• चुंबन प्रकृति द्वारा परिभाषित ऐसा तरीका है जो तब काम करता है जब हमारे शब्द हमारी भावना को जाहिर करने के लिए कम पड़ते है!
    चुंबन प्रकृति द्वारा परिभाषित ऐसा तरीका है जो तब काम करता है जब हमारे शब्द हमारी भावना को जाहिर करने के लिए कम पड़ते है!
    ~ Ingrid Bergman
  • चुम्बन प्रकृति द्वारा परिभाषित ऐसा तरीका है जो तब काम करता है जब हमारे शब्द हमारी भावना को जाहिर करने के लिए कम पड़ते है |
    चुम्बन प्रकृति द्वारा परिभाषित ऐसा तरीका है जो तब काम करता है जब हमारे शब्द हमारी भावना को जाहिर करने के लिए कम पड़ते है |
    ~ Ingrid Bergman