• जो बिगड़ी गाड़ियाँ सुधारे, वो मैकेनिक;<br />
जो बिगड़ी मशीनें संवारे, वो इंजीनियर;<br />
जो बिगड़े शरीरों को सुधारे, वो डॉक्टर;<br />
जो बिगड़े मुक़द्दर संवारे, वो परमात्मा।Upload to Facebook
    जो बिगड़ी गाड़ियाँ सुधारे, वो मैकेनिक;
    जो बिगड़ी मशीनें संवारे, वो इंजीनियर;
    जो बिगड़े शरीरों को सुधारे, वो डॉक्टर;
    जो बिगड़े मुक़द्दर संवारे, वो परमात्मा।
  • पापी चाहे कितनी भी चतुराई से पाप करे लेकिन अंत में पापी को दण्ड भुगतना ही पड़ता है।Upload to Facebook
    पापी चाहे कितनी भी चतुराई से पाप करे लेकिन अंत में पापी को दण्ड भुगतना ही पड़ता है।
  • सितारों को भेजा है आपको सुलाने के लिए;
    चाँद आया है आपको लोरी सुनाने के लिए;
    सो जाओ मीठे ख़्वाबों में आप;
    सुबह सूरज को भेजेंगे आपको जगाने के लिए।
    शुभ रात्रि!
  • मीठे बोल बोलिए क्योंकि<br />
अल्फाजों में जान होती है,<br />
इन्हीं से आरती, अरदास और अजान होती है,<br />
ये दिल के समंदर के वो मोती हैं, जिनसे इंसान की पहचान होती है।<br />
सुप्रभात!Upload to Facebook
    मीठे बोल बोलिए क्योंकि
    अल्फाजों में जान होती है,
    इन्हीं से आरती, अरदास और अजान होती है,
    ये दिल के समंदर के वो मोती हैं, जिनसे इंसान की पहचान होती है।
    सुप्रभात!
  • बुजुर्ग कहते है गर्मियों में प्याज खाने से "लू" नहीं लगती।
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    पर उन्हें कौन समझाए कि प्याज खाने के बाद गर्लफ्रेंड भी मुँह नहीं लगती!
  • व्रत के नाम पर 2 किलो अंगूर, 2 दर्जन केले, 1 किलो चीकू, 1 किलो पपीता निपटाने वालो....
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    माता रानी माफ नहीं करेंगी।
  • मुझे "अंग्रेजी" पसंद है।
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    पर क्या करूँ महंगी बहुत है।
  • शादी लॉटरी जैसी होती है,
    बहुत कम लोगों की "लगती है";
    बाकी लोगों की "लग जाती" है।
  • लाल रंग की चुनरी से सजा माँ का दरबार, हर्षित हुआ संसार;<br />
नन्हें नन्हें कदमों से माँ आये आपके द्वार;<br />
मुबारक हो आपको नवरात्री का त्यौहार।<br />
शुभ नवरात्री!Upload to Facebook
    लाल रंग की चुनरी से सजा माँ का दरबार, हर्षित हुआ संसार;
    नन्हें नन्हें कदमों से माँ आये आपके द्वार;
    मुबारक हो आपको नवरात्री का त्यौहार।
    शुभ नवरात्री!
  • महक दोस्ती की इश्क़ से कम नहीं होती;<br />
इश्क़ से ज़िन्दगी खत्म नहीं होती;<br />
अगर साथ हो ज़िन्दगी में अच्छे दोस्तों का;<br />
तो ज़िन्दगी ज़न्नत से कम नहीं होती।Upload to Facebook
    महक दोस्ती की इश्क़ से कम नहीं होती;
    इश्क़ से ज़िन्दगी खत्म नहीं होती;
    अगर साथ हो ज़िन्दगी में अच्छे दोस्तों का;
    तो ज़िन्दगी ज़न्नत से कम नहीं होती।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT