• जो सचमुच दयालु है, वही सचमुच बुद्धिमान है, और जो दूसरों से प्रेम नहीं करता उस पर ईश्वर की कृपा नहीं होती।
    ~ Home
  • पूजा करते समय शरीर की मुद्रा नहीं, बल्कि ह्रदय की प्रवृत्ति मायने रखती है।
    ~ Billy Graham
  • जब तक तुम स्वयं अपने में विश्वास नहीं करते, परमात्मा में तुम विश्वास नहीं कर सकते।
    ~ Swami Vivekananda
  • भगवान ऐसे लोगों को अभय कर देते हैं, जो उनमें विश्वास रखते हैं।Upload to Facebook
    भगवान ऐसे लोगों को अभय कर देते हैं, जो उनमें विश्वास रखते हैं।
    ~ Mahatma Gandhi
  • दान-पुण्य केवल परलोक में सुख देता है पर योग्य संतान सेवा द्वारा इहलोक और तर्पण द्वारा परलोक दोनों में सुख देती है।
    ~ Kalidas
  • रामायण समस्त मनुष्य जाति को अनिर्वचनीय सुख और शांति पहुँचाने का साधन है।
    ~ Madan Mohan Malviya
  • पीड़ा से दृष्टि मिलती है, इसलिए आत्मपीड़न ही आत्मदर्शन का माध्यम है।
    ~ Mahavira
  • आत्मिक शक्ति ही वास्तविकता शक्ति है।
    ~ Sivananda Saraswati
  • जिस प्रकार मैले दर्पण में सूरज का प्रतिबिंब नहीं पड़ता उसी प्रकार मलिन अंत:करण में ईश्वर के प्रकाश का प्रतिबिंब नहीं पड़ सकता।
    ~ Ramakrishna Paramahansa
  • आत्मा का घात नहीं होता, आत्मा का नाश नहीं होता, आत्मा तो अज़र अमर है।
    ~ Mahavira
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT