• जिंदगी से आज तक एक ही चीज सीखी है कि...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    ज्यादा मुठ मारने से कुछ प्राप्त नहीं होता बस लंड छिल जाता है!
  • लकीर मिट गई हाथों की,
    और वो कहती है हम उसे याद नहीं करते!
  • एक नया गाना आया है मेरी चढ़ती जवानी मांगे पानी रे पानी!
    अब ये नहीं समझ आ रहा 'नल का या लंड का'!
  • लंड जब हवस की चरम सीमा पार कर देता है तो हम उसे...
    स्वपनदोष का नाम दे देते हैं!
  • लोग कहते है कि संसार मे 2 तरह के लोग है काले व गोरे,
    मैं तीसरी प्रजाति को भी जानता हूँ उन्हें कहते है बहन के लौड़े!
  • एक मोहतरमा बोल रही थी कि मैने अच्छे अच्छों को सीधा कर दिया है<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
मैने पूछ लिया जिनका लिंग मुट्ठ मार के टेढ़ा हो चुका है वो किस समय मिले।
    एक मोहतरमा बोल रही थी कि मैने अच्छे अच्छों को सीधा कर दिया है
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    मैने पूछ लिया जिनका लिंग मुट्ठ मार के टेढ़ा हो चुका है वो किस समय मिले।
  • राजस्थान में लोग अपने बच्चे का नाम 'लव' नहीं रखते क्योंकि...<br/>
वहाँ लोग पप्पू को पप्पुड़ा, राजू को राजुड़ा और कालू को कालुड़ा कहते हैं।<br/>
ऐसे में कौन अपने बच्चे का नाम 'लव' रखेगा?
    राजस्थान में लोग अपने बच्चे का नाम 'लव' नहीं रखते क्योंकि...
    वहाँ लोग पप्पू को पप्पुड़ा, राजू को राजुड़ा और कालू को कालुड़ा कहते हैं।
    ऐसे में कौन अपने बच्चे का नाम 'लव' रखेगा?
  • किसी ने क्या खूब कहा,<br/>
पत्रकारों को `सूत्र` से और डॉक्टरों को `मूत्र` से बहुत सी आवश्यक जानकारियाँ मिल जाती हैं।
    किसी ने क्या खूब कहा,
    पत्रकारों को "सूत्र" से और डॉक्टरों को "मूत्र" से बहुत सी आवश्यक जानकारियाँ मिल जाती हैं।
  • थोड़ा गुरूर भी होना ज़रूरी है जीने ले लिए,<br/>
ज़्यादा झुक कर मिलो तो पीछे से गांड मार लेती है दुनिया।
    थोड़ा गुरूर भी होना ज़रूरी है जीने ले लिए,
    ज़्यादा झुक कर मिलो तो पीछे से गांड मार लेती है दुनिया।
  • चूत का चक्कर भी बडा अजीब है गालिब...<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
लंड भी हम दें पैसे भी!
    चूत का चक्कर भी बडा अजीब है गालिब...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    लंड भी हम दें पैसे भी!