• अपना दुख और अपना लंड सबको ही बड़ा लगता है।
  • लड़की उस शख्स को माफ़ कर देती है जो मौके का गलत फायदा उठाये;
    मगर उसको कभी माफ़ नहीं करती जो मौके का फायदा ही ना उठाये।
  • एक गुब्बारे वाले की दुकान के बाहर लिखा था:
    अगर अपने बच्चों को गुब्बारा नहीं दिला सकते तो वक्त पे गुब्बारा चढ़ा लिया करो।
  • आज की पत्नियों को ये समझ नहीं आता कि क्या करें?
    खराब कामवाली मिले तो खुद को काम करना पड़ता है।
    और अगर अच्छी मिले तो;
    .
    . .
    . . .
    "पति काम कर जाता है।"
  • एक बार एक कुंवारा लड़का मर गया।
    माँ रो-रो के, "हे भगवान् इसने तो अभी जवानी भी नहीं देखी थी!"
    पड़ोस की भाभी रोते हुए बोली, "ना रो चाची मैंने दिखा दी थी।"
  • कडवा सच:
    जब एक आदमी अमीर हो जाए तो शरारती हो जाता है;
    और अगर एक औरत शरारती हो जाए तो अमीर हो जाती है!
  • मैं अकेला ही चला था अपनी मंजिल के लिए;
    अनुभवी लोग मिलते गए और मैं चूतिया बनता गया!
  • अर्ज़ किया है:
    नादान है कितनी वो, कुछ समझती ही नहीं;
    सीने से लिपटकर पूछती है, "ये नीचे से क्या चुभ रहा है?"
  • सनी लियॉन: हिंदी सीख रही थी।
    अध्यापिका: इसका अर्थ समझाओ, "चादर देखकर पैर फैलाना चाहिए।"
    सनी लियॉन: जब भी आप बेड शीट देखें, अपने पैर फैलाओ।
  • आदमी केवल 2 समस्याओं के साथ रहता है:
    पहली: ये साला इतना खड़ा क्यों होता है?
    दूसरी: ये साला आज-कल खड़ा क्यों नहीं होता है?