• पप्पू: पापा मुझे स्कुल छोडने आप क्यों आते हो? मेरे सभी दोस्तों को छोडने तो उनकी मम्मी आती हैं।<br/>
संता: बस इसीलिए बेटा।Upload to Facebook
    पप्पू: पापा मुझे स्कुल छोडने आप क्यों आते हो? मेरे सभी दोस्तों को छोडने तो उनकी मम्मी आती हैं।
    संता: बस इसीलिए बेटा।
  • आज का ज्ञान:<br/>
हम पानी क्यों पीते हैं?<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
क्योंकि हम उसे खा नहीं सकते।Upload to Facebook
    आज का ज्ञान:
    हम पानी क्यों पीते हैं?
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    क्योंकि हम उसे खा नहीं सकते।
  • ज़िन्दगी में अपनी ख्वाहिशों से कितना‪ समझौता‬ करना पड़ जाता है। जैसे आज 150 रूपये पाकर ये सोचना पड़ जाता है कि...<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
नेट का रिचार्ज करा कर‪ गर्लफ्रेंड‬ से बात करूँ या एक‪ क्वार्टर ‬पी कर मजे से सो जाऊं।Upload to Facebook
    ज़िन्दगी में अपनी ख्वाहिशों से कितना‪ समझौता‬ करना पड़ जाता है। जैसे आज 150 रूपये पाकर ये सोचना पड़ जाता है कि...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    नेट का रिचार्ज करा कर‪ गर्लफ्रेंड‬ से बात करूँ या एक‪ क्वार्टर ‬पी कर मजे से सो जाऊं।
  • कायदा तो यही बनता है क़ि 15 अगस्त को अपनी DP में तिरंगा लगाने वाले...<br/>
वैलेंटाइन डे को अपनी गर्लफ्रेंड का फोटो लगायें।Upload to Facebook
    कायदा तो यही बनता है क़ि 15 अगस्त को अपनी DP में तिरंगा लगाने वाले...
    वैलेंटाइन डे को अपनी गर्लफ्रेंड का फोटो लगायें।
  • आज मैं 85000 रू ले करके iPhone लेने गया, बस दुकान पे पहुंचा ही था कि बापू बोला, "रै मंलग खड़या हो ले 10 बज रहें है।"
    मेरे घर वाले तो सुपने में भी iPhone नहीं लेने देते।
  • तेरी सादगी को निहारने का दिल करता है,<br/>
तमाम उम्र ये तेरे नाम करने का दिल करता है,<br/>
एक मुकम्मल शायरी है तू कुदरत की,<br/>
तुझे ग़ज़ल बना कर ज़ुबान पे लाने का करता है।<br/>
वैलेंटाइन डे मुबारक!Upload to Facebook
    तेरी सादगी को निहारने का दिल करता है,
    तमाम उम्र ये तेरे नाम करने का दिल करता है,
    एक मुकम्मल शायरी है तू कुदरत की,
    तुझे ग़ज़ल बना कर ज़ुबान पे लाने का करता है।
    वैलेंटाइन डे मुबारक!
  • इंसानियत दिल में होती है, हैसियत में नहीं।<br/>
उपरवाला कर्म देखता है, वसीयत नहीं।Upload to Facebook
    इंसानियत दिल में होती है, हैसियत में नहीं।
    उपरवाला कर्म देखता है, वसीयत नहीं।
  • ऐ माँ नवाज दे उन्हें तू तेरी महर से,<br/>
जिन्होंने देखा नहीं दुनिया को दुनिया की नजर से,<br/>
जिनके चहरे की मासूमियत तेरे वजूद की गवाह है,<br/>
जिनको रहती है उम्मीद बस तेरे ही दर से।Upload to Facebook
    ऐ माँ नवाज दे उन्हें तू तेरी महर से,
    जिन्होंने देखा नहीं दुनिया को दुनिया की नजर से,
    जिनके चहरे की मासूमियत तेरे वजूद की गवाह है,
    जिनको रहती है उम्मीद बस तेरे ही दर से।
  • पति दो प्रकार के होते हैं। पहले वो जो हर बात में पत्नी की सलाह लेते हैं, हर वक्त उसकी तारीफ़ करते हैं, हर शाम लाँग ड्राइव पर ले जाते हैं...  जन्मदिन,  वैलेंटाइन डे और सालगिरह याद रखते हैं और मना करने पर भी महंगे गिफ्ट देते हैं। और दूसरे...<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
दूसरे वो जो हमारे आपके पास हैं।Upload to Facebook
    पति दो प्रकार के होते हैं। पहले वो जो हर बात में पत्नी की सलाह लेते हैं, हर वक्त उसकी तारीफ़ करते हैं, हर शाम लाँग ड्राइव पर ले जाते हैं... जन्मदिन, वैलेंटाइन डे और सालगिरह याद रखते हैं और मना करने पर भी महंगे गिफ्ट देते हैं। और दूसरे...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    दूसरे वो जो हमारे आपके पास हैं।
  • कल सुबह पत्नी चाय नाश्ता पूछने आई तो मैंने कहा बना दो। फिर रुक कर पूछने लगी जी ये मोदी जी एक दिन में 3 देश कैसे घूम सकते हैं?
    मैं बोला, "अगर साथ में बीवी न हो तो आदमी एक दिन में माॅस्को, काबुल और लाहौर घूमते हुए दिल्ली आ सकता है।वरना बिग बाज़ार में ही शाम हो जाती है।"
    बस उसके बाद ना चाय आई ना नाश्ता।
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT