• खुद वो बदलाव बनिए जो आप दुनिया में देखना चाहते हैं।
    खुद वो बदलाव बनिए जो आप दुनिया में देखना चाहते हैं।
    ~ Mahatma Gandhi
  • आपको मानवता में कभी विश्वास नहीं खोना चाहिए क्योंकि मानवता एक सागर है; अगर सागर की कुछ बूंदें गन्दी भी हैं तो इससे पूरा सागर गंदा नहीं बन जाता।
    आपको मानवता में कभी विश्वास नहीं खोना चाहिए क्योंकि मानवता एक सागर है; अगर सागर की कुछ बूंदें गन्दी भी हैं तो इससे पूरा सागर गंदा नहीं बन जाता।
    ~ Mahatma Gandhi
  • लोग चाहे मुट्ठी भर हों, लेकिन संकल्पवान हों, अपने लक्ष्य में दृढ आस्था हो, वे इतिहास को भी बदल सकते हैं!
    लोग चाहे मुट्ठी भर हों, लेकिन संकल्पवान हों, अपने लक्ष्य में दृढ आस्था हो, वे इतिहास को भी बदल सकते हैं!
    ~ Mahatma Gandhi
  • भूल करने में पाप तो है ही परन्तु उसे छुपाने में उससे भी बड़ा पाप है!
    भूल करने में पाप तो है ही परन्तु उसे छुपाने में उससे भी बड़ा पाप है!
    ~ Mahatma Gandhi
  • अपने दोष हम देखना नहीं चाहते, दूसरों के देखने में हमें मजा आता है बहुत सारे दुख तो इसी आदत से पैदा होते हैं!
    अपने दोष हम देखना नहीं चाहते, दूसरों के देखने में हमें मजा आता है बहुत सारे दुख तो इसी आदत से पैदा होते हैं!
    ~ Mahatma Gandhi
  • सत्याग्रह बल से नहीं ,हिंशा के त्याग से होता है!
    सत्याग्रह बल से नहीं ,हिंशा के त्याग से होता है!
    ~ Mahatma Gandhi
  • विश्वास वो शक्ति है जिससे की दुनिया में भी प्रकाश किया जा सकता है!
    विश्वास वो शक्ति है जिससे की दुनिया में भी प्रकाश किया जा सकता है!
    ~ Mahatma Gandhi
  • अपने दोष हम देखना नहीं चाहते, दूसरों के देखने में हमें मजा आता है बहुत सारे दुख तो इसी आदत से पैदा होते हैं!
    अपने दोष हम देखना नहीं चाहते, दूसरों के देखने में हमें मजा आता है बहुत सारे दुख तो इसी आदत से पैदा होते हैं!
    ~ Mahatma Gandhi
  • लोग चाहे मुट्ठी भर हों, लेकिन संकल्पवान हों, अपने लक्ष्य में दृढ आस्था हो, वे इतिहास को भी बदल सकते हैं!
    लोग चाहे मुट्ठी भर हों, लेकिन संकल्पवान हों, अपने लक्ष्य में दृढ आस्था हो, वे इतिहास को भी बदल सकते हैं!
    ~ Mahatma Gandhi
  • सत्याग्रह बल से नहीं ,हिंशा के त्याग से होता है |
    सत्याग्रह बल से नहीं ,हिंशा के त्याग से होता है |
    ~ Mahatma Gandhi