• अध्यापिका: पारदर्शी (Transparent) पद का उदाहरण दो?
    पप्पू: आपकी ड्रेस में से लाल रंग की ब्रा दिख रही है।
    अध्यापिका गुस्से में, "महामूर्ख कुछ तो शर्म कर।"
    पप्पू मासूमियत से, "मैडम, तभी तो नहीं बोला कि पैंटी भी फटी हुई है।"
  • अर्ज़ किया है:
    नादान है कितनी वो, कुछ समझती ही नहीं;
    सीने से लिपटकर पूछती है, "ये नीचे से क्या चुभ रहा है?"
  • सनी लियॉन: हिंदी सीख रही थी।
    अध्यापिका: इसका अर्थ समझाओ, "चादर देखकर पैर फैलाना चाहिए।"
    सनी लियॉन: जब भी आप बेड शीट देखें, अपने पैर फैलाओ।
  • सिंधी का बेटा: पापा मेरी दूर की नजर खराब हो गई है, नये चश्में बनवा दो।
    सिंधी: बाहर चल वो क्या है आसमान में?
    सिंधी का बेटा: पापा वो चाँद है।
    सिंधी: इससे दूर क्या बहनचोद परियों की गांड देखेगा।
  • मेहमान: बेटा, नाम क्या है आपका?
    पप्पू: जी पप्पू।
    मेहमान: ये तो घर का नाम है। वो बताओ जो तुम्हें स्कूल में कहकर बुलाते हैं?
    पप्पू: ओय, पप्पू बहन के लौड़े।
  • आदमी केवल 2 समस्याओं के साथ रहता है:
    पहली: ये साला इतना खड़ा क्यों होता है?
    दूसरी: ये साला आज-कल खड़ा क्यों नहीं होता है?
  • जीतो: कल मैं टॉयलेट गया तो वहां पर एक सांप बैठा था।
    प्रीतो हैरानी से बोली, "हाय ओ रब्बा! फिर तूने क्या किया?"
    जीतो: कुछ नहीं मैंने सांप को कहाँ तुम कर लो, मेरी तो निकल गई है।
  • चिकन ऐसे पकाओ कि कच्चा ना हो;
    वाह वाह!
    चिकन ऐसे पकाओ कि कच्चा ना हो;
    और
    मोहब्बत ऐसे निभाओ कि बच्चा ना हो!
  • निराशा की सीमा:
    एक आदमी कंडोम का पैकेट खरीदने के लिए एक मेडिकल की दुकान पर गया।
    और पत्नी का मोबाइल पर मैसेज मिला कि "घर आते वक़्त 'व्हिस्पर' (WHISPER) लेते आना"।
  • जीतो: जानू आपने कोई ऐसी गाली सुनी है जो देखी भी हो?
    संता: हँसने लगा और बोला हां।
    जीतो: कौन सी?
    संता हँसते हुए बोला, "तेरी बहन की चूत।"