• क्रोध कभी बिना कारण के नहीं होता और कभी-कभी यह एक अच्छे कारण के साथ होता है।
    क्रोध कभी बिना कारण के नहीं होता और कभी-कभी यह एक अच्छे कारण के साथ होता है।
    ~ Benjamin Franklin
  • ख़ुशी बनी बनाई नहीं मिलती। यह आपके कार्यों से आती है।
    ख़ुशी बनी बनाई नहीं मिलती। यह आपके कार्यों से आती है।
    ~ Dalai Lama
  • क्रोध में आपका मुँह आपके मन की तुलना में ज्यादा चलता है।
    क्रोध में आपका मुँह आपके मन की तुलना में ज्यादा चलता है।
    ~ Joe Moore
  • तुलना ख़ुशी की चोर  है।
    तुलना ख़ुशी की चोर है।
    ~ Theodore Roosevelt
  • एक अच्छी पुस्तक हज़ार दोस्तों के बराबर होती है जबकि एक अच्छा दोस्त एक लाइब्रेरी (पुस्तकालय) के बराबर होता है।
    एक अच्छी पुस्तक हज़ार दोस्तों के बराबर होती है जबकि एक अच्छा दोस्त एक लाइब्रेरी (पुस्तकालय) के बराबर होता है।
    ~ A. P. J. Abdul Kalam
  • वही मित्र है जिस पर विश्वास किया जा सके और वही​ देश ​​है जहाँ जीविका हो।
    वही मित्र है जिस पर विश्वास किया जा सके और वही​ देश ​​है जहाँ जीविका हो।
    ~ Chanakya
  • दुःख तो अपना ध्यान खुद भी रख सकता हैं लेकिन, खुशियों का पूरा आनंद उठाने के लिए आपको इसे किसी ना किसी के साथ बांटना पड़ता है।
    दुःख तो अपना ध्यान खुद भी रख सकता हैं लेकिन, खुशियों का पूरा आनंद उठाने के लिए आपको इसे किसी ना किसी के साथ बांटना पड़ता है।
    ~ Mark Twain
  • जब आपका दिल खुश होता है तो आपका दिमाग स्वतंत्र होता है।
    जब आपका दिल खुश होता है तो आपका दिमाग स्वतंत्र होता है।
    ~ W. Rathbun
  • मनुष्य की ख़ुशी के दो दुश्मन दर्द और उबाऊपन है।
    मनुष्य की ख़ुशी के दो दुश्मन दर्द और उबाऊपन है।
    ~ Arthur Schopenhauer
  • कभी भी यह मत भूलो कि किसी आदमी ने क्रोध में आपसे क्या कहा था।
    कभी भी यह मत भूलो कि किसी आदमी ने क्रोध में आपसे क्या कहा था।
    ~ Henry Ward Beecher