook
    माननीय वित्त मंत्री जी,
    अनुरोध है कि अगले वित्त वर्ष से महिलाओं द्वारा की गयी शॉपिंग के बिल को 'Investment Proof' समझा जाये।
    ~ पीड़ित पति
  • लड़की: डार्लिंग मेरा मोबाइल रिचार्ज करा दो।<br/>
लड़का: डार्लिंग मैं तेरा आशिक़ हूँ एयरटेल वालों का जमाई नहीं।Upload to Facebook
    लड़की: डार्लिंग मेरा मोबाइल रिचार्ज करा दो।
    लड़का: डार्लिंग मैं तेरा आशिक़ हूँ एयरटेल वालों का जमाई नहीं।
  • वो लोग ही ऑफिस बॉय से अकड़ के 'एक चाय लाना' बोलते हैं जिनको घर में 'उठ के ले लो और वापिस धो के रखना' सुनने को मिलता है।Upload to Facebook
    वो लोग ही ऑफिस बॉय से अकड़ के 'एक चाय लाना' बोलते हैं जिनको घर में 'उठ के ले लो और वापिस धो के रखना' सुनने को मिलता है।
  • लोग दौलत देखते हैं, हम इज़्ज़त देखते हैं;<br/>
लोग मंज़िल देखते हैं, हम सफ़र देखते हैं;<br/>
लोग दोस्ती बनाते हैं, हम उसे निभाते हैं।Upload to Facebook
    लोग दौलत देखते हैं, हम इज़्ज़त देखते हैं;
    लोग मंज़िल देखते हैं, हम सफ़र देखते हैं;
    लोग दोस्ती बनाते हैं, हम उसे निभाते हैं।
  • सफलता भी फीकी लगती है यदि कोई बधाई देने वाला नहीं हो और विफलता भी सुंदर लगती है जब आपके साथ कोई अपना खड़ा हो।<br/>
सुप्रभात!Upload to Facebook
    सफलता भी फीकी लगती है यदि कोई बधाई देने वाला नहीं हो और विफलता भी सुंदर लगती है जब आपके साथ कोई अपना खड़ा हो।
    सुप्रभात!
  • कुछ दोस्त पांच के नोट की तरह होते हैं,<br/>
जब भी मिलेंगे फ़टे हाल ही मिलेंगे।Upload to Facebook
    कुछ दोस्त पांच के नोट की तरह होते हैं,
    जब भी मिलेंगे फ़टे हाल ही मिलेंगे।
  • पटियाला दुनिया का पहला ऐसा  शहर है जिसके नाम पर कोर्ट है, बैंक है, सूट है और...<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
पैग तो है ही।Upload to Facebook
    पटियाला दुनिया का पहला ऐसा शहर है जिसके नाम पर कोर्ट है, बैंक है, सूट है और...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    पैग तो है ही।
  • एक बात आज तक समझ नहीं आई कि...
    अगर कन्या को 'सु-कन्या' कह सकते हैं तो वर को 'सु-वर' क्यों नहीं कहा जाता?
  • इस रंग/धर्म/जात के आधार पर बंटी हुई दुनिया में एक दारू ही थी जो एकता का प्रतीक थी,<br/>
नामुरादों ने उसे भी मंहगी-सस्ती के आधार पर बाँट दिया।Upload to Facebook
    इस रंग/धर्म/जात के आधार पर बंटी हुई दुनिया में एक दारू ही थी जो एकता का प्रतीक थी,
    नामुरादों ने उसे भी मंहगी-सस्ती के आधार पर बाँट दिया।
  • पप्पू: प्लीज़ मुझे अपने दिमाग में रख लो, दिल में नहीं।<br/>
मिनी: दिल में क्यों नहीं?<br/>
पप्पू: तुम्हारे दिल में जगह कहाँ, दिमाग तो पूरा खाली है, आराम से रहूँगा।Upload to Facebook
    पप्पू: प्लीज़ मुझे अपने दिमाग में रख लो, दिल में नहीं।
    मिनी: दिल में क्यों नहीं?
    पप्पू: तुम्हारे दिल में जगह कहाँ, दिमाग तो पूरा खाली है, आराम से रहूँगा।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT