• इस बात से मतलब नहीं है की तुम कितनी धीरे चलते हो जब तक की तुम रुकते नहीं|
    इस बात से मतलब नहीं है की तुम कितनी धीरे चलते हो जब तक की तुम रुकते नहीं|
    ~ Confucius
  • इस बात से मतलब नहीं है की तुम कितनी धीरे चलते हो जब तक की तुम रुकते नहीं|
    इस बात से मतलब नहीं है की तुम कितनी धीरे चलते हो जब तक की तुम रुकते नहीं|
    ~ Confucius
  • यह बात मायने नहीं रखती की आप कितना धीमे चल रहे हैं, जब तक की आप रुकें नहीं|
    यह बात मायने नहीं रखती की आप कितना धीमे चल रहे हैं, जब तक की आप रुकें नहीं|
    ~ Confucius
  • बुद्धि, करुणा, और साहस, व्यक्ति के लिए तीन सार्वभौमिक मान्यता प्राप्त नैतिक गुण हैं|
    बुद्धि, करुणा, और साहस, व्यक्ति के लिए तीन सार्वभौमिक मान्यता प्राप्त नैतिक गुण हैं|
    ~ Confucius
  • हम तीन तरीकों से ज्ञान अर्जित कर सकते हैं| पहला, चिंतन करके, जो कि सबसे सही तरीका है. दूसरा , अनुकरण करके,जो कि सबसे आसान है, और तीसरा अनुभव से ,जो कि सबसे कष्टकारी है|
    हम तीन तरीकों से ज्ञान अर्जित कर सकते हैं| पहला, चिंतन करके, जो कि सबसे सही तरीका है. दूसरा , अनुकरण करके,जो कि सबसे आसान है, और तीसरा अनुभव से ,जो कि सबसे कष्टकारी है|
    ~ Confucius
  • बुराई को देखना और सुनना ही बुराई की शुरुआत है|
    बुराई को देखना और सुनना ही बुराई की शुरुआत है|
    ~ Confucius
  • नफरत करना आसान है, प्रेम करना मुश्किल. चीजें इसी तरह काम करती हैं. सारी अच्छी चीजों को पाना मुश्किल होता है,और बुरी चीजें बहुत आसानी से मिल जाती हैं।
    नफरत करना आसान है, प्रेम करना मुश्किल. चीजें इसी तरह काम करती हैं. सारी अच्छी चीजों को पाना मुश्किल होता है,और बुरी चीजें बहुत आसानी से मिल जाती हैं।
    ~ Confucius
  • जो आप खुद नहीं पसंद करते उसे दूसरों पर मत थोपिए!
    जो आप खुद नहीं पसंद करते उसे दूसरों पर मत थोपिए!
    ~ Confucius
  • मैं सुनता हूँ और भूल जाता हूँ , मैं देखता हूँ और याद रखता हूँ, मैं करता हूँ और समझ जाता हूँ।
    मैं सुनता हूँ और भूल जाता हूँ , मैं देखता हूँ और याद रखता हूँ, मैं करता हूँ और समझ जाता हूँ।
    ~ Confucius
  • एक श्रेष्ठ व्यक्ति कथनी में कम, करनी में ज्यादा होता है!
    एक श्रेष्ठ व्यक्ति कथनी में कम, करनी में ज्यादा होता है!
    ~ Confucius