• ना हथियार से मिलते हैं ना अधिकार से मिलते हैं;<br/>
दिलों पर कब्जे तो बस प्यार और प्यार से मिलते हैं!Upload to Facebook
    ना हथियार से मिलते हैं ना अधिकार से मिलते हैं;
    दिलों पर कब्जे तो बस प्यार और प्यार से मिलते हैं!
  • हक़ीक़त हो तुम कैसे तुझे सपना कहूँ;<br/>
तेरे हर दर्द को में अपना कहूँ;<br/>
सब कुछ क़ुर्बान है मेरे प्यार पर;<br/>
कौन है तेरे सिवा जिसे में अपना कहूँ!Upload to Facebook
    हक़ीक़त हो तुम कैसे तुझे सपना कहूँ;
    तेरे हर दर्द को में अपना कहूँ;
    सब कुछ क़ुर्बान है मेरे प्यार पर;
    कौन है तेरे सिवा जिसे में अपना कहूँ!
  • मिट्टी की बनी हूँ महक उठूंगी;<br/>
बस तू इक बार बेइन्तहा 'बरस' के तो देख!Upload to Facebook
    मिट्टी की बनी हूँ महक उठूंगी;
    बस तू इक बार बेइन्तहा 'बरस' के तो देख!
  • हैं परेशानियाँ यूँ तो बहुत सी ज़िंदगी में;
    तेरी मोहब्बत सा मगर, कोई तंग नहीं करता!
  • तुम्हारी एक मुस्कान से सुधर गई तबियत मेरी;<br/>
बताओ ना तुम इश्क करते हो या इलाज करते हो!Upload to Facebook
    तुम्हारी एक मुस्कान से सुधर गई तबियत मेरी;
    बताओ ना तुम इश्क करते हो या इलाज करते हो!
  • इश्क़ कर लीजिये बेइंतेहा किताबों से;<br/>
एक यही हैं जो अपनी बातों से पलटा नहीं करतीं!Upload to Facebook
    इश्क़ कर लीजिये बेइंतेहा किताबों से;
    एक यही हैं जो अपनी बातों से पलटा नहीं करतीं!
  • बंध जाये किसी से रूह का बंधन;
    तो इजहार ए मोहब्बत को अल्फ़ाज़ों की जरुरत नहीं होती!
  • इतना शौंक मत रखो इन इश्क की गलियों में जाने का;
    क़सम से रास्ता जाने का है आने का नहीं!
  • एक बार उसने कहा था मेरे सिवा किसी से प्यार ना करना;<br/>
बस फिर क्या था तब से मोहब्बत की नजर से हमने खुद को भी नहीं देखा!Upload to Facebook
    एक बार उसने कहा था मेरे सिवा किसी से प्यार ना करना;
    बस फिर क्या था तब से मोहब्बत की नजर से हमने खुद को भी नहीं देखा!
  • सिर्फ बिछड़ जाने से ही तो रिश्ता खतम नहीं होता;
    प्यार वो कुआ है जिसका पानी कभी कम नहीं होता!