• नफ़रत नापसंदगी की तुलना में अधिक स्थायी होती है|Upload to Facebook
    नफ़रत नापसंदगी की तुलना में अधिक स्थायी होती है|
    ~ Adolf Hitler
  • क्रोध में मनुष्य अपने मन की बात नहीं कहता, वह केवल दूसरों का दिल दुखाना चाहता है।Upload to Facebook
    क्रोध में मनुष्य अपने मन की बात नहीं कहता, वह केवल दूसरों का दिल दुखाना चाहता है।
    ~ Premchand
  • क्रोध कभी बिना कारण के नहीं होता और कभी-कभी यह एक अच्छे कारण के साथ होता है।Upload to Facebook
    क्रोध कभी बिना कारण के नहीं होता और कभी-कभी यह एक अच्छे कारण के साथ होता है।
    ~ Benjamin Franklin
  • क्रोध में आपका मुँह आपके मन की तुलना में ज्यादा चलता है।Upload to Facebook
    क्रोध में आपका मुँह आपके मन की तुलना में ज्यादा चलता है।
    ~ Joe Moore
  • कभी भी यह मत भूलो कि किसी आदमी ने क्रोध में आपसे क्या कहा था।Upload to Facebook
    कभी भी यह मत भूलो कि किसी आदमी ने क्रोध में आपसे क्या कहा था।
    ~ Henry Ward Beecher
  • गुस्सा कभी बिना कारण के नहीं होता और कभी-कभी यह एक अच्छे कारण के साथ होता है।
    ~ Benjamin Franklin
  • गुस्से में आपका मुँह आपके मन की तुलना में ज्यादा चलता है।
    ~ Joe Moore
  • बुरे व्यक्ति पर क्रोध करने से पूर्व अपने पर ही क्रोध करना चाहिए।
    ~ Chanakya
  • क्रोध से ज्ञान का प्रकाश बुझ जाता है।
    ~ R. G. Ingersoll
  • बुरे व्यक्ति पर क्रोध करने से पहले अपने पर ही क्रोध करना चाहिए।
    ~ Chanakya
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT