• उन्हें सआदते-मंजिल-रसी नसीब क्या होगी;<br/>
वह पाँव जो राहे-तलब में डगमगा न सके।<br/><br/>
अर्थ:<br/>
1. सआदते - प्रताप, तेज, इकबाल <br/>
2. रसी - मंजिल की प्राप्ति, मंजिल तक पहुंच <br/>
3. राहे-तलब - रास्ते की खोजUpload to Facebook
    उन्हें सआदते-मंजिल-रसी नसीब क्या होगी;
    वह पाँव जो राहे-तलब में डगमगा न सके।

    अर्थ:
    1. सआदते - प्रताप, तेज, इकबाल
    2. रसी - मंजिल की प्राप्ति, मंजिल तक पहुंच
    3. राहे-तलब - रास्ते की खोज
    ~ Jigar Moradabadi
  • उजाले अपनी यादों के हमारे साथ रहने दो;>br/>
न जाने किस गली में जिंदगी की शाम हो जाए। Upload to Facebook
    उजाले अपनी यादों के हमारे साथ रहने दो;>br/> न जाने किस गली में जिंदगी की शाम हो जाए।
    ~ Bashir Badr
  • इक तर्जे-तगाफुल है सो वह उनको मुबारक;<br/>
इक अर्जे-तमन्ना है, सो हम करते रहेंगे। <br/><br/>
अर्थ:<br/>
1. तर्जे-तगाफुल - उपेक्षा या बेतवज्जुही की आदत या स्वभाव<br/>
2. अर्जे-तमन्ना - ख्वाहिश या आरजू की अभिव्यक्तिUpload to Facebook
    इक तर्जे-तगाफुल है सो वह उनको मुबारक;
    इक अर्जे-तमन्ना है, सो हम करते रहेंगे।

    अर्थ:
    1. तर्जे-तगाफुल - उपेक्षा या बेतवज्जुही की आदत या स्वभाव
    2. अर्जे-तमन्ना - ख्वाहिश या आरजू की अभिव्यक्ति
    ~ Faiz Ahmad Faiz
  • न मेरा नाम था, न दाम था बाजार-ए-मोहब्बत में;<br/>
तुमने भाव पूछकर अनमोल कर दिया!Upload to Facebook
    न मेरा नाम था, न दाम था बाजार-ए-मोहब्बत में;
    तुमने भाव पूछकर अनमोल कर दिया!
  • चलो माना तुम्हारी आदत है तडपाना;<br/>
मगर जरा सोचो अगर कोई मर गया तो!Upload to Facebook
    चलो माना तुम्हारी आदत है तडपाना;
    मगर जरा सोचो अगर कोई मर गया तो!
  • बस यही सोचकर कोई सफाई नहीं दी हमने;<br/>
की इलज़ाम भले ही झूठे हो पर लगाये तो तुमने!Upload to Facebook
    बस यही सोचकर कोई सफाई नहीं दी हमने;
    की इलज़ाम भले ही झूठे हो पर लगाये तो तुमने!
  • आप की खातिर से हम करते हैं जब्त-ए-इज्तिराब;<br/>
देखकर बेताब मुझको और घबराते हैं आप।<br/><br/>
Meaning:<br/>
1. जब्त-ए-इज्तिराब - बेचैनी या बेकरारी पर काबू <br/>
2. बेताब - व्याकुल, बेचैनUpload to Facebook
    आप की खातिर से हम करते हैं जब्त-ए-इज्तिराब;
    देखकर बेताब मुझको और घबराते हैं आप।

    Meaning:
    1. जब्त-ए-इज्तिराब - बेचैनी या बेकरारी पर काबू
    2. बेताब - व्याकुल, बेचैन
    ~ Bahadur Shah Zafar
  • कुछ नहीँ था मेरे पास खोने को;<br/>
जब से मिले हो तुम डर गया हूँ मैँ |Upload to Facebook
    कुछ नहीँ था मेरे पास खोने को;
    जब से मिले हो तुम डर गया हूँ मैँ |
  • कहाँ वह खल्वतें दिन-रात की और अब यह आलम है;<br/>
कि जब मिलते हैं दिल कहता है, कोई तीसरा होता।<br/><br/>
Meaning:<br/>
1. खल्वतें - एकान्त, जहाँ दूसरा न हो, तन्हाई <br/>
2.आलम - हालत, दशा, स्थितिUpload to Facebook
    कहाँ वह खल्वतें दिन-रात की और अब यह आलम है;
    कि जब मिलते हैं दिल कहता है, कोई तीसरा होता।

    Meaning:
    1. खल्वतें - एकान्त, जहाँ दूसरा न हो, तन्हाई
    2.आलम - हालत, दशा, स्थिति
    ~ Firaq Gorakhpuri
  • उभरेंगे एक बार अभी दिल के वलवले;<br/>
गो दब गए हैं बार-ए-गम-ए-जिन्दगी से हम।<br/><br/>
अर्थ:<br/>
वलवले - उत्साह, हौंसला, उम्मीद<br/>
बारे - बोझ, भार, वजनUpload to Facebook
    उभरेंगे एक बार अभी दिल के वलवले;
    गो दब गए हैं बार-ए-गम-ए-जिन्दगी से हम।

    अर्थ:
    वलवले - उत्साह, हौंसला, उम्मीद
    बारे - बोझ, भार, वजन
    ~ Sahir Ludhianvi