• ​प्रेम एक ऐसा फल है, जो हर मौसम में मिलता है और जिसे सभी पा सकते है​।
    ​प्रेम एक ऐसा फल है, जो हर मौसम में मिलता है और जिसे सभी पा सकते है​।
    ~ Mother Theresa
  • ​​अहंकार छोडे बिना सच्चा प्रेम नही किया जा सकता।​
    ​​अहंकार छोडे बिना सच्चा प्रेम नही किया जा सकता।​
    ~ Author Unknown
  • ​एक व्यक्ति दूसरे के मन की बात जान सकता है, तो केवल सहानुभूति और प्यार से, उम्र और बुद्धि से नहीं​।
    ​एक व्यक्ति दूसरे के मन की बात जान सकता है, तो केवल सहानुभूति और प्यार से, उम्र और बुद्धि से नहीं​।
    ~ Author Unknown
  • ​इस संसार में प्यार करने लायक़ दो वस्तुएँ हैं​, ​एक दुख और दूसरा श्रम। दुख के बिना हृदय निर्मल नहीं होता और श्रम के बिना मनुष्यत्व का विकास नहीं होता।
    ~ Shriram Sharma Acharya
  • प्रेम और करुणा आवश्यकताएं हैं, विलासिता नहीं, उनके बिना मानवता जीवित नहीं रह सकता।
    प्रेम और करुणा आवश्यकताएं हैं, विलासिता नहीं, उनके बिना मानवता जीवित नहीं रह सकता।
    ~ Dalai Lama
  • ​प्रेम की शक्ति दण्ड की शक्ति से हजार गुनी प्रभावशाली और स्थायी होती है​।
    ​प्रेम की शक्ति दण्ड की शक्ति से हजार गुनी प्रभावशाली और स्थायी होती है​।
    ~ Mahatma Gandhi
  • ​प्रेम के बिना जीवन एक ऐसे वृक्ष के समान है, जिस पर न कोई फूल हो, न फल​।
    ​प्रेम के बिना जीवन एक ऐसे वृक्ष के समान है, जिस पर न कोई फूल हो, न फल​।
    ~ Khalil Gibran
  • ​कोई भी उस व्यक्ति से प्रेम नहीं करता जिससे वो डरता है।
    ​कोई भी उस व्यक्ति से प्रेम नहीं करता जिससे वो डरता है।
    ~ Aristotle
  • प्रेम को कारण की ज़रुरत नहीं होती​,​ वो दिल के तर्कहीन ज्ञान से बोलता है।
    प्रेम को कारण की ज़रुरत नहीं होती​,​ वो दिल के तर्कहीन ज्ञान से बोलता है।
    ~ Deepak Chopra
  • ​सच्चा प्रेम भूत की तरह है​, चर्चा उसकी सब करते हैं, देखा किसी ने नहीं।
    ~ Freg Mark