• कल्पना की शक्ति हमें अनंत बनाती है।
    कल्पना की शक्ति हमें अनंत बनाती है।
    ~ John Muir
  • लोग समय नष्ट करने की बात करते हैं, जबकि धीरे-धीरे समय उन्हें नष्ट करता रहता है।
    लोग समय नष्ट करने की बात करते हैं, जबकि धीरे-धीरे समय उन्हें नष्ट करता रहता है।
    ~ Dion Boucicault
  • अक्सर हम लोगों को थकान काम से नहीं बल्कि निराशा, चिंता और असंतोष के कारण होती है।
    अक्सर हम लोगों को थकान काम से नहीं बल्कि निराशा, चिंता और असंतोष के कारण होती है।
    ~ Dale Carnegie
  • आर्थिक मुद्दे हमारे लिए सबसे ज़रूरी हैं, और यह बेहद महत्त्वपूर्ण है कि हम अपने सबसे बड़े दुश्मन गरीबी और बेरोज़गारी से लड़ें!
    आर्थिक मुद्दे हमारे लिए सबसे ज़रूरी हैं, और यह बेहद महत्त्वपूर्ण है कि हम अपने सबसे बड़े दुश्मन गरीबी और बेरोज़गारी से लड़ें!
    ~ Lal Bahadur Shastri
  • फूल जो कुछ ज़मीं से लेते हैं, उससे कहीं ज़्यादा लौटा देते हैं।
    फूल जो कुछ ज़मीं से लेते हैं, उससे कहीं ज़्यादा लौटा देते हैं।
    ~ Mushtaq Ahmad Yusufi
  • दुनिया में ग़ालिब वो अकेला शायर है जो समझ में ना आये तो दुगना मज़ा देता है।
    दुनिया में ग़ालिब वो अकेला शायर है जो समझ में ना आये तो दुगना मज़ा देता है।
    ~ Mushtaq Ahmad Yusufi
  • हर मनुष्य अपनी सेहत या बीमारी का रचयिता है।
    हर मनुष्य अपनी सेहत या बीमारी का रचयिता है।
    ~ Buddha
  • इस्लामिक वर्ल्ड में आज तक कोई बकरा नेचरल डेथ नहीं मरा।
    इस्लामिक वर्ल्ड में आज तक कोई बकरा नेचरल डेथ नहीं मरा।
    ~ Mushtaq Ahmad Yusufi
  • हर एक चीज में खूबसूरती होती है, लेकिन हर कोई उसे नहीं देख पाता।
    हर एक चीज में खूबसूरती होती है, लेकिन हर कोई उसे नहीं देख पाता।
    ~ Confucius
  • शिक्षा बुढ़ापे के लिए सबसे अच्छा प्रावधान है।
    शिक्षा बुढ़ापे के लिए सबसे अच्छा प्रावधान है।
    ~ Aristotle