• अपने पैरो को उतना ही फैलावो, जितनी लम्बी चादर हो|
    अपने पैरो को उतना ही फैलावो, जितनी लम्बी चादर हो|
    ~ Rakesh Mishra
  • ज्ञान गाय के समान है, जो हर एक मौसम में अमृत प्रदान करती है| वह विदेश में माता के समान रक्षक और हितकारी होती है, इसीलिए ज्ञान को गुप्त धन कहा जाता है |
    ज्ञान गाय के समान है, जो हर एक मौसम में अमृत प्रदान करती है| वह विदेश में माता के समान रक्षक और हितकारी होती है, इसीलिए ज्ञान को गुप्त धन कहा जाता है |
    ~ Chanakya
  • एक पेड़ अपने ऊपर गर्मी सहता है, लेकिन अपनी छाया से दूसरो की गर्मी को हरता है |
    एक पेड़ अपने ऊपर गर्मी सहता है, लेकिन अपनी छाया से दूसरो की गर्मी को हरता है |
    ~ Acharya Tulsidas
  • इंजीनियरिंग केवल 45 विषयों का अध्ययन नहीं है बल्कि यह बौद्धिक जीवन का नैतिक अध्ययन है।
    इंजीनियरिंग केवल 45 विषयों का अध्ययन नहीं है बल्कि यह बौद्धिक जीवन का नैतिक अध्ययन है।
    ~ Prakhar Srivastav
  • इस समाज में मौत इतनी महत्वपूर्ण है कि यह सब कुछ प्रभावित करती है, मैंने अपने गुरु से सीखा है कि मृत्यु दुश्मन नहीं है, और मै इसे एक और रूप में देख रहा हूं। यह अवतार का अंत है|
    इस समाज में मौत इतनी महत्वपूर्ण है कि यह सब कुछ प्रभावित करती है, मैंने अपने गुरु से सीखा है कि मृत्यु दुश्मन नहीं है, और मै इसे एक और रूप में देख रहा हूं। यह अवतार का अंत है|
    ~ Ram Dass
  • खूबसूरती एक ऐसी चीज है, जिसे कोई तस्वीर बयाँ नहीं कर सकती है |
    खूबसूरती एक ऐसी चीज है, जिसे कोई तस्वीर बयाँ नहीं कर सकती है |
    ~ Francis Bacon
  • अगर भगवान अस्तित्व में नहीं था, तो उसे खोजना होगा!
    अगर भगवान अस्तित्व में नहीं था, तो उसे खोजना होगा!
    ~ Voltaire
  • एक अच्छा लीडर वही है, जो दूसरों को मजबूत बना सके ।
    एक अच्छा लीडर वही है, जो दूसरों को मजबूत बना सके ।
    ~ Bill Gates
  • जैसा तुम सोचते हो वैसे ही बन जाते हो|
    जैसा तुम सोचते हो वैसे ही बन जाते हो|
    ~ Gautam Buddha
  • अगर तुमने चमत्कार नहीं देखे तो खुद एक चमत्कार बन जाओ|
    अगर तुमने चमत्कार नहीं देखे तो खुद एक चमत्कार बन जाओ|
    ~ Nicholas James