• उलझे हुए हैं अपनी उलझनों मे आज कल;<br/>
आप ये न समझना के अब वो लगाव नहीं रहा!Upload to Facebook
    उलझे हुए हैं अपनी उलझनों मे आज कल;
    आप ये न समझना के अब वो लगाव नहीं रहा!
  • तुझसे बात करके ही चेहरे का रंग बदल जाता है;
    और लोग पूछते हैं दवा का नाम क्या है!
  • ना जाने वो कौन तेरा हबीब होगा;<br/>
तेरे हाथों में जिसका नसीब होगा;<br/>
कोई तुम्हें चाहे ये कोई बड़ी बात नहीं;<br/>
लेकिन तुम जिसको चाहो, वो खुश नसीब होगा!Upload to Facebook
    ना जाने वो कौन तेरा हबीब होगा;
    तेरे हाथों में जिसका नसीब होगा;
    कोई तुम्हें चाहे ये कोई बड़ी बात नहीं;
    लेकिन तुम जिसको चाहो, वो खुश नसीब होगा!
  • लोग कहते हैं पिये बैठा हूँ मैं;
    खुद को मदहोश किये बैठा हूँ मैं;
    जान बाकी है वो भी ले लीजिये;
    दिल तो पहले ही दिये बैठा हूँ मैं!
  • हम भी कभी मुस्कुराया करते थे;<br/>
उजाले में भी शोर मचाया करते थे;<br/>
उसी दिये ने जला दिया मेरे हाथों को;<br/>
जिस दिये को हम हवा से बचाया करते थे।Upload to Facebook
    हम भी कभी मुस्कुराया करते थे;
    उजाले में भी शोर मचाया करते थे;
    उसी दिये ने जला दिया मेरे हाथों को;
    जिस दिये को हम हवा से बचाया करते थे।
  • सीख जाओ वक्त पर किसी की चाहत की कदर करना;
    कहीं कोई थक ना जाए तुम्हें एहसास दिलाते-दिलाते!
  • कोई कहता है प्यार नशा बन जाता है;<br/>
कोई कहता है प्यार सज़ा बन जाता है;<br/>
पर प्यार करो अगर सच्चे दिल से;<br/>
तो वो प्यार ही जीने की वजह बन जाता है!Upload to Facebook
    कोई कहता है प्यार नशा बन जाता है;
    कोई कहता है प्यार सज़ा बन जाता है;
    पर प्यार करो अगर सच्चे दिल से;
    तो वो प्यार ही जीने की वजह बन जाता है!
  • वो वक़्त वो लम्हें कुछ अजीब होंगे;
    दुनिया में हम खुश नसीब होंगे;
    दूर से जब इतना याद करते हैं आपको;
    क्या होगा जब आप हमारे करीब होंगे!
  • काश! मैं भी पानी का एक घूँट होता;<br/>
तेरे होंठों से लगता और तेरी रग-रग में समा जाता!Upload to Facebook
    काश! मैं भी पानी का एक घूँट होता;
    तेरे होंठों से लगता और तेरी रग-रग में समा जाता!
  • कितने ही बरसों का सफर खाक हुआ;
    उसने जब पूछा कहो कैसे आना हुआ!