• लाइफ दुखद होगी अगर ये अजीब ना हो।Upload to Facebook
    लाइफ दुखद होगी अगर ये अजीब ना हो।
    ~ Stephen Hawking
  • किसी भी समय जीवन मुश्किल बन सकता है और किसी भी समय जीवन बहुत आसान बन सकता है यह सब हमारे जीवन के समायोजन पर निर्भर करता है|Upload to Facebook
    किसी भी समय जीवन मुश्किल बन सकता है और किसी भी समय जीवन बहुत आसान बन सकता है यह सब हमारे जीवन के समायोजन पर निर्भर करता है|
    ~ Morarji Desai
  • कमल जिस पानी में खिला है , उस पानी की गहराई चाहे जितनी क्यों न हो, कमल हमेशा पानी के ऊपर ही रहता है ठीक उसी प्रकार से एक इन्सान कितना महान है, ये उसकी मानसिक ताकत पर निर्भर करता है|Upload to Facebook
    कमल जिस पानी में खिला है , उस पानी की गहराई चाहे जितनी क्यों न हो, कमल हमेशा पानी के ऊपर ही रहता है ठीक उसी प्रकार से एक इन्सान कितना महान है, ये उसकी मानसिक ताकत पर निर्भर करता है|
    ~ Saint Thiruvalluvar
  • हमारे जीवन में चाहे कितने भी अन्धकार पल क्यों न आये, बस वो थोड़े दिन ही रुककर चले जायंगे| फिर तो आशा की किरण चमकने ही लगेगी|
    ~ Orison Swett Marden
  • कोई भी किसी को एक तरह धक्का नहीं दे सकता|Upload to Facebook
    कोई भी किसी को एक तरह धक्का नहीं दे सकता|
    ~ Dr. Rajendra Prasad
  • जिंदगी अच्छी हो सकती है, अगर हम निर्धारित कर ले|
Upload to Facebook
    जिंदगी अच्छी हो सकती है, अगर हम निर्धारित कर ले|
    ~ Nick Vujicic
  • अच्छे तरीको से बिताया गया जीवन लम्बा होता है|Upload to Facebook
    अच्छे तरीको से बिताया गया जीवन लम्बा होता है|
    ~ Leonardo da Vinci
  • आत्मा जो चाहती है, वह पा लेती है|Upload to Facebook
    आत्मा जो चाहती है, वह पा लेती है|
    ~ Kahlil Gibran
  • अगर मैं एक दिन मर जाऊं, तो मैं ख़ुशी से मरना चाहूगा, क्योकि मैंने अपने जीवन के सर्वश्रेष्‍ठ कोशिश कर ली है|
Upload to Facebook
    अगर मैं एक दिन मर जाऊं, तो मैं ख़ुशी से मरना चाहूगा, क्योकि मैंने अपने जीवन के सर्वश्रेष्‍ठ कोशिश कर ली है|
    ~ Pele
  • वह जो अपने सम्प्रदाय की महिमा बढाने के इरादे से उसका आदर करता है और दूसरों के संप्रदाय को नीचा दिखाता है, ऐसे कृत्यों से वह अपने ही सम्प्रदाय को गंभीर चोट पहुंचता है।Upload to Facebook
    वह जो अपने सम्प्रदाय की महिमा बढाने के इरादे से उसका आदर करता है और दूसरों के संप्रदाय को नीचा दिखाता है, ऐसे कृत्यों से वह अपने ही सम्प्रदाय को गंभीर चोट पहुंचता है।
    ~ Ashoka
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT