• टॅक्सी ड्राइवर: अब तक मैं 10 प्रेग्नेंट लड़कियों को ऐयरपोर्ट छोड़ चुका हूँ
    लड़की: पर मैं तो प्रेग्नेंट नही हूँ!
    टॅक्सी ड्राइवर: अभी ऐयरपोर्ट भी तो कहाँ आया है मेडम!
  • अध्यापक: तुम्हारा नाम क्या है?
    विधार्थी: जी, होला!
    अध्यापक: यह कैसा नाम है?
    विधार्थी: मास्टर जी, मैं 'होली' के त्यौहार वाले दिन पैदा हुआ था!
    अध्यापक: शुक्र है, तुम 'लोड़ी' वाले दिन पैदा नहीं हुए!
  • शादी की गांठे तो आसमान में ही बंध जाती हैं!
    इन्सान तो सिर्फ पेटीकोट, सलवार और ब्रा की गांठे खोलने के लिए ही ज़मीन पर भेजा जाता है!
  • सुहाग रात को पति के अंदर घुसते ही बीवी ने अपना ब्लाउज उतार दिया!
    पति ये देख कर बड़ा हैरान हुआ और बीवी से पूछा, "अरे, तुमने मेरे आते ही अपना ब्लाउज क्यों उतार दिया?"
    बीवी शरमाते हुए बोली, "जी, आपकी भाभी ने कहा था कि तुम जाते ही अपने पति को दूध ज़रूर पिला देना!
  • गम में भी हमको जीना आता है;
    सेक्स करने में भी पसीना आता है!
    एक हम हैं कि आपको अक्सर "एस एम् एस" करते हैं;
    एक तुम्हारे "एस एम् एस" हैं; जैसे औरतों को महीना आता है!
  • तीर क्या चलाती हो, धार तो तलवार में है;
    दुपट्टे से क्या छुपाती हो, माल तो सलवार में है!
  • तीन गांडू एक दूसरे की ले रहे थे! अचानक पुलिस का छापा पड़ गया! एक को पुलिस पकड़ कर ले गयी, दूसरा भाग गया और तीसरा यह "एस एम्म एस" का मज़ा ले रहा है!
  • इंसान जब पहली बार डालता है, तो उसे डर लगता है!
    मगर तुम न घबराना और डाल देना! तुम जैसे ही रखोगे वह खुद अन्दर चला जायेगा!
    और फिर अजीब-अजीब आवाजें आयेंगी;
    और फिर जब तुम्हारी पैसे पूरे निकाल जायें;
    तो तुम निकाल लेना अपना "ए.टी.एम्" कार्ड!
  • सर आप मुझें नौकरी से निकाल तो नहीं रहे?<br />
नहीं, पर तुम्हें किसने कहा?<br />
वो आपने कैबिन से सोफा और बेड हटवा दिया न, इसलिए!
    सर आप मुझें नौकरी से निकाल तो नहीं रहे?
    नहीं, पर तुम्हें किसने कहा?
    वो आपने कैबिन से सोफा और बेड हटवा दिया न, इसलिए!
  • उसने कहा दबाओ;
    मैंने दबाया!
    उसने कहा और दबाओ;
    मैंने और दबाया!
    उसने कहा बनियान निकल दो, फिर दबाओ;
    मैंने फिर दबाया!
    उसने कहा पेंट भी निकाल दो, फिर दबाओ;
    मैंने फिर दबाया!
    देखा हो गया न सूटकेस बंद!