• वह इन्सान जो एक दिन में अमीर बनना चाहता है, उस इन्सान को एक ही दिन में फांसी पर लटका दिया जायेगा।
    वह इन्सान जो एक दिन में अमीर बनना चाहता है, उस इन्सान को एक ही दिन में फांसी पर लटका दिया जायेगा।
    ~ Leonardo da Vinci
  • हासिल हुए धन को उपयोग करने में सिर्फ दो भूलें हुआ करती हैं, सुपात्र को धन न देना और अपात्र को धन देना ।
    हासिल हुए धन को उपयोग करने में सिर्फ दो भूलें हुआ करती हैं, सुपात्र को धन न देना और अपात्र को धन देना ।
    ~ Maharshi Vedvyas
  • इकट्ठा हुआ धन पाले हुए दुश्मन के समान होता है, क्योकि इसे छोड़ना बहुत मुश्किल होता है।
    इकट्ठा हुआ धन पाले हुए दुश्मन के समान होता है, क्योकि इसे छोड़ना बहुत मुश्किल होता है।
    ~ Maharshi Vedvyas
  • छोटी जिम्मेदारी और बड़ा वेतन शायद कभी एक- साथ पाए जाते हैं।
    छोटी जिम्मेदारी और बड़ा वेतन शायद कभी एक- साथ पाए जाते हैं।
    ~ Napoleon Hill
  • आज का निवेशक कल की बढ़त से फायदा नहीं कमाता|
    आज का निवेशक कल की बढ़त से फायदा नहीं कमाता|
    ~ Warren Buffett
  • दुनिया में जो चीज समझना सबसे कठिन है, वो है इनकम टैक्स|
    दुनिया में जो चीज समझना सबसे कठिन है, वो है इनकम टैक्स|
    ~ Albert Einstein
  • मैं कभी शेयर बाज़ार से पैसे बनाने की कोशिश नहीं करता, मैं इस धारणा के साथ शेयर खरीदता हूँ कि बाज़ार अगले दिन बंद हो जायेगा और पाच साल तक नहीं खुलेगा|
    मैं कभी शेयर बाज़ार से पैसे बनाने की कोशिश नहीं करता, मैं इस धारणा के साथ शेयर खरीदता हूँ कि बाज़ार अगले दिन बंद हो जायेगा और पाच साल तक नहीं खुलेगा|
    ~ Warren Buffett
  • मैं महंगे कपडे खरीदता हूँ, बस वो मेरे ऊपर सस्ते दीखते हैं|
    मैं महंगे कपडे खरीदता हूँ, बस वो मेरे ऊपर सस्ते दीखते हैं|
    ~ Warren Buffett
  • पूँजी मृत श्रम है, जो पिशाच की तरह केवल जीवित श्रमिकों  का खून चूस कर जिंदा रहता है, और जितना अधिक ये जिंदा रहता है उतना ही अधिक श्रमिकों को चूसता है।
    पूँजी मृत श्रम है, जो पिशाच की तरह केवल जीवित श्रमिकों का खून चूस कर जिंदा रहता है, और जितना अधिक ये जिंदा रहता है उतना ही अधिक श्रमिकों को चूसता है।
    ~ Karl Marx
  • संतोष गरीबों को अमीर बनाता है, असंतोष अमीरों को गरीब।
    संतोष गरीबों को अमीर बनाता है, असंतोष अमीरों को गरीब।
    ~ Benjamin Franklin