• मुद्दत हो गयी इक वादा किया था उन्होने,<br/>
कश्मकश में हूँ, याद दिलाऊँ कि इंतज़ार करूँ!
    मुद्दत हो गयी इक वादा किया था उन्होने,
    कश्मकश में हूँ, याद दिलाऊँ कि इंतज़ार करूँ!
  • तपिश और बढ़ गई इन चंद बूंदों के बाद,<br/> 
काले स्याह बादल ने भी बस यूँ ही बहलाया मुझे।
    तपिश और बढ़ गई इन चंद बूंदों के बाद,
    काले स्याह बादल ने भी बस यूँ ही बहलाया मुझे।
  • ख्यालों में मेरे कभी आप भी खोये होंगे,<br/> 
खुली आँखों से कभी आप भी सोये होंगे,<br/>  
माना हँसी अदा है गम भुलाने की लेकिन,<br/>  
हँसते-हँसते कभी आप भी रोये होंगे।
    ख्यालों में मेरे कभी आप भी खोये होंगे,
    खुली आँखों से कभी आप भी सोये होंगे,
    माना हँसी अदा है गम भुलाने की लेकिन,
    हँसते-हँसते कभी आप भी रोये होंगे।
  • अब मौत से कह दो कि नाराज़गी खत्म कर ले,<br/>
वो बदल गया है जिसके लिए हम ज़िंदा!
    अब मौत से कह दो कि नाराज़गी खत्म कर ले,
    वो बदल गया है जिसके लिए हम ज़िंदा!
  • धूप लगती थी गाँव में मगर चुभती नहीं थी;<br/>
ऐ शहर तेरी छांव ने भी पसीने निकाल दिए!
    धूप लगती थी गाँव में मगर चुभती नहीं थी;
    ऐ शहर तेरी छांव ने भी पसीने निकाल दिए!
  • मिलता ही नही तुम्हारे जैसा कोई और इस शहर मै,<br/>
हमे क्या मालूम था कि तुम एक हो और वो भी किसी और के!
    मिलता ही नही तुम्हारे जैसा कोई और इस शहर मै,
    हमे क्या मालूम था कि तुम एक हो और वो भी किसी और के!
  • आइने और दिल का बस एक ही फसाना है,<br/>
टूट कर एक दिन दोनों को बिखर जाना है।
    आइने और दिल का बस एक ही फसाना है,
    टूट कर एक दिन दोनों को बिखर जाना है।
  • ऐ दिल मत कर इतनी मोहब्बत तू किसी से,<BR/>
इश्क़ में मिला दर्द तू सह नहीं पायेगा,<BR/> 
टूट कर बिखर जायेगा एक दिन अपनों के हाथों,<BR/> 
किसने तोड़ा ये भी किसी से कह नहीं पायेगा।
    ऐ दिल मत कर इतनी मोहब्बत तू किसी से,
    इश्क़ में मिला दर्द तू सह नहीं पायेगा,
    टूट कर बिखर जायेगा एक दिन अपनों के हाथों,
    किसने तोड़ा ये भी किसी से कह नहीं पायेगा।
  • शब्द तो यदा-कदा, चुभते ही रहते हैं,<BR/>
मौन चुभ जाए किसी का तो सम्भल जाना चाहिए!
    शब्द तो यदा-कदा, चुभते ही रहते हैं,
    मौन चुभ जाए किसी का तो सम्भल जाना चाहिए!
  • किसको क्या मिले इसका कोई हिसाब नहीं;<br/>
तेरे पास रूह नहीं मेरे पास लिबास नहीं!
    किसको क्या मिले इसका कोई हिसाब नहीं;
    तेरे पास रूह नहीं मेरे पास लिबास नहीं!