• आत्मविश्वास में पैदल चलना संदेह में दौड़ने से कहीं बेहतर है।
  • मन में जो है साफ़ साफ़ कह दो, क्योंकि फैंसला फांसले से बेहतर होता है।
  • जीवन में एक दोस्त कर्ण जैसा भी ज़रूर होना चाहिए,
    जो तुम्हारे गलत होते हुए भी तुम्हारे लिए युद्ध करे।
  • मतलब की बात सब समझते हैं, बात का मतलब कोई नहीं।
    मतलब की बात सब समझते हैं, बात का मतलब कोई नहीं।
  • खुशियाँ बटोरते बटोरते उम्र गुज़र गयी पर खुश ना हो सके,
    एक दिन एहसास हुआ कि खुश तो वो लोग थे जो खुशियाँ बाँट रहे थे।
  • दूसरों को देखकर तुम्हें भी दुःख होता है तो समझ लो; <br/>
भगवान ने तुम्हें इंसान बनाकर कोई गलती नहीं की।
    दूसरों को देखकर तुम्हें भी दुःख होता है तो समझ लो;
    भगवान ने तुम्हें इंसान बनाकर कोई गलती नहीं की।
  • जीत और हार आपकी सोच पर निर्भर करती है।
    मान लो तो 'हार' होगी और ठान लो तो 'जीत' होगी।
  • तन की ख़ूबसूरती एक नेमत है, पर सबसे खूबसूरत आपकी ज़ुबान है।
    चाहे तो दिल 'जीत' ले चाहे तो दिल 'चीर' दे।
  • मित्रता आनंद को दुगुना और दुख को आधा कर देती है।
  • मंज़िलें चाहे कितनी भी ऊँची या कठिन हो, रास्ते हमेशा पैरों के नीचे ही होते हैं।
    मंज़िलें चाहे कितनी भी ऊँची या कठिन हो, रास्ते हमेशा पैरों के नीचे ही होते हैं।