कहाँ आ के रुकने थे रास्ते कहाँ मोड़ था उसे भूल जा;
वो जो मिल गया उसे याद रख जो नहीं मिला उसे भूल जा;
वो तेरे नसीब की बारिशें किसी और छत पे बरस गईं;
दिल-ए-मुंतज़िर मेरी बात सुन उसे भूल जा उसे भूल जा।

अनुवाद:
दिल-ए-मुंतज़िर = इंतज़ार करने वाला दिल
Send to your FB Contact's Inbox directly
Hide Comments
Show Comments
मोहब्बत की हवा जिस्म की दवा बन गयी;
दूरी आपकी मेरी चाहत की सज़ा बन गयी;
कैसे भूलूँ आपको एक पल के लिए भी;
आपकी याद हमारे जीने की वजह बन गयी।
Send to your FB Contact's Inbox directly
Hide Comments
Show Comments
तेरी आवाज़ तेरे रूप की पहचान है;
तेरे दिल की धड़कन में दिल की जान है;
ना सुनूं जिस दिन तेरी बातें;
लगता है उस रोज़ ये जिस्म बेजान है।
Send to your FB Contact's Inbox directly
Hide Comments
Show Comments
ना दिल से होता है, ना दिमाग से होता है;
ये प्यार तो इत्तेफ़ाक़ से होता है;
पर प्यार करके प्यार ही मिले;
ये इत्तेफ़ाक़ भी किसी-किसी के साथ होता है।
Send to your FB Contact's Inbox directly
Hide Comments
Show Comments
अगर तलाश करूँ...

अगर तलाश करूँ कोई मिल ही जायेगा;
मगर तुम्हारी तरह कौन मुझे चाहेगा;

तुम्हें ज़रूर कोई चाहतों से देखेगा;
मगर वो आँखें हमारी कहाँ से लायेगा;

ना जाने कब तेरे दिल पर नई सी दस्तक हो;
मकान ख़ाली हुआ है तो कोई आयेगा;

मैं अपनी राह में दीवार बन के बैठा हूँ;
अगर वो आया तो किस रास्ते से आयेगा;

तुम्हारे साथ ये मौसम फ़रिश्तों जैसा है;
तुम्हारे बाद ये मौसम बहुत सतायेगा।
Send to your FB Contact's Inbox directly
Hide Comments
Show Comments

Forthcoming Events & Festivals

Popular Picture SMS