• जीतो ने संता को नौकरानी के साथ पकड़ लिया!
    नोकरानी: माफ़ करना मालकिन, 1000 रुपये के लालच में आ गई थी।
    जीतो: तुम्हें 5000 रुपये दूंगी, पहले यह बता मालिक का खड़ा कैसे किया था!
  • जीतो और प्रीतो बाजार में सब्ज़ी खरीद रही थी।
    जीतो: यह आलू मुझे संता की गोटियों जैसे लगते हैं।
    प्रीतो: क्या वो इतनी बड़ी हैं?
    जीतो: नहीं इतनी गंदी।
  • जीतो: मैंने पति से बहस में जीतने का नया तरीका ढूंढा है।<br/>
प्रीतो: सच में, मुझे भी बताओ।<br/>

जीतो: जब भी तुम्हारी पति से बहस हो जाये अपने कपडे उतार देना। हर बार तुम ही जीतोगे।
    जीतो: मैंने पति से बहस में जीतने का नया तरीका ढूंढा है।
    प्रीतो: सच में, मुझे भी बताओ।
    जीतो: जब भी तुम्हारी पति से बहस हो जाये अपने कपडे उतार देना। हर बार तुम ही जीतोगे।
  • जीतो: संता के लंड को पकड़ कर ऊपर और नीचे कर रही थी।
    संता रोमांटिक मूड में बोला, " सेक्स करने का मन कर रहा है क्या?"
    जीतो धीरे से बोली, ओह! न जी न, 2-3 लिफ़ाफ़े चिपकाने हैं।
  • जीतो बस में अपने पीछे खड़े एक आदमी से बोली, "थोड़ा पीछे होकर खड़े रहें।"
    आदमी बोला, "पीछे से लोग धक्का मार रहे हैं।"
    जीतो: चूतिये, 2 बच्चों की माँ हूँ। धक्का मारने और गांड मारने में फर्क समझती हूँ।
  • रोज डे (Rose Day) पे संता, जीतो से, `मैंने तुम्हें रोज(Rose) दिया तुमने मुझे 'थैंक यू' भी नहीं बोला।<br />
जीतो: मैं तुम्हें रोज़ देती हूँ, तुमने कभी कहा?
    रोज डे (Rose Day) पे संता, जीतो से, "मैंने तुम्हें रोज(Rose) दिया तुमने मुझे 'थैंक यू' भी नहीं बोला।
    जीतो: मैं तुम्हें रोज़ देती हूँ, तुमने कभी कहा?
  • प्रीतो: अब मुझे बहुत ध्यान रखना पड़ता है कि मैं कहीं गर्भवती ना हो जाऊं।
    जीतो: पर तुम तो कह रही थी कि तुम्हारे पति ने ऑपरेशन करवा लिया है।
    प्रीतो: तभी तो ज्यादा ध्यान रखना पड़ता है।
  • जीतो: आजकल मुझे सारी रात जागना पड़ता है।
    प्रीतो: वो क्यों?
    जीतो: मेरे पति बीमार हैं न इसलिए।
    प्रीतो: तो कोई नर्स क्यों नहीं रख लेती?
    जीतो: नर्स रखी है, इसीलिए तो जागती हूँ।
  • एयरपोर्ट पर जीतो के बैग से प्लास्टिक का लंड लिकला।
    अधिकारी: क्या आपके पति नहीं हैं?
    जीतो: जी वो तो फिक्स लैंड लाइन की तरह हैं और ये मोबाइल की तरह, इसे मैं कहीं भी ले जाती हूँ।
  • नौकरानी: बीवी जी, अपनी साड़ी वापस ले लो।
    जीतो: क्यों?
    नौकरानी: जब पहनती हूँ तो साहब आप समझकर ध्यान ही नहीं देते, उल्टा पीछे से पड़ोसी लिपट जाते हैं।