• अपने अच्छे समय मे अपने आपको इतना कर्म के साथ विश्वासपात्र बना लो, जब आप पर बुरा वक्त आये वह उसे भी अच्छा बना दे।
    अपने अच्छे समय मे अपने आपको इतना कर्म के साथ विश्वासपात्र बना लो, जब आप पर बुरा वक्त आये वह उसे भी अच्छा बना दे।
    ~ Maharana Pratap
  • इंसान का आत्मसम्मान और गौरव ही सबसे बङी कमाई होती है। और हमेशा इनकी रक्षा करनी चाहिए!
    इंसान का आत्मसम्मान और गौरव ही सबसे बङी कमाई होती है। और हमेशा इनकी रक्षा करनी चाहिए!
    ~ Maharana Pratap
  • जब लोग कहते है कि आकाश ही हमारी सीमा है, तो वह सत्य कहते है।
    जब लोग कहते है कि आकाश ही हमारी सीमा है, तो वह सत्य कहते है।
    ~ Michael Jackson
  • कृपया अपने सपनो की तरफ आगे बढ़ो, जो भी आपके विचारो हो ।
    कृपया अपने सपनो की तरफ आगे बढ़ो, जो भी आपके विचारो हो ।
    ~ Michael Jackson
  • जब लड़का अपने लक्ष्य को समझ लेता है तो वह पूरी तरह से उसी लक्ष्य में लग जाता है |
    जब लड़का अपने लक्ष्य को समझ लेता है तो वह पूरी तरह से उसी लक्ष्य में लग जाता है |
    ~ Robert Baden-Powell
  • एक इंसान की महानता इंसान बनने में नहीं, बल्कि इंसान के प्रति दयालु बनने में होती है।
    एक इंसान की महानता इंसान बनने में नहीं, बल्कि इंसान के प्रति दयालु बनने में होती है।
    ~ Mahatma Gandhi
  • एक लड़का एक कुत्ते से भी बहुत कुछ सीख सकता है, जैसे आज्ञाकारिता, वफादारी और झूठ बोलने से पहले तीन बार घूमने का महत्व।
    एक लड़का एक कुत्ते से भी बहुत कुछ सीख सकता है, जैसे आज्ञाकारिता, वफादारी और झूठ बोलने से पहले तीन बार घूमने का महत्व।
    ~ Robert Benchley
  • एक झाड़ी कभी भी पेड़ नहीं बन सकता|
    एक झाड़ी कभी भी पेड़ नहीं बन सकता|
    ~ Dale Carnegie
  • जब एक कांच टुकड़ा कंचन का साथ पा लेता है, जो वह मरकत मणि की तरह शुशोभित होता है । उसी प्रकार सज्जनों का साथ करने से मूर्ख भी विद्वान् बन जाता है।
    जब एक कांच टुकड़ा कंचन का साथ पा लेता है, जो वह मरकत मणि की तरह शुशोभित होता है । उसी प्रकार सज्जनों का साथ करने से मूर्ख भी विद्वान् बन जाता है।
    ~ Narayan Pandit
  • वह राजा इस लोक में और परलोक में दोनों जगह सुख पाता, जिस राजा को देशवासियों को प्रसन्न रखने की कला आती है|
    वह राजा इस लोक में और परलोक में दोनों जगह सुख पाता, जिस राजा को देशवासियों को प्रसन्न रखने की कला आती है|
    ~ Maharshi Vedvyas