• यदि आप दूसरों को प्रसन्न देखना चाहते हैं तो करुणा का भाव रखें. यदि आप स्वयं प्रसन्न रहना चाहते हैं तो भी करुणा का भाव रखें।Upload to Facebook
    यदि आप दूसरों को प्रसन्न देखना चाहते हैं तो करुणा का भाव रखें. यदि आप स्वयं प्रसन्न रहना चाहते हैं तो भी करुणा का भाव रखें।
    ~ Dalai Lama
  • पूरी दुनिया कष्टों से भरी है, और उन कष्टों को पार पाने से भी|Upload to Facebook
    पूरी दुनिया कष्टों से भरी है, और उन कष्टों को पार पाने से भी|
    ~ Helen Keller
  • विश्व एक व्यायामशाला है जहाँ हम खुद को मजबूत बनाने के लिए आते हैं।Upload to Facebook
    विश्व एक व्यायामशाला है जहाँ हम खुद को मजबूत बनाने के लिए आते हैं।
    ~ Swami Vivekananda
  • सादगी परम जटिलता है।Upload to Facebook
    सादगी परम जटिलता है।
    ~ Leonardo da Vinci
  • यदि आप सौ लोगों को नहीं खिला सकते तो एक को ही खिलाइए|Upload to Facebook
    यदि आप सौ लोगों को नहीं खिला सकते तो एक को ही खिलाइए|
    ~ Mother Teresa
  • जितना कम आप अपना ह्रदय दूसरों के समक्ष खोलेंगे, उतनी अधिक आपके ह्रदय को पीड़ा होगी!Upload to Facebook
    जितना कम आप अपना ह्रदय दूसरों के समक्ष खोलेंगे, उतनी अधिक आपके ह्रदय को पीड़ा होगी!
    ~ Deepak Chopra
  • गलतियाँ हमेशा क्षमा की जा सकती हैं, यदि आपके पास उन्हें स्वीकारने का साहस हो।Upload to Facebook
    गलतियाँ हमेशा क्षमा की जा सकती हैं, यदि आपके पास उन्हें स्वीकारने का साहस हो।
    ~ Bruce Lee
  • अच्छा व्यवहार सभी गुणों का सार है!Upload to Facebook
    अच्छा व्यवहार सभी गुणों का सार है!
    ~ Aristotle
  • हजारों खोखले शब्दों से अच्छा वह एक शब्द है जो शांति लाये!Upload to Facebook
    हजारों खोखले शब्दों से अच्छा वह एक शब्द है जो शांति लाये!
    ~ Lord Gautama Buddha
  • क्या हम यह नहीं जानते कि आत्म सम्मान आत्म निर्भरता के साथ आता है!Upload to Facebook
    क्या हम यह नहीं जानते कि आत्म सम्मान आत्म निर्भरता के साथ आता है!
    ~ A. P. J. Abdul Kalam
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT