• हर किसी को सफाई मत दीजिये,<br/>
आप इंसान हैं, डिटर्जेंट पाउडर नहीं।Upload to Facebook
    हर किसी को सफाई मत दीजिये,
    आप इंसान हैं, डिटर्जेंट पाउडर नहीं।
  • आने वाले कुछ सालों में माँ अपने बेटियों को खाना बनाने सिखाये या ना सिखाये, लेकिन सेल्फी लेना ज़रूर सिखाएंगी।Upload to Facebook
    आने वाले कुछ सालों में माँ अपने बेटियों को खाना बनाने सिखाये या ना सिखाये, लेकिन सेल्फी लेना ज़रूर सिखाएंगी।
  • जो लोग बचपन में प्रेमी द्वारा भेजे पत्र को प्रेमिका तक पहुंचने से पहले ही रास्ते में पकड़ लेते थे, वो ही बड़े होकर हैकर बनते हैं।Upload to Facebook
    जो लोग बचपन में प्रेमी द्वारा भेजे पत्र को प्रेमिका तक पहुंचने से पहले ही रास्ते में पकड़ लेते थे, वो ही बड़े होकर हैकर बनते हैं।
  • बीवी: मैं तुमसे नाराज़ हूँ।<br/>
पति: मैंने अभी तो तुम्हें सॉरी बोला है।<br/>
बीवी: तुमने सॉरी बोलकर मेरे लड़ाई वाले मूड का सत्यानाश कर दिया।Upload to Facebook
    बीवी: मैं तुमसे नाराज़ हूँ।
    पति: मैंने अभी तो तुम्हें सॉरी बोला है।
    बीवी: तुमने सॉरी बोलकर मेरे लड़ाई वाले मूड का सत्यानाश कर दिया।
  • पहला दोस्त: तुमने नेट कौन सा लगवाया है?<br/>
दूसरा दोस्त: बीएसएनएल।<br/>
पहला दोस्त: हर महीने क्या देते हो?<br/>
दूसरा दोस्त: गालियां!Upload to Facebook
    पहला दोस्त: तुमने नेट कौन सा लगवाया है?
    दूसरा दोस्त: बीएसएनएल।
    पहला दोस्त: हर महीने क्या देते हो?
    दूसरा दोस्त: गालियां!
  • आज मेरा नेट ऐसे चल रहा है, जैसे शादी में दुल्हन लहंगा पहन के चलती है।Upload to Facebook
    आज मेरा नेट ऐसे चल रहा है, जैसे शादी में दुल्हन लहंगा पहन के चलती है।
  • जो दुखी है उसे ठेस मत पहुँचाओ बल्कि उसे ठेके तक पहुँचाओ।Upload to Facebook
    जो दुखी है उसे ठेस मत पहुँचाओ बल्कि उसे ठेके तक पहुँचाओ।
  • टी टी: ये विकलांग लोगों का डिब्बा है इसमें क्यों सफर कर रहे हो?<br/>
पप्पू: जी सर मेरे साथ ये है।<br/>
टी टी: ये तो आम है।<br/>
पप्पू: हाँ लेकिन ये लँगड़ा आम है।Upload to Facebook
    टी टी: ये विकलांग लोगों का डिब्बा है इसमें क्यों सफर कर रहे हो?
    पप्पू: जी सर मेरे साथ ये है।
    टी टी: ये तो आम है।
    पप्पू: हाँ लेकिन ये लँगड़ा आम है।
  • साधुओं की संख्या हर साल बढ़ती जा रही है। कृपया अपने पति को प्यार दें कष्ट नहीं।<br/>
~ हरिद्वार नगर निगम!Upload to Facebook
    साधुओं की संख्या हर साल बढ़ती जा रही है। कृपया अपने पति को प्यार दें कष्ट नहीं।
    ~ हरिद्वार नगर निगम!
  • भाड़ में गये अच्छे दिन, ये बताओ ठंडे दिन कब आयेंगे।Upload to Facebook
    भाड़ में गये अच्छे दिन, ये बताओ ठंडे दिन कब आयेंगे।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT