• ​जीत उसी की होती है जो अपने ​आप को संकट में डालकर कार्य संपन्न करते हैं। कायरों की ​जीत ​कभी नहीं होती।
    ~ Jawaharlal Nehru
  • ​निराशा सम्भव को असम्भव बना देती है।
    ​निराशा सम्भव को असम्भव बना देती है।
    ~ Premchand
  • ​अर्जुन की तरह आप अपना चित्त केवल लक्ष्य पर केन्द्रित करें, एकाग्रता ही आपको सफलता दिलायेगी।
    ​अर्जुन की तरह आप अपना चित्त केवल लक्ष्य पर केन्द्रित करें, एकाग्रता ही आपको सफलता दिलायेगी।
    ~ Author Unknown
  • जिनके भीतर नफरत होती है, वे दरअसल हारे हुए लोग होते हैं, जो अपने जीते हुए होने का स्वांग कर रहे होते है।
    जिनके भीतर नफरत होती है, वे दरअसल हारे हुए लोग होते हैं, जो अपने जीते हुए होने का स्वांग कर रहे होते है।
    ~ Paulo Coelho
  • कष्ट और विपत्ति मनुष्य को शिक्षा देने वाले श्रेष्ठ गुण हैं। जो साहस के साथ उनका सामना करते हैं, वे विजयी होते हैं।
    कष्ट और विपत्ति मनुष्य को शिक्षा देने वाले श्रेष्ठ गुण हैं। जो साहस के साथ उनका सामना करते हैं, वे विजयी होते हैं।
    ~ Lokmanya Tilak
  • विजयी व्यक्ति स्वभाव से, बहिर्मुखी होता है। पराजय व्यक्ति को अन्तर्मुखी बनाती है।
    विजयी व्यक्ति स्वभाव से, बहिर्मुखी होता है। पराजय व्यक्ति को अन्तर्मुखी बनाती है।
    ~ Premchand
  • जिसका निश्चय दृढ और अटल है वह दुनिया को अपने सांचे में ढाल सकता है।
    जिसका निश्चय दृढ और अटल है वह दुनिया को अपने सांचे में ढाल सकता है।
    ~ Getey
  • सफलता के मार्ग पर कोई बिना एक-दो पंक्चर के नहीं चलता।
    सफलता के मार्ग पर कोई बिना एक-दो पंक्चर के नहीं चलता।
    ~ Navjot Singh Sidhu
  • विजेता से कभी नहीं पूछा जाएगा, कि क्या उसने सच कहा था।
    ~ Adolf Hitler
  • कोई भी व्यक्ति जब सोचना शुरू कर देता है कि वह यह काम कर सकता है तो वह विलक्षण हो जाता है। उस वक़्त उन्हें सफलता के पहले रहस्य का ज्ञान हो जाता है।
    कोई भी व्यक्ति जब सोचना शुरू कर देता है कि वह यह काम कर सकता है तो वह विलक्षण हो जाता है। उस वक़्त उन्हें सफलता के पहले रहस्य का ज्ञान हो जाता है।
    ~ Author Unknown