• अब मौत से कह दो कि नाराज़गी खत्म कर ले,<br/>
वो बदल गया है जिसके लिए हम ज़िंदा!
    अब मौत से कह दो कि नाराज़गी खत्म कर ले,
    वो बदल गया है जिसके लिए हम ज़िंदा!
  • रूठी जो जिदंगी तो मना लेंगे हम,<br/> 
मिले जो गम वो भी सह लेंगे हम,<br/> 
बस आप रहना हमेशा साथ हमारे तो,<br/> 
निकलते हुए आंसुओं में भी मुस्कुरा लेंगे हम।
    रूठी जो जिदंगी तो मना लेंगे हम,
    मिले जो गम वो भी सह लेंगे हम,
    बस आप रहना हमेशा साथ हमारे तो,
    निकलते हुए आंसुओं में भी मुस्कुरा लेंगे हम।
  • न रुकी वक़्त की गर्दिश और न ज़माना बदला;<br/>
पेड़ सूखा तो परिन्दों ने भी ठिकाना बदला!
    न रुकी वक़्त की गर्दिश और न ज़माना बदला;
    पेड़ सूखा तो परिन्दों ने भी ठिकाना बदला!
  • नोंक है ये समय, बुलबुला जान है;<br/>
बीच में ख़ौफ है, जिन्दगी नाम है!
    नोंक है ये समय, बुलबुला जान है;
    बीच में ख़ौफ है, जिन्दगी नाम है!
  • जी रहे है तेरी शर्तो के मुताबिक़ ए जिंदगी,<br/>
दौर आएगा कभी, हमारी फरमाइशो का भी!
    जी रहे है तेरी शर्तो के मुताबिक़ ए जिंदगी,
    दौर आएगा कभी, हमारी फरमाइशो का भी!
  • कड़वा है, फीका है, शिकवा क्या कीजिए;<br/>
जीवन समझौता है, घूँट - घूँट पीजीए!
    कड़वा है, फीका है, शिकवा क्या कीजिए;
    जीवन समझौता है, घूँट - घूँट पीजीए!
  • मुफ़्त में नहीं सीखा उदासी में मुस्कराने का हुनर,<br/>
बदले में ज़िन्दगी की हर ख़ुशी तबाह की है |
    मुफ़्त में नहीं सीखा उदासी में मुस्कराने का हुनर,
    बदले में ज़िन्दगी की हर ख़ुशी तबाह की है |
  • ना तंग कर प्यार करने दे ऐ जिन्दगी;<br/>
तेरी कसम तुझसे भी हसींन है वो!
    ना तंग कर प्यार करने दे ऐ जिन्दगी;
    तेरी कसम तुझसे भी हसींन है वो!
  • जिंदगी खेलती उसी से है;<BR/>
जो अच्छा खिलाड़ी होता है!
    जिंदगी खेलती उसी से है;
    जो अच्छा खिलाड़ी होता है!
  • ज़माने में आये हो तो जीने का हुनर भी रखना;<br/>
दुश्मनों से कोई खतरा नहीं बस अपनो पे नजर रखना!
    ज़माने में आये हो तो जीने का हुनर भी रखना;
    दुश्मनों से कोई खतरा नहीं बस अपनो पे नजर रखना!