• कभी खुली हवा मे घुमते थे;
    अब "ए. सी." की आदत लगायी है!
    धुप हम्से सहन नही होती;
    हर कोई देता यही दुहाई है!
  • तुमसा कोई दूसरा जमीन पर हुआ;<br />
तो रब से शिकायत होगी!<br />
एक का तो झेला नहीं जाता;<br />
दूसरा आ गया तो क्या हालत होगी!Upload to Facebook
    तुमसा कोई दूसरा जमीन पर हुआ;
    तो रब से शिकायत होगी!
    एक का तो झेला नहीं जाता;
    दूसरा आ गया तो क्या हालत होगी!
  • जब होता है तुम्हारा दीदार, दिल धड़कता है बार-बार;<br />
आदत से मजबूर हो तुम, ना जाने कब माँग लो उधार!Upload to Facebook
    जब होता है तुम्हारा दीदार, दिल धड़कता है बार-बार;
    आदत से मजबूर हो तुम, ना जाने कब माँग लो उधार!
  • ऐसी बाणी बोलियें की सबसे झगड़ा होए;
    पर उससे झगड़ा न करिये, जो अपने से तगड़ा होए!
  • दिली तमन्ना है कि मैं भी अपनी पलकों पे बैठाऊँ तुझको;<br />
बस तू अपना वजन कम करले, तो मेरा काम आसान हो जाए!Upload to Facebook
    दिली तमन्ना है कि मैं भी अपनी पलकों पे बैठाऊँ तुझको;
    बस तू अपना वजन कम करले, तो मेरा काम आसान हो जाए!
  • तारीफ के काबिल हम कहाँ;
    चर्चा तो आपकी चलती है!
    सब कुछ तो है आपके पास;
    बस सींग और पूंछ की कमी खलती है!
  • सोचा था हर मोड़ पे "एस ऍम एस" करेंगे आपको;
    पर कमबख्त पूरी सड़क सीधी थी, कोई मोड़ ही नहीं आया!
  • दिली तमन्ना है कि मैं भी अपनी पलकों पे बैठाऊँ तुझको;
    बस तू अपना वजन कम करले, तो मेरा काम आसान हो जाए!
  • भूल गए या, भुलाना चाहते हो;
    दूर कर दिया, या करना चाहते हो;
    अजमा लिया, या अजमाना चाहते हो;
    मेसेज कर रहे हो, या अभी और पैसे बचाना चाहते हो?
  • निकले जो दुनिया की भीड़ में तो ये जाना है;
    निकले जो दुनिया की भीड़ में तो ये जाना है;
    दुखी है हर वो शख्स, जिसे आज फिर काम पर जाना है!