• पप्पू: मैं कभी भी किसी 'गे' के साथ नहीं लड़ सकता।
    बंटी: क्यों?
    पप्पू: क्योंकि मुझे पता ही नहीं मैं उसे कौन सो गाली दूँ, मैं तेरी गांड फाड़ दूंगा, गांड मरा, चोद डालूँगा।
    इसलिए मैं उनसे कभी नहीं लड़ता।
  • पप्पू अपनी गर्लफ्रेंड के पिता से, `यूं तो यह रस्म पूरी करने वाली बात है। मैं आपकी लड़की से शादी करना चाहता हूं।`<br/>

गर्लफ्रेंड के पिता: ये तुमसे किसने कहा कि शादी एक रस्म पूरी करने वाली बात है?<br/>

पप्पू: Gynaecologist ने।
    पप्पू अपनी गर्लफ्रेंड के पिता से, "यूं तो यह रस्म पूरी करने वाली बात है। मैं आपकी लड़की से शादी करना चाहता हूं।"
    गर्लफ्रेंड के पिता: ये तुमसे किसने कहा कि शादी एक रस्म पूरी करने वाली बात है?
    पप्पू: Gynaecologist ने।
  • अध्यापक: अगर कोई अपनी बात दूसरे को न समझा सके तो वो चुतिया होता है।<br/>
पप्पू: सर क्या मतलब? मैं कुछ समझा नहीं।
    अध्यापक: अगर कोई अपनी बात दूसरे को न समझा सके तो वो चुतिया होता है।
    पप्पू: सर क्या मतलब? मैं कुछ समझा नहीं।
  • कक्षा में अध्यापिका: वो लड़कियों को पसंद नहीं करता। इस वाक्य में 'वो' क्या है?<br/>
पप्पू: वो साला 'गे' है।
    कक्षा में अध्यापिका: वो लड़कियों को पसंद नहीं करता। इस वाक्य में 'वो' क्या है?
    पप्पू: वो साला 'गे' है।
  • पप्पू अपनी गर्लफ्रेंड के हाथ को अपने हाथ में पकड़ कर बोला, `तुम्हारी उंगलियों को देख कर मन में एक विचार आता है।`<br/>
गर्लफ्रेंड: जानू, कैसा विचार आता है?<br/>
पप्पू: यह तुम्हारे लंबे नाख़ून गांड धोते वक़्त गांड में लगते नहीं क्या?
    पप्पू अपनी गर्लफ्रेंड के हाथ को अपने हाथ में पकड़ कर बोला, "तुम्हारी उंगलियों को देख कर मन में एक विचार आता है।"
    गर्लफ्रेंड: जानू, कैसा विचार आता है?
    पप्पू: यह तुम्हारे लंबे नाख़ून गांड धोते वक़्त गांड में लगते नहीं क्या?
  • पप्पू भागता-भागता अपने पडोसी के घर गया और पूछा, `आंटी स्टोव का पिन है क्या?`<br/>
आंटी: स्टोव पे खाना पका रहे हो क्या?<br/>
पप्पू: नहीं, वो सुबह से मुठ मार रहा हूँ, पर कुछ निकल ही नहीं रहा। लगता है अंदर कुछ फंसा हुआ है।
    पप्पू भागता-भागता अपने पडोसी के घर गया और पूछा, "आंटी स्टोव का पिन है क्या?"
    आंटी: स्टोव पे खाना पका रहे हो क्या?
    पप्पू: नहीं, वो सुबह से मुठ मार रहा हूँ, पर कुछ निकल ही नहीं रहा। लगता है अंदर कुछ फंसा हुआ है।
  • पिंकी: पापा, मैं माँ बनने वाली हूँ।<br/>

संता: बदतमीज, बेशरम, नालायक ! तुम्हें शर्म नहीं आती।<br/>

पिंकी: आप चिल्ला क्यों रहे हैं? आपने ही तो कहा था कि जब तक मैं कुछ बन नहीं जाती आप मेरी शादी नहीं करेंगे!
    पिंकी: पापा, मैं माँ बनने वाली हूँ।
    संता: बदतमीज, बेशरम, नालायक ! तुम्हें शर्म नहीं आती।
    पिंकी: आप चिल्ला क्यों रहे हैं? आपने ही तो कहा था कि जब तक मैं कुछ बन नहीं जाती आप मेरी शादी नहीं करेंगे!
  • अध्यापक: हिंदी की सबसे छोटी इकाई (Unit) को स्प्ष्ट करने वाली संख्या क्या है?<br/>
पप्पू: झांट बराबर!
    अध्यापक: हिंदी की सबसे छोटी इकाई (Unit) को स्प्ष्ट करने वाली संख्या क्या है?
    पप्पू: झांट बराबर!
  • टीचर ने पप्पू  परीक्षा में नक़ल करते पकड़ लिया और कहा, `चुप-चाप बाहर चले जाओ, क्योंकि तुम जो भी कहोगे हम उस पर ध्यान नहीं देंगे।`<br/>

पप्पू: आपके बूब्स बड़े मस्त हैं, टीचर!
    टीचर ने पप्पू परीक्षा में नक़ल करते पकड़ लिया और कहा, "चुप-चाप बाहर चले जाओ, क्योंकि तुम जो भी कहोगे हम उस पर ध्यान नहीं देंगे।"
    पप्पू: आपके बूब्स बड़े मस्त हैं, टीचर!
  • पप्पू अपनी गर्लफ्रेंड के साथ पार्क में बैठा था। आसमान की तरफ देखकर अपनी गर्लफ्रेंड से बोला, `जानू आज मौसम कितना बढ़िया है ना, तुम्हें कुछ महसूस नहीं हो रहा?`<br/>

गर्लफ्रेंड: हां! हो रहा है।<br/>

पप्पू: क्या?<br/>

गर्लफ्रेंड: यही कि मैं आज फिर से चुदने वाली हूँ।
    पप्पू अपनी गर्लफ्रेंड के साथ पार्क में बैठा था। आसमान की तरफ देखकर अपनी गर्लफ्रेंड से बोला, "जानू आज मौसम कितना बढ़िया है ना, तुम्हें कुछ महसूस नहीं हो रहा?"
    गर्लफ्रेंड: हां! हो रहा है।
    पप्पू: क्या?
    गर्लफ्रेंड: यही कि मैं आज फिर से चुदने वाली हूँ।