Hindi Shayari

Page: 1
आज उसने हमें एक और दर्द दिया तो हमें याद आया;
कि दुआओं में हमने ही तो उसके सारे दर्द मांगे थे।
हुआ है जो सदा उस को नसीबों का लिखा समझा;
'अदीम' अपने किए पर मुझ को पछताना नहीं आता।
~ Adeem Hashmi
इस दिल ने अब प्यार करना छोड़ दिया;<br/>
जिस दिन से तुमने ये दिल तोड़ दिया;<br/>
अब तो रो भी नहीं सकते अपनी बेबसी पे;<br/>
इस लिए इन आँखों ने अब रोना भी छोड़ दिया।
इस दिल ने अब प्यार करना छोड़ दिया;
जिस दिन से तुमने ये दिल तोड़ दिया;
अब तो रो भी नहीं सकते अपनी बेबसी पे;
इस लिए इन आँखों ने अब रोना भी छोड़ दिया।
जाती नहीं आँखों से सूरत तेरी;<br/>
ना जाती है दिल से मोहब्बत तेरी;<br/>
तेरे जाने के बाद होता है महसूस यूँ;<br/>
हमें और भी ज्यादा है ज़रुरत है तेरी।
जाती नहीं आँखों से सूरत तेरी;
ना जाती है दिल से मोहब्बत तेरी;
तेरे जाने के बाद होता है महसूस यूँ;
हमें और भी ज्यादा है ज़रुरत है तेरी।
खुश रहे तू है जहाँ, ले जा दुआएं मेरी;
तेरी राहों से जुदा हो गयी हैं राहें मेरी;
कुछ नहीं पास मेरे अब खाली हाथ हैं;
किसी और की नहीं सब खतायें हैं मेरी।
उलझाव का मज़ा भी...

उलझाव का मज़ा भी तेरी बात ही में था;
तेरा जवाब तेरे सवालात ही में था;

साया किसी यक़ीं का भी जिस पर न पड़ सका;
वो घर भी शहर-ए-दिल के मुज़ाफ़ात ही में था;

इलज़ाम क्या है ये भी न जाना तमाम उम्र;
मुल्ज़िम तमाम उम्र हवालात ही में था;

अब तो फ़क़त बदन की मुरव्वत है दरमियाँ;
था रब्त जान-ओ-दिल का तो शुरूआत ही में था;

मुझ को तो क़त्ल करके मनाता रहा है जश्न;
वो ज़िलिहाज़ शख़्स मेरी ज़ात ही में था।
~ Aziz Qaizi
हम ही में थी न कोई बात, याद न तुम को आ सके;
तुम ने हमें भुला दिया हम न तुम्हें भुला सके।
~ Hafeez Jalandhari
जमीन छुपाने के लिए गगन होता है;<br/>
दिल छुपाने के लिए बदन होता है;<br/>
शायद मरने के बाद भी छुपाये जाते हैं गम;<br/>
इसीलिए हर लाश पे कफ़न होता है।
जमीन छुपाने के लिए गगन होता है;
दिल छुपाने के लिए बदन होता है;
शायद मरने के बाद भी छुपाये जाते हैं गम;
इसीलिए हर लाश पे कफ़न होता है।
तू होश में थी फिर भी हमें पहचान न पायी;<br/>
एक हम है कि पी कर भी तेरा नाम लेते रहे।
तू होश में थी फिर भी हमें पहचान न पायी;
एक हम है कि पी कर भी तेरा नाम लेते रहे।
हद-ए-शहर से निकली तो गाँव गाँव चली;
कुछ यादें मेरे संग पांव पांव चली;
सफ़र जो धूप का किया तो तजुर्बा हुआ;
वो जिंदगी ही क्या जो छाँव छाँव चली।

Quotes

विवाह का बंधन भी बाकी किसी निवेश की तरह ही होता है जो धीरे-धीरे परिपक्व होता है।

Trivia

"Zoodles" are noodles made out of zucchini.

Graffiti

Actor - A man who tries to be everything but himself.