• एक अज़ीब सा रिश्ता है मेरे और ख्वाहिशों के दरमियाँ,<br/>
वो मुझे जीने नही देतीं और मैं उन्हें मरने नही देता।
    एक अज़ीब सा रिश्ता है मेरे और ख्वाहिशों के दरमियाँ,
    वो मुझे जीने नही देतीं और मैं उन्हें मरने नही देता।
  • मेरे दिल ने जब भी कभी कोई दुआ माँगी है;
    हर दुआ में बस तेरी ही वफ़ा माँगी है;
    जिस प्यार को देख कर जलते हैं यह दुनिया वाले;
    तेरी मोहब्बत करने की बस वो एक अदा माँगी है।
  • मुझे छोड़कर वो खुश हैं, तो शिकायत कैसी;
    अब मैं उन्हें खुश भी न देखूं तो मोहब्बत कैसी।
  • दिल में है जो बात किसी भी तरह कह डालिये,
    जिंदगी ही ना बीत जाये कहीं बताने में।
  • सारी उम्र आँखों में एक सपना याद रहा;<br/>
सदियाँ बीत गयी पर वो लम्हा याद रहा;<br/>
ना जाने क्या बात थी उनमे और हम में;<br/>
सारी महफ़िल भूल गए बस वो चेहरा याद रहा।
    सारी उम्र आँखों में एक सपना याद रहा;
    सदियाँ बीत गयी पर वो लम्हा याद रहा;
    ना जाने क्या बात थी उनमे और हम में;
    सारी महफ़िल भूल गए बस वो चेहरा याद रहा।
  • कितना प्यार है तुमसे, वो लफ्ज़ों के सहारे कैसे बताऊँ,
    महसूस कर मेरे एहसास को, अब गवाही कहाँ से लाऊँ।
  • पहली मुलाकात थी, हम दोनों ही थे बेबस;<br/>
वो जुल्फें न संभाल पाए और हम खुद को।<br/>
    पहली मुलाकात थी, हम दोनों ही थे बेबस;
    वो जुल्फें न संभाल पाए और हम खुद को।
  • बदल गया वक़्,त बदल गयी बातें, बदल गयी मोहब्बत;
    कुछ नहीं बदला तो वो है इन आँखों की नमी और तेरी कमी।
  • काश तू सुन पाता खामोश सिसकियां मेरी,
    आवाज़ करके रोना तो मुझे आज भी नहीं आता।
  • चैन से रहने का हमको मशवरा मत दीजिये,
    अब मजा देने लगी है जिन्दगी की मुश्किलें।