• एक आदमी बड़ी परेशानी की हालत में ऑफिस से घर पहुंचा पहुंचा।
    पत्नी (प्यार से): सुनो जी, कल बर्थडे पे मुझे नई साड़ी ले दोगे?
    पति (गुस्से में): गांड मरा।
    पत्नी: फिर तो दो लूंगी।
  • जाने क्या ठान ली है इस मौसम ने आज;
    या तो बढ़ेंगे शराबी, या बढ़ेगी आबादी।
  • भक्त: बाबा, मोहब्बत अपने अंजाम पे कब पहुँचती है?
    बाबा: बेटा, जब कमरे की व्यवस्था हो जाती है।
  • लड़का अपनी गलफ्रैंड से, "तुम अब बदल गई हो।"
    गर्लफ्रेंड: क्यों?
    लड़का: अब मैं जब तेरी चूचियाँ दबाता हूँ तो तू आँखे बंद नहीं करती।
    गर्लफ्रेंड: बहनचोद, पहली बार बंद की थी तो ब्रा में से 100 का नोट गायब हो गया था।
  • पापा: बेटा, कहाँ चला?
    बेटा: चूत मारने जा रहा हूँ।
    पापा: बेटा, कोई फायदा नहीं, 40 साल हो गये मुझे मारते हुए। ये नहीं मरती, ये तो अमर है।
  • शादी के बाद सुविचार:
    खाट हिले बिना पालना हिलता नही है और
    एक बार पालना हिलना चालू हुआ फिर खाट "पहले जैसी" हिलती नहीं है|
  • आज का घंटा ज्ञान:
    आदमी का हौंसला और औरत का भोसड़ा दुनिया में कुछ भी करवा सकता है।
  • एक कोमा ( , ) तय करता है आप पिटोगे या नहीं।
    जैसे "ए, चंदा देगी क्या?"
    या फिर "ए चंदा, देगी क्या?"
  • लंड ज्ञान की तरह है,
    देना सब चाहते है पर लेना कोई नहीं चाहता।
  • धोनी के सन्यास से ज्यादा खुश होने की ज़रुरत नहीं है...
    रोज़ सुबह तो 'धोनी' है, सर्दी का बहाना नहीं चलेगा।